क्या महिलाएँ पुरुषों की तुलना में जयादा त्यागशील होती हैं? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखेगी एक सोच है यह एक इंडिविजुअल की तो सो सकते एक शामली की सोच हो सकती है एक कम्यूनिटी की सोच हो सकती है एक रिलिजन की सोच हो सकती है लेकिन ऐसा नहीं है कि आप इन दोनों में से कोई भी ज्यादा हो सकता है या कम हो सकता है बेसिकली हमारे बैकग्राउंड पर डिपेंड करता है मेरे अभिनीत पर डिपेंड करता है हमारे जो माता-पिता ने हमें क्या शिक्षा दी है उस पर डिपेंड करता है हम भी लाइफ में क्या सिखाए उस पर डिपेंड करता है तो हमें नहीं कह सकते के दोनों में कौन हु इज मोर सैक्रिफाइस है लेकिन हां जो औरतें हैं वह ज्यादा इन्हेरेंटली एट्यून्ड है सत्र पाइजिंग नेचर कि कल सुबह आद्यार विमेन डे बिकम मदर्सन क्वालिटी है इस गिविंग उनका क्या होता है कि अगर वह देते हैं तो वह थोड़ा उनका एक मैसेज देदो आउटलुक मतलब यह गिविंग नेचर है जो फीमेल से उनका तो उस हिसाब से हम कह सकते हैं कि जो औरतें हैं वह जरा तहसील होती है बाय नेचर मतलब नॉट ऑल अपडेट कई कई हद तक के सही है यह बात लेकिन आफ ए मैन भी है ऐसे बदली है जो चर्चील होते हैं और उनको भी समाज में बहुत ही तकलीफ देना पड़ता है बिल्कुल उनको और औरत के रूप में उनको पेश किया जाता है उनको तंग किया जाता है कि तुम औरतों जैसे हो तो लड़की जैसा है बगैरा बगैरा उनको समाज में जीने की जो इच्छा हो तो उनका जो सम्मान होता है उस को ठेस पहुंचता है अगर एक आदमी जो है वह गिविंग होता है त्याग फील होता है तो उसको कंपैरिजन करते हैं औरत के साथ जो गलत है तो मेरे हिसाब से क्या खिलौना कोई गलत बात नहीं है कोई भी हो सकता है एक वेलकम ज्यादा इन ऑल डिपेंड्स ओं लर्निंग सेव लाइफ या बैकग्राउंड एंड कल्चर
Romanized Version
दिखेगी एक सोच है यह एक इंडिविजुअल की तो सो सकते एक शामली की सोच हो सकती है एक कम्यूनिटी की सोच हो सकती है एक रिलिजन की सोच हो सकती है लेकिन ऐसा नहीं है कि आप इन दोनों में से कोई भी ज्यादा हो सकता है या कम हो सकता है बेसिकली हमारे बैकग्राउंड पर डिपेंड करता है मेरे अभिनीत पर डिपेंड करता है हमारे जो माता-पिता ने हमें क्या शिक्षा दी है उस पर डिपेंड करता है हम भी लाइफ में क्या सिखाए उस पर डिपेंड करता है तो हमें नहीं कह सकते के दोनों में कौन हु इज मोर सैक्रिफाइस है लेकिन हां जो औरतें हैं वह ज्यादा इन्हेरेंटली एट्यून्ड है सत्र पाइजिंग नेचर कि कल सुबह आद्यार विमेन डे बिकम मदर्सन क्वालिटी है इस गिविंग उनका क्या होता है कि अगर वह देते हैं तो वह थोड़ा उनका एक मैसेज देदो आउटलुक मतलब यह गिविंग नेचर है जो फीमेल से उनका तो उस हिसाब से हम कह सकते हैं कि जो औरतें हैं वह जरा तहसील होती है बाय नेचर मतलब नॉट ऑल अपडेट कई कई हद तक के सही है यह बात लेकिन आफ ए मैन भी है ऐसे बदली है जो चर्चील होते हैं और उनको भी समाज में बहुत ही तकलीफ देना पड़ता है बिल्कुल उनको और औरत के रूप में उनको पेश किया जाता है उनको तंग किया जाता है कि तुम औरतों जैसे हो तो लड़की जैसा है बगैरा बगैरा उनको समाज में जीने की जो इच्छा हो तो उनका जो सम्मान होता है उस को ठेस पहुंचता है अगर एक आदमी जो है वह गिविंग होता है त्याग फील होता है तो उसको कंपैरिजन करते हैं औरत के साथ जो गलत है तो मेरे हिसाब से क्या खिलौना कोई गलत बात नहीं है कोई भी हो सकता है एक वेलकम ज्यादा इन ऑल डिपेंड्स ओं लर्निंग सेव लाइफ या बैकग्राउंड एंड कल्चरDikhegee Ek Soch Hai Yeh Ek Imdividual Ki To So Sakte Ek Shamli Ki Soch Ho Sakti Hai Ek Community Ki Soch Ho Sakti Hai Ek Religion Ki Soch Ho Sakti Hai Lekin Aisa Nahin Hai Qi Aap In Donon Mein Se Koi Bhi Jyada Ho Sakta Hai Ya Come Ho Sakta Hai Basically Hamare Baikagraund Per Depend Karata Hai Mere Abhineet Per Depend Karata Hai Hamare Joe Mata Pita Ne Human Kya Shiksha They Hai Oosh Per Depend Karata Hai Hum Bhi Life Mein Kya Sikhaye Oosh Per Depend Karata Hai To Human Nahin Keh Sakte K Donon Mein Kaun Who Is More Sacrifice Hai Lekin Han Joe Ortan Hain Wah Jyada Inherentali Etyund Hai Satra Paijing Nature Qi Kal Subeha Adyar Vimen Day Become Madarsan Quality Hai Is Giving Unka Kya Hota Hai Qi Agar Wah Dete Hain To Wah Thoda Unka Ek Maisej Dedo Autaluk Matlab Yeh Giving Nature Hai Joe Fimel Se Unka To Oosh Hisaab Se Hum Keh Sakte Hain Qi Joe Ortan Hain Wah Zara Tehsil Hoti Hai By Nature Matlab Not All Update Kai Kai Hada Tak K Sahi Hai Yeh Baat Lekin Af A Man Bhi Hai Aise Badli Hai Joe Charchil Hote Hain Aur Unko Bhi Samaj Mein Bahut Hea Taklif Dena Padata Hai Bilkool Unko Aur Aurat K Roop Mein Unko Pesh Kiya Jaata Hai Unko Tang Kiya Jaata Hai Qi Tum Orton Jaise Ho To Ladaki Jaisa Hai Bagaira Bagaira Unko Samaj Mein Jeene Ki Joe Ichha Ho To Unka Joe Samman Hota Hai Oosh Co Tthes Pahunchata Hai Agar Ek Aadmi Joe Hai Wah Giving Hota Hai Tyag Feel Hota Hai To Usko Kampairijan Karte Hain Aurat K Sathe Joe Galat Hai To Mere Hisaab Se Kya Khilauna Koi Galat Baat Nahin Hai Koi Bhi Ho Sakta Hai Ek Welcome Jyada In All Depends On Learning Save Life Ya Baikagraund End Culture
Likes  16  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

जब महिलाएं अधिकार के पद पर बैठती हैं तो पुरुषों को इससे खुशी क्यों नहीं होती? ...

भोजपुरी सोता है जो महिलाओं को ऊंचे पद प्रत्येक के नीचे पद पर होते हैं तो उन्हें थोड़ा इगो हर्ट होता है या जलन होती लेकिन ज्यादातर पुरुष ऐसे नहीं होते आज के जमाने में सभी समझते हैं कि महिलाओं को भी बराजवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लाइफ के अंदर कहा जाता है कि ह्यूमन बॉडी हमेशा से करते हैं अपने बच्चों के लिए अपने पैरंट्स के लिए अपने पति के लिए एक जैसी नहीं होती है कोई मेरी गलत होती है कोई अलग होती हम सबको कंपेयर नहीं कर सकते लेकिन कॉलोनी डिपेंड करता है पर्टिकुलर एक औरत के ऊपर बैठे किया जा रहा है हम अपने अपने कैटेगरी के अनुसार अपना अपना जो बिक्री फाइव का दर्जा होते हैं तो यह किसी के ऊपर हम अमल नहीं कर सकते कि सब के ऊपर से औरत के ऊपर जो बिक्री टाइप कर रही हो कि नहीं करती है जो अपनी बीवी के लिए बहुत कुछ करते हैं बच्चों के लिए भी बहुत कुछ करते हैं लेकिन उनको वह दर्जा नहीं दिया जाता है कि सभी लेडीस लोग ही अच्छी होती है सभी लड़कियों बुरी होती है अग्नि-5 करती हो कि लाइफ में या नहीं करती
लाइफ के अंदर कहा जाता है कि ह्यूमन बॉडी हमेशा से करते हैं अपने बच्चों के लिए अपने पैरंट्स के लिए अपने पति के लिए एक जैसी नहीं होती है कोई मेरी गलत होती है कोई अलग होती हम सबको कंपेयर नहीं कर सकते लेकिन कॉलोनी डिपेंड करता है पर्टिकुलर एक औरत के ऊपर बैठे किया जा रहा है हम अपने अपने कैटेगरी के अनुसार अपना अपना जो बिक्री फाइव का दर्जा होते हैं तो यह किसी के ऊपर हम अमल नहीं कर सकते कि सब के ऊपर से औरत के ऊपर जो बिक्री टाइप कर रही हो कि नहीं करती है जो अपनी बीवी के लिए बहुत कुछ करते हैं बच्चों के लिए भी बहुत कुछ करते हैं लेकिन उनको वह दर्जा नहीं दिया जाता है कि सभी लेडीस लोग ही अच्छी होती है सभी लड़कियों बुरी होती है अग्नि-5 करती हो कि लाइफ में या नहीं करती
Likes  11  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह देखिए पूरी तरह से निर्भर करता है महिला या पुरुष के स्वभाव पर पर हां आमतौर पर देखा जाता है कि जो महिलाएं हैं वह पुरुषों के मुकाबले ज्यादा त्याग फील होती हैं क्योंकि जो महिलाएं होती हैं वह बहुत ही परिवार से जुड़ी होती हैं बहुत इमोशनल होती है इसीलिए वह खुद की खुशी के ऊपर अपने परिवार या अपने परिजन या जिनसे वह प्यार करती हैं उनकी खुशी को रखती हैं तो हम आमतौर पर अपने घर में यह भी देखें हैं अपनी मां को की
Romanized Version
यह देखिए पूरी तरह से निर्भर करता है महिला या पुरुष के स्वभाव पर पर हां आमतौर पर देखा जाता है कि जो महिलाएं हैं वह पुरुषों के मुकाबले ज्यादा त्याग फील होती हैं क्योंकि जो महिलाएं होती हैं वह बहुत ही परिवार से जुड़ी होती हैं बहुत इमोशनल होती है इसीलिए वह खुद की खुशी के ऊपर अपने परिवार या अपने परिजन या जिनसे वह प्यार करती हैं उनकी खुशी को रखती हैं तो हम आमतौर पर अपने घर में यह भी देखें हैं अपनी मां को कीYeh Dekhiye Poori Turha Se Nirbhar Karata Hai Mahila Ya Purush K Swabhav Per Per Han Aamtaur Per Dekha Jaata Hai Qi Joe Mahilaen Hain Wah Purushon K Mukabale Jyada Tyag Feel Hoti Hain Kyonki Joe Mahilaen Hoti Hain Wah Bahut Hea Parivar Se Judi Hoti Hain Bahut Emotional Hoti Hai Isiliye Wah Khud Ki Khushi K Upar Apne Parivar Ya Apne Parijan Ya Jinse Wah Pyaar Karti Hain Unki Khushi Co Rakhti Hain To Hum Aamtaur Per Apne Ghar Mein Yeh Bhi Dekhe Hain Apni Man Co Ki
Likes  2  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां मेरा मानना है कि महिलाएं जो है पुरुषों के माध्यम से ज्यादा आकर्षित होती हैं क्योंकि वह हमारे जीवन में कई सारे महत्वपूर्ण किरदार को निभाती है चाहे वह एक मां का किरदार हो चाहे वह एक बिटिया किरदार हो वह चाहे वह बुजुर्ग वहां होने होकर एक एक मार्गदर्शक जिसे हम कहते हैं जो हमारे रिश्ते में जितना माया दादी भी कहते हैं तो बच्चों के लिए बस मार्गदर्शक होती हैं और उन्होंने हम से ज्यादा दुनिया देखी होती है वह हमसे ज्यादा समाजिक समाजिक होती है दिमाग हो तो तो वह जो है पुरुषों से ज्यादा एक तरीके से क्या चीज होती है महिलाओं को ही हमारे हमसे ज्यादा करने पड़ते हैं फिर चाहे वह बचपन में यदि वह एक बेटी की तरफ अपने घर में रहती हो तो फिर उसे विदा होकर जो एक बहू का भी कितना निभाना पड़ता है पड़ता है और एक मैं तो अपने बेटों के लिए कुछ भी काम करने को तैयार हो जाती है कोई भी क्या खाने को तैयार होती है तो मेरा मानना है कि महिलाएं जो है वह पुरुषों से ज्यादा क्या चीज होती हैं और इसका एक तरफ यह भी है कि जब कोई भी महत्वपूर्ण
Romanized Version
जी हां मेरा मानना है कि महिलाएं जो है पुरुषों के माध्यम से ज्यादा आकर्षित होती हैं क्योंकि वह हमारे जीवन में कई सारे महत्वपूर्ण किरदार को निभाती है चाहे वह एक मां का किरदार हो चाहे वह एक बिटिया किरदार हो वह चाहे वह बुजुर्ग वहां होने होकर एक एक मार्गदर्शक जिसे हम कहते हैं जो हमारे रिश्ते में जितना माया दादी भी कहते हैं तो बच्चों के लिए बस मार्गदर्शक होती हैं और उन्होंने हम से ज्यादा दुनिया देखी होती है वह हमसे ज्यादा समाजिक समाजिक होती है दिमाग हो तो तो वह जो है पुरुषों से ज्यादा एक तरीके से क्या चीज होती है महिलाओं को ही हमारे हमसे ज्यादा करने पड़ते हैं फिर चाहे वह बचपन में यदि वह एक बेटी की तरफ अपने घर में रहती हो तो फिर उसे विदा होकर जो एक बहू का भी कितना निभाना पड़ता है पड़ता है और एक मैं तो अपने बेटों के लिए कुछ भी काम करने को तैयार हो जाती है कोई भी क्या खाने को तैयार होती है तो मेरा मानना है कि महिलाएं जो है वह पुरुषों से ज्यादा क्या चीज होती हैं और इसका एक तरफ यह भी है कि जब कोई भी महत्वपूर्णG Han Mera Manna Hai Qi Mahilaen Joe Hai Purushon K Maadhyam Se Jyada Akarshit Hoti Hain Kyonki Wah Hamare Jeevan Mein Kai Saare Mahatvapoorn Kirdaar Co Nibhati Hai Chahe Wah Ek Man Ka Kirdaar Ho Chahe Wah Ek Bitiya Kirdaar Ho Wah Chahe Wah Bujurg Vahan Hone Hokra Ek Ek Margadarshak Jise Hum Kehte Hain Joe Hamare Rishte Mein Jitna Maya Dadi Bhi Kehte Hain To Bachcho K Lie Bus Margadarshak Hoti Hain Aur Unhonne Hum Se Jyada Duniya Dekhi Hoti Hai Wah Humse Jyada Samajik Samajik Hoti Hai Dimag Ho To To Wah Joe Hai Purushon Se Jyada Ek Tarike Se Kya Chij Hoti Hai Mahilao Co Hea Hamare Humse Jyada Karne Padate Hain Phir Chahe Wah Bachpan Mein Yadi Wah Ek Beti Ki Tarf Apne Ghar Mein Rehti Ho To Phir Usse Vida Hokra Joe Ek Bahu Ka Bhi Kitna Nibhaana Padata Hai Padata Hai Aur Ek Main To Apne Betown K Lie Kuch Bhi Kama Karne Co Taiyaar Ho Jaati Hai Koi Bhi Kya Khaane Co Taiyaar Hoti Hai To Mera Manna Hai Qi Mahilaen Joe Hai Wah Purushon Se Jyada Kya Chij Hoti Hain Aur Iska Ek Tarf Yeh Bhi Hai Qi Jab Koi Bhi Mahatvapoorn
Likes  68  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए पुरुष अपने स्थान पर जिलाध्यक्ष सील है और महिलाएं अपने स्थान पर जाना टैक्सी है अब मान लीजिए कि घर के सदस्य होती है महिलाएं कि वह चाहे तो घर को बना सकते हैं बिगड़ सकती बिगाड़ सकती है ऐसे में कहा जा सकता है कि अगर महिलाएं त्याग नहीं करेंगे तो घर मतलब इतने सुचारू रूप से तो नहीं चलेगा पुरुष भी तैयार होते हैं उनको तो
देखिए पुरुष अपने स्थान पर जिलाध्यक्ष सील है और महिलाएं अपने स्थान पर जाना टैक्सी है अब मान लीजिए कि घर के सदस्य होती है महिलाएं कि वह चाहे तो घर को बना सकते हैं बिगड़ सकती बिगाड़ सकती है ऐसे में कहा जा सकता है कि अगर महिलाएं त्याग नहीं करेंगे तो घर मतलब इतने सुचारू रूप से तो नहीं चलेगा पुरुष भी तैयार होते हैं उनको तो
Likes  12  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बात बिल्कुल सही है कि महिलाएं पुरुषों की तुलना में ज्यादा त्याग सील होती हैं हालांकि कुछ एक्सेप्टेंस बिल्कुल हो सकते हैं जहां पर पूर्व ज्यादा त्याग शील होंगे लेकिन ज्यादातर अगर हम देखें तो महिलाएं ही ज्यादा सैक्रिफाइस करती हैं अगर हम एग्जांपल के तौर पर देखेगी जब किसी लड़की की शादी होती है तो वह अपना घर अपने परिवार को त्याग करके अपने पति के घर आ जाती है यानी कि अपने ससुराल चली जाती है अगर कोई महिला जॉब करती है तो वह अपना जो सारा समय है वह अपने काम पर अपने बच्चों पर और अपने परिवार पर देती है तो यह भी एक तरह का सैक्रिफाइस ही है कि वह अपने लिए नहीं सोचती है और अपने परिवार की खुशियों के बारे में ज्यादा चिंतित रहती है अगर हम अपनी मां के बारे में सोचें तो सभी चीजें पता चल जाएगी कि कौन ज्यादा सैक्रिफाइस करता है क्योंकि हमारी जो मां होती है वह हर एक चीज में अपनी खुशियों का त्याग करती है और यही चाहती हैं कि हमारे जो बच्चे हैं वह
Romanized Version
यह बात बिल्कुल सही है कि महिलाएं पुरुषों की तुलना में ज्यादा त्याग सील होती हैं हालांकि कुछ एक्सेप्टेंस बिल्कुल हो सकते हैं जहां पर पूर्व ज्यादा त्याग शील होंगे लेकिन ज्यादातर अगर हम देखें तो महिलाएं ही ज्यादा सैक्रिफाइस करती हैं अगर हम एग्जांपल के तौर पर देखेगी जब किसी लड़की की शादी होती है तो वह अपना घर अपने परिवार को त्याग करके अपने पति के घर आ जाती है यानी कि अपने ससुराल चली जाती है अगर कोई महिला जॉब करती है तो वह अपना जो सारा समय है वह अपने काम पर अपने बच्चों पर और अपने परिवार पर देती है तो यह भी एक तरह का सैक्रिफाइस ही है कि वह अपने लिए नहीं सोचती है और अपने परिवार की खुशियों के बारे में ज्यादा चिंतित रहती है अगर हम अपनी मां के बारे में सोचें तो सभी चीजें पता चल जाएगी कि कौन ज्यादा सैक्रिफाइस करता है क्योंकि हमारी जो मां होती है वह हर एक चीज में अपनी खुशियों का त्याग करती है और यही चाहती हैं कि हमारे जो बच्चे हैं वहYeh Baat Bilkool Sahi Hai Qi Mahilaen Purushon Ki Tulna Mein Jyada Tyag Seal Hoti Hain Halanki Kuch Ekseptens Bilkool Ho Sakte Hain Jhan Per Purva Jyada Tyag Sheela Honge Lekin Jyadatar Agar Hum Dekhe To Mahilaen Hea Jyada Sacrifice Karti Hain Agar Hum Egjampal K Taur Per Dekhegi Jab Kisi Ladaki Ki Shadi Hoti Hai To Wah Apna Ghar Apne Parivar Co Tyag Karake Apne Pati K Ghar Aa Jaati Hai Yaanee Qi Apne Sasural Chali Jaati Hai Agar Koi Mahila Job Karti Hai To Wah Apna Joe Saara Samay Hai Wah Apne Kama Per Apne Bachcho Per Aur Apne Parivar Per Deti Hai To Yeh Bhi Ek Turha Ka Sacrifice Hea Hai Qi Wah Apne Lie Nahin Sochti Hai Aur Apne Parivar Ki Khushiyon K Baare Mein Jyada Chintit Rehti Hai Agar Hum Apni Man K Baare Mein Soochan To Sabhi Chijen Patta Chal Jaaegi Qi Kaun Jyada Sacrifice Karata Hai Kyonki Hamari Joe Man Hoti Hai Wah Her Ek Chij Mein Apni Khushiyon Ka Tyag Karti Hai Aur Yahi Chahti Hain Qi Hamare Joe Bacche Hain Wah
Likes  17  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी बिल्कुल भी देखा गया है कि महिलाएं पुरुषों के कंपैरिजन में थोड़ी ज्यादा सेक्सी होती हैं बट मुझे ऐसा लगता है कि ऐसा नहीं है जितना त्याग महिलाएं करती है उतना ही पुरुष भी करते हैं जैसे कि महिलाओं को साथ दिख जाता है जो कि अपने घर को छोड़ कर के किसी के घर आना उनकी फैमिली को अपनी फैमिली समझना और उस बीच में बैलेंस क्रिएट करना अभी तो बहुत कुछ है जो कि त्याग का यहां पर मुहूर्त कहा जाएगा लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि पुरुष याद नहीं करते वह भी बहुत प्यार करते हैं उनके पास भी बहुत कुछ होता है जैसे कि अपनी खुशियों को मारना अपने परिवार के लिए उनके लिए सब कुछ करना आप पहले अपने परिवार को रखना उनके लिए कमाना हिसाब से घर पैसे लेकर के आना है उसके लिए कितने झूठ कितना कुछ करना पड़ता है उन लोगों को हम जब आप बन जाते हैं तो अपने बच्चों के लिए सब कुछ करना हर एक जगह अपने आप को पीछे रखे अपने परिवार को आगे रखना सबसे पहले शॉपिंग तक होती है तो पहले पूरे घर भर के कपड़े और सामान बगैर आता है उसकी
Romanized Version
जी बिल्कुल भी देखा गया है कि महिलाएं पुरुषों के कंपैरिजन में थोड़ी ज्यादा सेक्सी होती हैं बट मुझे ऐसा लगता है कि ऐसा नहीं है जितना त्याग महिलाएं करती है उतना ही पुरुष भी करते हैं जैसे कि महिलाओं को साथ दिख जाता है जो कि अपने घर को छोड़ कर के किसी के घर आना उनकी फैमिली को अपनी फैमिली समझना और उस बीच में बैलेंस क्रिएट करना अभी तो बहुत कुछ है जो कि त्याग का यहां पर मुहूर्त कहा जाएगा लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि पुरुष याद नहीं करते वह भी बहुत प्यार करते हैं उनके पास भी बहुत कुछ होता है जैसे कि अपनी खुशियों को मारना अपने परिवार के लिए उनके लिए सब कुछ करना आप पहले अपने परिवार को रखना उनके लिए कमाना हिसाब से घर पैसे लेकर के आना है उसके लिए कितने झूठ कितना कुछ करना पड़ता है उन लोगों को हम जब आप बन जाते हैं तो अपने बच्चों के लिए सब कुछ करना हर एक जगह अपने आप को पीछे रखे अपने परिवार को आगे रखना सबसे पहले शॉपिंग तक होती है तो पहले पूरे घर भर के कपड़े और सामान बगैर आता है उसकीG Bilkool Bhi Dekha Gaya Hai Qi Mahilaen Purushon K Kampairijan Mein Thodi Jyada Sexy Hoti Hain But Mujhe Aisa Lagta Hai Qi Aisa Nahin Hai Jitna Tyag Mahilaen Karti Hai Utana Hea Purush Bhi Karte Hain Jaise Qi Mahilao Co Sathe Dikh Jaata Hai Joe Qi Apne Ghar Co Chod Car K Kisi K Ghar Aana Unki Family Co Apni Family Samajhanaa Aur Oosh Beach Mein Bailens Create Krna Abhi To Bahut Kuch Hai Joe Qi Tyag Ka Yahaan Per Muhurta Kaha Jaaegaa Lekin Iska Matlab Yeh Nahin Hai Qi Purush Youth Nahin Karte Wah Bhi Bahut Pyaar Karte Hain Unke Pass Bhi Bahut Kuch Hota Hai Jaise Qi Apni Khushiyon Co Maarna Apne Parivar K Lie Unke Lie Sub Kuch Krna Aap Pehle Apne Parivar Co Rakhna Unke Lie Kumana Hisaab Se Ghar Paise Lycra K Aana Hai Uske Lie Kitne Jhuth Kitna Kuch Krna Padata Hai Un Logon Co Hum Jab Aap Bun Jaate Hain To Apne Bachcho K Lie Sub Kuch Krna Her Ek Jagah Apne Aap Co Pichhe Rakhe Apne Parivar Co Aage Rakhna Sabse Pehle Shopping Tak Hoti Hai To Pehle Poore Ghar Bhora K Kapade Aur Saamaan Bagair Aata Hai Uski
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसका जवाब सभी जानते हैं ऑफिस में महिलाएं ज्यादा साथ सेक्स करती है आप देखो और जिस मुंह में से एक इश्क एक वह मन का शादी होता है उस मुंह में से वह सैक्रिफाइस करना शुरु कर देती है वह अपना घर साफ सफाई करती अपना स्वर्णिम साथ सेक्स करती है अपना सपना कई बार कई लड़कियां कहीं भी मिल अपना सपना भी त्याग कर अपने पति के सहारे जीती है जैसा पति का फैमिली बोलता है जैसा पति बोलते हैं वैसे और जीती है और हर चीज खाकर खास करके जीती है बिना कंप्लेंट किए हुए अग्रसेन की जगह एक पुरुष से बोलो क्या करने के लिए उनको बहुत ज्यादा दाऊद पुर रहता है उनको ज्यादा है सेटिंग फ्री रहती है बट फीमेल को नहीं होती है वह रेडी रहती है क्योंकि उनको पता है अगर वह सही काम कर रही है तो वह क्या करने के लिए रेडी रहती है अगर कुछ नहीं रखते उनको तो अभी मैं तो बोलूंगी कि ज्यादा
Romanized Version
इसका जवाब सभी जानते हैं ऑफिस में महिलाएं ज्यादा साथ सेक्स करती है आप देखो और जिस मुंह में से एक इश्क एक वह मन का शादी होता है उस मुंह में से वह सैक्रिफाइस करना शुरु कर देती है वह अपना घर साफ सफाई करती अपना स्वर्णिम साथ सेक्स करती है अपना सपना कई बार कई लड़कियां कहीं भी मिल अपना सपना भी त्याग कर अपने पति के सहारे जीती है जैसा पति का फैमिली बोलता है जैसा पति बोलते हैं वैसे और जीती है और हर चीज खाकर खास करके जीती है बिना कंप्लेंट किए हुए अग्रसेन की जगह एक पुरुष से बोलो क्या करने के लिए उनको बहुत ज्यादा दाऊद पुर रहता है उनको ज्यादा है सेटिंग फ्री रहती है बट फीमेल को नहीं होती है वह रेडी रहती है क्योंकि उनको पता है अगर वह सही काम कर रही है तो वह क्या करने के लिए रेडी रहती है अगर कुछ नहीं रखते उनको तो अभी मैं तो बोलूंगी कि ज्यादाIska Jawab Sabhi Jante Hain Office Mein Mahilaen Jyada Sathe Sex Karti Hai Aap Dekho Aur Jisha Munh Mein Se Ek Ishq Ek Wah Mana Ka Shadi Hota Hai Oosh Munh Mein Se Wah Sacrifice Krna Shuru Car Deti Hai Wah Apna Ghar Saf Safai Karti Apna Swarnim Sathe Sex Karti Hai Apna Sapna Kai Bar Kai Ladkiyan Kahin Bhi Mill Apna Sapna Bhi Tyag Car Apne Pati K Sahare Jeeti Hai Jaisa Pati Ka Family Bolta Hai Jaisa Pati Bolte Hain Vaise Aur Jeeti Hai Aur Her Chij Khakara Khas Karake Jeeti Hai Binaa Complaint Kiye Huye Agrasen Ki Jagah Ek Purush Se Bolo Kya Karne K Lie Unko Bahut Jyada Daud Pura Rehta Hai Unko Jyada Hai Setting Free Rehti Hai But Fimel Co Nahin Hoti Hai Wah Ready Rehti Hai Kyonki Unko Patta Hai Agar Wah Sahi Kama Car Rahi Hai To Wah Kya Karne K Lie Ready Rehti Hai Agar Kuch Nahin Rakhate Unko To Abhi Main To Bolungi Qi Jyada
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सोचना भी नहीं पड़ रहा है कि अगर पुरुषों के कम 12 दिन के अंदर तो महिलाएं होती हैं वह तहसील होती हैं अपने सरनेम से लेकर अपने घर से लेकर वह हर चीज त्याग कर देते हैं जिन लोगों से वह प्यार करती है अगर हम देखें तो मुझे यह तो कोई भी पुरुष एक महिला के लिए जिसको इतने ज्यादा समय से जानता भी ना उसके लिए अपना परिवार छोड़ सके पर यहीं पर यह जीत है कि हर महिला और शादी के लिए अपना घर छोड़ दिया जिस घर में वह पली-बढ़ी हो मुझे तो थॉट भी बहुत ज्यादा डिस्टर्ब विनती है जिस घर में आप पूरे समय आप रहे हो आप उसको कैसे किसी के लिए छोड़ सकते हो उसी के बाद आपको सिर्फ छोड़ना नहीं आपको दूसरे घर में जाना और दूसरे घर को अपनाना है और उस घर को उतना ही प्यार देना जितना आप ने अपने पहले घर को दिया है तो यह चीज बहुत जितना मैं शाम सुनने में लगती है उतना होती नहीं है वहीं पर अगर आपको अपने बच्चों के लिए देखा जाए तो जो महिलाएं होती हैं वह हर चीज आपके पास कर देती अपने बच्चों के लिए अपने परिवार के लिए अपने परिवार को एक साथ देखने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं और
Romanized Version
सोचना भी नहीं पड़ रहा है कि अगर पुरुषों के कम 12 दिन के अंदर तो महिलाएं होती हैं वह तहसील होती हैं अपने सरनेम से लेकर अपने घर से लेकर वह हर चीज त्याग कर देते हैं जिन लोगों से वह प्यार करती है अगर हम देखें तो मुझे यह तो कोई भी पुरुष एक महिला के लिए जिसको इतने ज्यादा समय से जानता भी ना उसके लिए अपना परिवार छोड़ सके पर यहीं पर यह जीत है कि हर महिला और शादी के लिए अपना घर छोड़ दिया जिस घर में वह पली-बढ़ी हो मुझे तो थॉट भी बहुत ज्यादा डिस्टर्ब विनती है जिस घर में आप पूरे समय आप रहे हो आप उसको कैसे किसी के लिए छोड़ सकते हो उसी के बाद आपको सिर्फ छोड़ना नहीं आपको दूसरे घर में जाना और दूसरे घर को अपनाना है और उस घर को उतना ही प्यार देना जितना आप ने अपने पहले घर को दिया है तो यह चीज बहुत जितना मैं शाम सुनने में लगती है उतना होती नहीं है वहीं पर अगर आपको अपने बच्चों के लिए देखा जाए तो जो महिलाएं होती हैं वह हर चीज आपके पास कर देती अपने बच्चों के लिए अपने परिवार के लिए अपने परिवार को एक साथ देखने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं औरSochna Bhi Nahin Pad Raha Hai Qi Agar Purushon K Come 12 Din K Andorra To Mahilaen Hoti Hain Wah Tehsil Hoti Hain Apne Surname Se Lycra Apne Ghar Se Lycra Wah Her Chij Tyag Car Dete Hain Jean Logon Se Wah Pyaar Karti Hai Agar Hum Dekhe To Mujhe Yeh To Koi Bhi Purush Ek Mahila K Lie Jisko Itne Jyada Samay Se Jaanta Bhi Na Uske Lie Apna Parivar Chod Skye Per Yahiin Per Yeh Jeet Hai Qi Her Mahila Aur Shadi K Lie Apna Ghar Chod Diya Jisha Ghar Mein Wah Pali Badhi Ho Mujhe To Thought Bhi Bahut Jyada Disturb Vinti Hai Jisha Ghar Mein Aap Poore Samay Aap Rahe Ho Aap Usko Kaise Kisi K Lie Chod Sakte Ho Ussi K Baad Aapko Sirf Chodna Nahin Aapko Dusre Ghar Mein Jaana Aur Dusre Ghar Co Apnana Hai Aur Oosh Ghar Co Utana Hea Pyaar Dena Jitna Aap Ne Apne Pehle Ghar Co Diya Hai To Yeh Chij Bahut Jitna Main Sham Sunane Mein Lagati Hai Utana Hoti Nahin Hai Vahin Per Agar Aapko Apne Bachcho K Lie Dekha Jae To Joe Mahilaen Hoti Hain Wah Her Chij Aapke Pass Car Deti Apne Bachcho K Lie Apne Parivar K Lie Apne Parivar Co Ek Sathe Dakhane K Lie Kisi Bhi Hada Tak Ja Sakte Hain Aur
Likes  3  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी हां देखना जरूर समझता हूं जितना मैंने पी नहीं है जितनी हमारी मां है और जितने भी बहने होती है या परिवार में जितने भी औरतें होती है वह ज्यादा प्यार करती है आज कंपेयर टू पुरुषों से अशोक तुलना की जाए उनके त्याग जो है बहुत ज्यादा करती अपने जीवन में और जो है वह हमारी खुशी के लिए अपनी फैमिली बचाने के लिए और अपने परिवार को छोड़कर आती है एक नई फैमिली के साथ रहती है फिर हमारी खुशी है पता नहीं क्या-क्या त्याग देती और अच्छे अच्छे खाने हमारा रहन सहन देखिए कि उसमें कोई कमी ना रहे भले ही भले ही उनके लिए जो है वह कपड़ा ना आए लेकिन हमारे लिए जो है वह कपड़ा जरूर आएगा वह दिन आएंगे तो मैं समझता हूं कि कल त्याग करने की शक्ति उम्र में ज्यादा होती है और सहन करने के लिए क्योंकि जब बीमार होते हुए जो है मेरी मां खाना बना लेती है
Romanized Version
हां जी हां देखना जरूर समझता हूं जितना मैंने पी नहीं है जितनी हमारी मां है और जितने भी बहने होती है या परिवार में जितने भी औरतें होती है वह ज्यादा प्यार करती है आज कंपेयर टू पुरुषों से अशोक तुलना की जाए उनके त्याग जो है बहुत ज्यादा करती अपने जीवन में और जो है वह हमारी खुशी के लिए अपनी फैमिली बचाने के लिए और अपने परिवार को छोड़कर आती है एक नई फैमिली के साथ रहती है फिर हमारी खुशी है पता नहीं क्या-क्या त्याग देती और अच्छे अच्छे खाने हमारा रहन सहन देखिए कि उसमें कोई कमी ना रहे भले ही भले ही उनके लिए जो है वह कपड़ा ना आए लेकिन हमारे लिए जो है वह कपड़ा जरूर आएगा वह दिन आएंगे तो मैं समझता हूं कि कल त्याग करने की शक्ति उम्र में ज्यादा होती है और सहन करने के लिए क्योंकि जब बीमार होते हुए जो है मेरी मां खाना बना लेती हैHan G Han Dekhna Jarur Samajhataa Hoon Jitna Maine P Nahin Hai Jitni Hamari Man Hai Aur Jitne Bhi Bahne Hoti Hai Ya Parivar Mein Jitne Bhi Ortan Hoti Hai Wah Jyada Pyaar Karti Hai Aj Kampeyar Two Purushon Se Ashok Tulna Ki Jae Unke Tyag Joe Hai Bahut Jyada Karti Apne Jeevan Mein Aur Joe Hai Wah Hamari Khushi K Lie Apni Family Bachaane K Lie Aur Apne Parivar Co Chodakar Auti Hai Ek Nai Family K Sathe Rehti Hai Phir Hamari Khushi Hai Patta Nahin Kya Kya Tyag Deti Aur Achchhe Achchhe Khaane Hamara Rahan Shahan Dekhiye Qi Usme Koi Kami Na Rahe Bhale Hea Bhale Hea Unke Lie Joe Hai Wah Kapada Na Ae Lekin Hamare Lie Joe Hai Wah Kapada Jarur Aega Wah Din Aenge To Main Samajhataa Hoon Qi Kal Tyag Karne Ki Shakti Umra Mein Jyada Hoti Hai Aur Shahan Karne K Lie Kyonki Jab Bimaar Hote Huye Joe Hai Meri Man Khana Banna Leti Hai
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए डिबेट बहुत टाइम से चले आ रहा है हमें चाहिए डिबेट रह जाए कि महिलाएं ज्यादा तहसील होती है या पुरुष महिलाएं ज्यादा सहनशील होते हैं या पुरुष और कोई इसका आज तक जवाब नहीं मिल पाए जिसको लेकर हर कोई संतुष्ट हो रीजन भी दोनों जो महिला पुरुष होती है दोनों ही तैयार करते हैं दोनों ही अपने परिवार को अपनी फैमिली को खुश रखने के लिए क्या करते हैं हम महिलाओं के पाठ पर थोड़ा कुछ प्रश्न ज्यादा होता है क्योंकि वह अपने घर छोड़कर आगे चलती अपने बच्चों के लिए अपने पति के लिए अपनी सारी खुशी होती है भाई पुरुष भी यह सब करते हैं तो सिर्फ यह कहना कि महिलाएं ही औरतों त्याग करते हैं महिलाएं ज्यादा सेक्सी होती है पुरुष नहीं वह गलत हो क्योंकि मैंने बहुत सारे पुरुषों से देखे हैं जो अपने परिवार के लिए अपनी खुशी को साइड में रख देते हैं अपनी पत्नी अपने बच्चों के लिए अपनी खुशियों को छोड़ देते हैं महिलाएं
Romanized Version
देखिए डिबेट बहुत टाइम से चले आ रहा है हमें चाहिए डिबेट रह जाए कि महिलाएं ज्यादा तहसील होती है या पुरुष महिलाएं ज्यादा सहनशील होते हैं या पुरुष और कोई इसका आज तक जवाब नहीं मिल पाए जिसको लेकर हर कोई संतुष्ट हो रीजन भी दोनों जो महिला पुरुष होती है दोनों ही तैयार करते हैं दोनों ही अपने परिवार को अपनी फैमिली को खुश रखने के लिए क्या करते हैं हम महिलाओं के पाठ पर थोड़ा कुछ प्रश्न ज्यादा होता है क्योंकि वह अपने घर छोड़कर आगे चलती अपने बच्चों के लिए अपने पति के लिए अपनी सारी खुशी होती है भाई पुरुष भी यह सब करते हैं तो सिर्फ यह कहना कि महिलाएं ही औरतों त्याग करते हैं महिलाएं ज्यादा सेक्सी होती है पुरुष नहीं वह गलत हो क्योंकि मैंने बहुत सारे पुरुषों से देखे हैं जो अपने परिवार के लिए अपनी खुशी को साइड में रख देते हैं अपनी पत्नी अपने बच्चों के लिए अपनी खुशियों को छोड़ देते हैं महिलाएंDekhiye Dibet Bahut Time Se Chale Aa Raha Hai Human Chahie Dibet Rah Jae Qi Mahilaen Jyada Tehsil Hoti Hai Ya Purush Mahilaen Jyada Sahanashil Hote Hain Ya Purush Aur Koi Iska Aj Tak Jawab Nahin Mill Pae Jisko Lycra Her Koi Santusht Ho Reason Bhi Donon Joe Mahila Purush Hoti Hai Donon Hea Taiyaar Karte Hain Donon Hea Apne Parivar Co Apni Family Co Khush Rakhne K Lie Kya Karte Hain Hum Mahilao K Patha Per Thoda Kuch Prashn Jyada Hota Hai Kyonki Wah Apne Ghar Chodakar Aage Chalti Apne Bachcho K Lie Apne Pati K Lie Apni Sari Khushi Hoti Hai Bhai Purush Bhi Yeh Sub Karte Hain To Sirf Yeh Kahuna Qi Mahilaen Hea Orton Tyag Karte Hain Mahilaen Jyada Sexy Hoti Hai Purush Nahin Wah Galat Ho Kyonki Maine Bahut Saare Purushon Se Dekhe Hain Joe Apne Parivar K Lie Apni Khushi Co Side Mein Rakh Dete Hain Apni Patni Apne Bachcho K Lie Apni Khushiyon Co Chod Dete Hain Mahilaen
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Kya Mahilayein Purushon Ki Tulna Mein Jyada Tyaagshil Hoti Hain,Are Women Resigning More Than Men?,


vokalandroid