क्यों महिलाओं के कपड़े जेब नहीं है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके सवाल कुछ अधूरा सा लग रहा है पर जितना कि मैं समझ पा रही हूं आप शायद कहना चाह रहे कि क्या महिलाओं के कपड़ों में मैं क्यों महिलाओं के कपड़ों में जेब नहीं है देखिए ऐसा तो नहीं है अगर आप इंडियन ट्रेडि...जवाब पढ़िये
आपके सवाल कुछ अधूरा सा लग रहा है पर जितना कि मैं समझ पा रही हूं आप शायद कहना चाह रहे कि क्या महिलाओं के कपड़ों में मैं क्यों महिलाओं के कपड़ों में जेब नहीं है देखिए ऐसा तो नहीं है अगर आप इंडियन ट्रेडिशनल कपड़ों की बात करेंगे सलवार सूट या फिर साड़ी तो उस समय जो कल चोर था वह यह था कि महिलाएं अपने साथ एक बार कैरी करती थी शायद उस वजह से उस समय जेब नहीं हुआ करते थे पर आज के समय में ऐसा नहीं है आज के समय में महिलाओं के हर तरह के परिधान में इंसाफ सूट बगैर आकृतियों में भी जेब का प्रावधान दिया जा रहा है क्यों कि नहीं और सब खैरियत सासरिए सब के पास इतने ही समान है और हर वक्त तो इस कार्य करना किसी भी लेडी के लिए रश्मि स्टूडेंट्स वगैरह जो है जो नई दिल्ली बेसिस पर ट्रेवल करना है उनके लिए पॉसिबल नहीं है पढ़ने का भी अपने काफी सारी बार सुना होगा इस तरह की घटनाओं के बारे में इसीलिए आजकल महिलाओं के कपड़ों में भी जेब दिया जा रहा था कि उन्हें भी बराबर की सुविधा होAapke Sawal Kuch Adhura Sa Lag Raha Hai Par Jitna Ki Main Samajh Pa Rahi Hoon Aap Shayad Kehna Chah Rahe Ki Kya Mahilaon Ke Kapadon Mein Main Kyun Mahilaon Ke Kapadon Mein Jeb Nahi Hai Dekhie Aisa To Nahi Hai Agar Aap Indian Traditional Kapadon Ki Baat Karenge Salwar Suit Ya Phir Sadi To Us Samay Jo Kal Chor Tha Wah Yeh Tha Ki Mahilaye Apne Saath Ek Baar Carry Karti Thi Shayad Us Wajah Se Us Samay Jeb Nahi Hua Karte The Par Aaj Ke Samay Mein Aisa Nahi Hai Aaj Ke Samay Mein Mahilaon Ke Har Tarah Ke Paridhan Mein Insaaf Suit Bagair Aakritiyo Mein Bhi Jeb Ka Pravadhan Diya Ja Raha Hai Kyun Ki Nahi Aur Sab Khairiyat Sasriye Sab Ke Paas Itne Hi Saman Hai Aur Har Waqt To Is Karya Karna Kisi Bhi Lady Ke Liye Rashmi Students Vagairah Jo Hai Jo Nayi Delhi Basis Par Travel Karna Hai Unke Liye Possible Nahi Hai Padhne Ka Bhi Apne Kafi Saree Baar Suna Hoga Is Tarah Ki Ghatnaon Ke Baare Mein Isliye Aajkal Mahilaon Ke Kapadon Mein Bhi Jeb Diya Ja Raha Tha Ki Unhen Bhi Barabar Ki Suvidha Ho
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे दिए जा रहे हैं क्योंकि जय बात करना चाह रही हो गया क्योंकि कई लोगों को मोबाइल चाबी नहीं तो ऐसा कुछ सामान रखना ही पड़ता है जरूरी होता है इसलिए पहले के कपड़ों से कम किया जाए तो आजकल के कपड़ों में जो...जवाब पढ़िये
मुझे दिए जा रहे हैं क्योंकि जय बात करना चाह रही हो गया क्योंकि कई लोगों को मोबाइल चाबी नहीं तो ऐसा कुछ सामान रखना ही पड़ता है जरूरी होता है इसलिए पहले के कपड़ों से कम किया जाए तो आजकल के कपड़ों में जो है वह जा रहे हैंMujhe Diye Ja Rahe Hain Kyonki Jai Baat Karna Chah Rahi Ho Gaya Kyonki Kai Logon Ko Mobile Chabi Nahi To Aisa Kuch Saamaan Rakhna Hi Padata Hai Zaroori Hota Hai Isliye Pehle Ke Kapadon Se Kum Kiya Jaye To Aajkal Ke Kapadon Mein Jo Hai Wah Ja Rahe Hain
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kyon Mahilaon Ke Kapde Jeb Nahi Hai, Why Is Women Not Wearing Pocket?

vokalandroid