उत्तर प्रदेश के मंत्री मुलायम सिंह और मायावती को 'रावण' और 'सुरपनखा' कहते हैं। क्या इससे आप सहमत हैं? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

BP उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हूं चाहे किसी अदर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों हर मुख्यमंत्री के गरिमा होती है उस पद की गरिमा होती है और जो भी हमारे देश के बड़े लीडर से उनसे इतनी उम्मीद की जाती है कि कम से...जवाब पढ़िये
BP उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हूं चाहे किसी अदर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों हर मुख्यमंत्री के गरिमा होती है उस पद की गरिमा होती है और जो भी हमारे देश के बड़े लीडर से उनसे इतनी उम्मीद की जाती है कि कम से कम उस पद की गरिमा को बनाए रखें चाहे वह प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री किसी पार्टी के बड़े नेताओं अब जिसका उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हमको सुपर्णखा और रावण कहा तो मुझे लगता है कि एक अच्छी राजनीति में इस तरह की बात करना बिल्कुल गलत है राजनीतिक मतभेद हो सकते हैं वैचारिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन मुझे लगता है कि आप एक कप पार्टी के लिए लीडर नहीं आप प्रदेश के सबसे बड़े व्यक्ति हैं तो एक व्यक्ति से इस प्रकार की बातें शोभा नहीं देते अगर उन्होंने कहा है तो मुझे लगता है कि इस चीज को नहीं उनको कहना चाहिए थाBP Uttar Pradesh Ke Mukhyamantri Hoon Chahe Kisi Other Pradesh Ke Mukhyamantriyon Har Mukhyamantri Ke Garima Hoti Hai Us Pad Ki Garima Hoti Hai Aur Jo Bhi Hamare Desh Ke Bade Leader Se Unse Itni Ummid Ki Jati Hai Ki Kum Se Kum Us Pad Ki Garima Ko Banaye Rakhen Chahe Wah Pradhanmantri Mukhyamantri Kisi Party Ke Bade Netaon Ab Jiska Uttar Pradesh Ke Mukhyamantri Hamko Suparnakha Aur Ravan Kaha To Mujhe Lagta Hai Ki Ek Acchi Rajneeti Mein Is Tarah Ki Baat Karna Bilkul Galat Hai Rajnitik Matbhed Ho Sakte Hain Vaicharik Matbhed Ho Sakte Hain Lekin Mujhe Lagta Hai Ki Aap Ek Cup Party Ke Liye Leader Nahi Aap Pradesh Ke Sabse Bade Vyakti Hain To Ek Vyakti Se Is Prakar Ki Batein Shobha Nahi Dete Agar Unhone Kaha Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Is Cheez Ko Nahi Unko Kehna Chahiye Tha
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भीगी बाद में पहले से कहता आ रहा हूं कि एक पोलिटिकल पार्टीज के लीडर्स को अन्य पोलिटिकल पार्टीज के लीडर्स से शब्द करना काफी गलत है पॉलिटिकल लीडर्स को यह शोभा नहीं देता कि वह अन्य पॉलिटिकल लीडर्स से अपशब...जवाब पढ़िये
भीगी बाद में पहले से कहता आ रहा हूं कि एक पोलिटिकल पार्टीज के लीडर्स को अन्य पोलिटिकल पार्टीज के लीडर्स से शब्द करना काफी गलत है पॉलिटिकल लीडर्स को यह शोभा नहीं देता कि वह अन्य पॉलिटिकल लीडर्स से अपशब्द करें और गलत व्यवहार करें अगर वह ऐसा करेंगे तो हमारी देश की आम जनता पर क्या असर पड़ेगा हम अक्सर देखते आते हैं कि हमारी भारतीय राजनीति कुछ अलग ही मोड़ लेती आ रही है जो कि काफी गलत है और हमारे देश का डेवलपमेंट ऐसा कभी नहीं हो सकता जिस तरीके से बीजेपी के लीडर कुछ साल पहले कांग्रेस की राहुल गांधी को छोटा पप्पू बोलते थे इसी तरह जो कांग्रेस की राहुल गांधी है उन्होंने अभी बयान दिया कि नीरव मोदी को छोटा मोदी बोला दीजिए ऐसा बोला काफी गलत है और यह शोभा नहीं देता कि पॉलिटिकल लीडर्स एक दूसरे पॉलिटिकल लीडर्स को ऐसे शब्द यूज करें और फिलहाल में जब से उत्तर प्रदेश मेंBhigi Baad Mein Pehle Se Kahata Aa Raha Hoon Ki Ek Political Parties Ke Leaders Ko Anya Political Parties Ke Leaders Se Shabdh Karna Kafi Galat Hai Political Leaders Ko Yeh Shobha Nahi Deta Ki Wah Anya Political Leaders Se Apashabd Karen Aur Galat Vyavhar Karen Agar Wah Aisa Karenge To Hamari Desh Ki Aam Janta Par Kya Asar Padega Hum Aksar Dekhte Aate Hain Ki Hamari Bhartiya Rajneeti Kuch Alag Hi Mod Leti Aa Rahi Hai Jo Ki Kafi Galat Hai Aur Hamare Desh Ka Development Aisa Kabhi Nahi Ho Sakta Jis Tarike Se Bjp Ke Leader Kuch Saal Pehle Congress Ki Rahul Gandhi Ko Chota Pappu Bolte The Isi Tarah Jo Congress Ki Rahul Gandhi Hai Unhone Abhi Bayan Diya Ki Neerav Modi Ko Chota Modi Bola Dijiye Aisa Bola Kafi Galat Hai Aur Yeh Shobha Nahi Deta Ki Political Leaders Ek Dusre Political Leaders Ko Aise Shabdh Use Karen Aur Filhal Mein Jab Se Uttar Pradesh Mein
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे यूपी की राजनीति में अखिलेश और मायावती के साथ आते ही उन पर बीजेपी के हमले तेज हो गए हैं सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनकी तुलना सीतापुर छुछुंदर से कर दी है और उनके मंत्री नंद गोपाल नंदी ने अखिलेश को मेघ...जवाब पढ़िये
देखे यूपी की राजनीति में अखिलेश और मायावती के साथ आते ही उन पर बीजेपी के हमले तेज हो गए हैं सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनकी तुलना सीतापुर छुछुंदर से कर दी है और उनके मंत्री नंद गोपाल नंदी ने अखिलेश को मेघनाथ और मायावती को सूर्पनखा कह दिया है और रावण और सारे मेट्रो वर्कर एक्टर्स को बीच में ले आए हैं एक रैली के दौरान चुनावी रैली में योगी ने सोमवार को गोरखपुर में कहा आज दोनों के बीच गठबंधन होने की जड़ से आए हैं दोनों एक होना चाहते हैं जब तूफान आता है तो साफ और सुंदर सब एक साथ मिलकर उस में खड़े होते हैं दूसरी तरफ नंदी ने कहा तभी मेघनाथ आगे बढ़े और मुस्कुराते मुस्कुरा कर बोले हे प्रभु मैं तो युवराज हूं मेरा क्या होगा प्रभु राम ने कहा कलयुग में तुम्हारा नाम अखिलेश होगा और इस वजह से उन्होंने मायावती के बारे में भी बोला मेरे हिसाब सेDekhe Up Ki Rajneeti Mein Akhilesh Aur Mayawati Ke Saath Aate Hi Un Par Bjp Ke Hamle Tez Ho Gaye Hain Cm Yogi Adityanath Ne Unki Tulna Sitapur Chuchundar Se Kar Di Hai Aur Unke Mantri Nand Gopal Nandi Ne Akhilesh Ko Meghnath Aur Mayawati Ko Surpanakha Keh Diya Hai Aur Ravan Aur Sare Metro Worker Actors Ko Beech Mein Le Aaye Hain Ek Rally Ke Dauran Chunavi Rally Mein Yogi Ne Somwar Ko Gorakhpur Mein Kaha Aaj Dono Ke Beech Gathbandhan Hone Ki Jad Se Aaye Hain Dono Ek Hona Chahte Hain Jab Toofan Aata Hai To Saaf Aur Sundar Sab Ek Saath Milkar Us Mein Khade Hote Hain Dusri Taraf Nandi Ne Kaha Tabhi Meghnath Aage Badhe Aur Muskurate Muskura Kar Bole He Prabhu Main To Yuvraj Hoon Mera Kya Hoga Prabhu Ram Ne Kaha Kalyug Mein Tumhara Naam Akhilesh Hoga Aur Is Wajah Se Unhone Mayawati Ke Baare Mein Bhi Bola Mere Hisab Se
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कहां दिखे जितने भी उनको यह नाम से संबोधित किया और कहा है तो कया तक वह सही भी है और कहीं अब तक नहीं है क्योंकि पब्लिक लिए ऐसे किसी भी मंत्री या MP MLA का जो है से मजाक नहीं उड़ाना चाहिए राजनेता का और औ...जवाब पढ़िये
कहां दिखे जितने भी उनको यह नाम से संबोधित किया और कहा है तो कया तक वह सही भी है और कहीं अब तक नहीं है क्योंकि पब्लिक लिए ऐसे किसी भी मंत्री या MP MLA का जो है से मजाक नहीं उड़ाना चाहिए राजनेता का और और उनको यह नाम क्यों दिया गया तो यह नाम जरूर उनके काम से दिया गया है जो उन्होंने उस राज्य को जो है लूटा है जितना अपनी सरकार के दौरान उन्होंने लूटा है जितना सरकारी खजाना अपना चुराया है जितनी अपनी जेब भरी है तो मैं समझता कि उसके साथ में जरूर जो रावण और सुन पंखा जो नाम दिया गया है वह उन दोनों राजनेता को यह बिल्कुल सही है और वैसे मैं पूरी तरह सहमत हूंKahan Dikhe Jitne Bhi Unko Yeh Naam Se Sambodhit Kiya Aur Kaha Hai To Kaya Tak Wah Sahi Bhi Hai Aur Kahin Ab Tak Nahi Hai Kyonki Public Liye Aise Kisi Bhi Mantri Ya MP MLA Ka Jo Hai Se Mazak Nahi Udana Chahiye Rajneta Ka Aur Aur Unko Yeh Naam Kyun Diya Gaya To Yeh Naam Jarur Unke Kaam Se Diya Gaya Hai Jo Unhone Us Rajya Ko Jo Hai Loota Hai Jitna Apni Sarkar Ke Dauran Unhone Loota Hai Jitna Sarkari Khajana Apna Churaya Hai Jitni Apni Jeb Bhari Hai To Main Samajhata Ki Uske Saath Mein Jarur Jo Ravan Aur Sun Pankha Jo Naam Diya Gaya Hai Wah Un Dono Rajneta Ko Yeh Bilkul Sahi Hai Aur Waise Main Puri Tarah Sahmat Hoon
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Uttar Pradesh Ke Mantri Mulayam Singh Aur Mayawati Ko Ravan Aur Surapanakha Kehte Hain Kya Isse Aap Sahmat Hain, Uttar Pradesh Minister Mulayam Singh And Mayawati Are Called 'Ravana' And 'Surpanakha'. Do You Agree With This?

vokalandroid