भारत का भविष्य कैसा होगा धार्मिक और भौतिक दृष्टिकोण से? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धार्मिक रूप से भारत का भविष्य जो है सुगन है मुझे लगता है कि हिंदू धर्म अपनी पहचान कभी नहीं कोई आएगा तथा इस्लाम ईसाई धर्म तथा अन्य जो भी धर्म चाहे वह सिख धर्म ओझा भजन व बौद्ध धर्म अपनी जड़ें और मजबूत करेंगे भारत में भारत एक प्रकार से एक खुला आंगन है जिसमें सभी धर्म तथा जाति के लोग सुरक्षित महसूस करते हैं तथा अपने धर्म का आना केवल पालन करते हैं बल्कि उसका प्रचार-प्रसार भी करते हैं तथा भारत की संस्कृति किस प्रकार की है तथा सहिष्णुता इस प्रकार के भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग है कि भारत में सभी प्रकार के धर्म जातियां व संप्रदाय मिलजुल के रहती है पता आने वाले भविष्य में भी इस प्रकार की स्थिति कायम रहेगी भौतिक तौर पर मुझे नहीं लगता कि भारत में किसी भी प्रकार का भौतिक परिवर्तन होने की कोई भी संभावना है सभी राज्य अभिन्न रूप से भारत के साथ जुड़े हुए हैं उत्तर पूर्व के राज्य तथा दक्षिण भारत के राज्य जहां पर कभी न कभी नित्य प्रतिदिन इस प्रकार की भावनाएं व्रत कथा एवं आरती हैं कि उन्हें एक विभिन्न एक सेपरेट राष्ट्रीय चाहिए वह इस प्रकार की बातें भी जो है जो अतिवादी दल हैं उनकी तरह से उठाई जाती है जबकि सच यह है कि भारत के सभी नागरिक भारत के साथ ही जुड़ा रहना चाहते हैं चाहे वह किसी भी राज्य के हो तो मुझे लगता कि भौतिक दृष्टि से किसी प्रकार का परिवर्तन होगा भारत से कोई भी राजी ना तो कटेगा ना ही इसमें सम्मिलित होगा तथा निकट भविष्य में आने की आने वाले 30 से 40 वर्ष तक यही स्थिति विद्यमान रहेगी उसके बाद क्या होता है वह उस समय की परिस्थितियों पर निर्भर करेगा धन्यवाद
धार्मिक रूप से भारत का भविष्य जो है सुगन है मुझे लगता है कि हिंदू धर्म अपनी पहचान कभी नहीं कोई आएगा तथा इस्लाम ईसाई धर्म तथा अन्य जो भी धर्म चाहे वह सिख धर्म ओझा भजन व बौद्ध धर्म अपनी जड़ें और मजबूत करेंगे भारत में भारत एक प्रकार से एक खुला आंगन है जिसमें सभी धर्म तथा जाति के लोग सुरक्षित महसूस करते हैं तथा अपने धर्म का आना केवल पालन करते हैं बल्कि उसका प्रचार-प्रसार भी करते हैं तथा भारत की संस्कृति किस प्रकार की है तथा सहिष्णुता इस प्रकार के भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग है कि भारत में सभी प्रकार के धर्म जातियां व संप्रदाय मिलजुल के रहती है पता आने वाले भविष्य में भी इस प्रकार की स्थिति कायम रहेगी भौतिक तौर पर मुझे नहीं लगता कि भारत में किसी भी प्रकार का भौतिक परिवर्तन होने की कोई भी संभावना है सभी राज्य अभिन्न रूप से भारत के साथ जुड़े हुए हैं उत्तर पूर्व के राज्य तथा दक्षिण भारत के राज्य जहां पर कभी न कभी नित्य प्रतिदिन इस प्रकार की भावनाएं व्रत कथा एवं आरती हैं कि उन्हें एक विभिन्न एक सेपरेट राष्ट्रीय चाहिए वह इस प्रकार की बातें भी जो है जो अतिवादी दल हैं उनकी तरह से उठाई जाती है जबकि सच यह है कि भारत के सभी नागरिक भारत के साथ ही जुड़ा रहना चाहते हैं चाहे वह किसी भी राज्य के हो तो मुझे लगता कि भौतिक दृष्टि से किसी प्रकार का परिवर्तन होगा भारत से कोई भी राजी ना तो कटेगा ना ही इसमें सम्मिलित होगा तथा निकट भविष्य में आने की आने वाले 30 से 40 वर्ष तक यही स्थिति विद्यमान रहेगी उसके बाद क्या होता है वह उस समय की परिस्थितियों पर निर्भर करेगा धन्यवाद
Likes  63  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

आने वाले वर्षों में भारत में डिजिटल मार्केटिंग का भविष्य क्या होगा ? ...

हां, डिजिटल मार्केटिंग भारत में सबसे अच्छे करियर विकल्पों में से एक है। अधिकांश एमएनसी और अन्य लोकप्रिय ब्रांड बाहर स्थित हैं भारत डिजिटल मार्केटिंग कंपनियों द्वारा अपना डिजिटल मार्केटिंग काम करना पसंजवाब पढ़िये
ques_icon

क्या भारत में विज्ञान के द्वारा ही धार्मिक अंधविश्वास को खत्म किया जा सकता है? ...

अगर हमारे देश में शिक्षा का सही तरीके से प्रचार प्रसार किया जाए और लोगों को विज्ञान के बारे में जानकारी दी जाए तब जाकर लोग सही तरीके से सभी चीजों को समझ पाएंगे और उनके बारे में सोच सकेंगे और इस तरीके जवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप का सवाल है कि भारत का भविष्य कैसा होगा धार्मिक और भौतिक दृष्टि गौर से मैं आपको बताना चाहता हूं धार्मिक दृष्टिकोण से हमारा हिंदुस्तान हिंदू राष्ट्र घोषित किया जाएगा देखिए अमेरिका में रहने वाले अमेरिकन बोले जाते हैं पाकिस्तान में रहने वाले पाकिस्तानी बोले जाते हैं जापान में रहने वाले जापानी बोले जाते हैं तो हिंदुस्तान में रहने वालों को हिंदू बोला जाना चाहिए और ऐसा होना चाहिए आर एस एस आर्मी और मोदी यह तीन तीनों का अगर पहला वर्ड चयन किया जाए तो राम बनता है और राम के ऊपर सब को भरोसा है पूरे हिंदुस्तान के लोगों को भरोसा है क्योंकि राम हमारे आराध्य हैं हमारे पूजनीय हैं और हमारे भगवान हैं भगवान श्री राम का भव्य मंदिर बनवाया जाएगा उत्तर उत्तर प्रदेश में अयोध्या में इसमें कोई दो राय नहीं है देखिए अंग्रेजो ने हमारे देश में 200 साल राज किया मुगल शासकों ने भी 800 साल राज किया और हमारे देश में 70 साल में 7:00 65 साल कांग्रेस पार्टी ने राज किया इन लोगों ने हिंदुओं को तोड़ने की कोशिश की हमारी हिंदुत्व की विचारधारा को तोड़ने की कोशिश की लेकिन उसके बाद भी हमारा हिंदुत्व जिंदा है हमें भरोसा होना चाहिए इन 3 लोगों के ऊपर आर्मी के ऊपर आर एस एस के ऊपर और मोदी जी के ऊपर यही तीन मिलाकर राम बनता है और राम हमारे देश को कभी भी टूटने नहीं देंगे आइए हम अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को दें ताकि भौतिक दृष्टिकोण से और धार्मिक दृष्टिकोण से हमारा हिंदुस्तान दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश बन सके और हमारा देश आगे बढ़ सके धन्यवाद
आप का सवाल है कि भारत का भविष्य कैसा होगा धार्मिक और भौतिक दृष्टि गौर से मैं आपको बताना चाहता हूं धार्मिक दृष्टिकोण से हमारा हिंदुस्तान हिंदू राष्ट्र घोषित किया जाएगा देखिए अमेरिका में रहने वाले अमेरिकन बोले जाते हैं पाकिस्तान में रहने वाले पाकिस्तानी बोले जाते हैं जापान में रहने वाले जापानी बोले जाते हैं तो हिंदुस्तान में रहने वालों को हिंदू बोला जाना चाहिए और ऐसा होना चाहिए आर एस एस आर्मी और मोदी यह तीन तीनों का अगर पहला वर्ड चयन किया जाए तो राम बनता है और राम के ऊपर सब को भरोसा है पूरे हिंदुस्तान के लोगों को भरोसा है क्योंकि राम हमारे आराध्य हैं हमारे पूजनीय हैं और हमारे भगवान हैं भगवान श्री राम का भव्य मंदिर बनवाया जाएगा उत्तर उत्तर प्रदेश में अयोध्या में इसमें कोई दो राय नहीं है देखिए अंग्रेजो ने हमारे देश में 200 साल राज किया मुगल शासकों ने भी 800 साल राज किया और हमारे देश में 70 साल में 7:00 65 साल कांग्रेस पार्टी ने राज किया इन लोगों ने हिंदुओं को तोड़ने की कोशिश की हमारी हिंदुत्व की विचारधारा को तोड़ने की कोशिश की लेकिन उसके बाद भी हमारा हिंदुत्व जिंदा है हमें भरोसा होना चाहिए इन 3 लोगों के ऊपर आर्मी के ऊपर आर एस एस के ऊपर और मोदी जी के ऊपर यही तीन मिलाकर राम बनता है और राम हमारे देश को कभी भी टूटने नहीं देंगे आइए हम अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को दें ताकि भौतिक दृष्टिकोण से और धार्मिक दृष्टिकोण से हमारा हिंदुस्तान दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश बन सके और हमारा देश आगे बढ़ सके धन्यवाद
Likes  17  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत पहले समय से इंडिया डायवर्स रहा है दिवस कंट्री रहा है इसमें इतनी डाइवर्सिटी रही है कि यहां पर सभी लोग अलग-अलग कल्चर के अलग अलग विचारधारा ऑडियो जिसके संस्कृति के अलग अलग थिंकिंग के अलग-अलग कपड़े पहनने वाले अलग-अलग लैंग्वेज इज बोलने वाले और हर तरह की का अलग तो यहां पर एक अलग टाइप कर रहा है लेकिन सभी की अलग अलग टाइप के कल्चर रिलीजन के लोग एक दूसरे को एक एक्सेप्टेंस की भावना रही है एक दूसरे को एक्सेप्ट करते रहे हैं उनकी हर एक आदमी दूसरे को स्वीकृति कि उसे देखते देखता रहा है यहां पर यहां पर आज तक लोग रहे हैं तो नास्तिक लोग भी रहे हैं यहां पर टावर का वर्क जो है 89 जी को भी एक्सेप्ट किया जाता है इसीलिए यहां पर चैन चैन सीख जाएं बौद्ध धर्म या इस्लाम धर्म कोई भी हो सभी धर्मों का यहां पर नर्चर हुआ है कैसा भी धर्म यहां पर पले बढ़े हैं प्रसार हुआ है उनका और दुनिया में इसलिए बहुत अच्छा मैसेज गया है कि हम हमारा लोकतांत्रिक भारत डेमोक्रेटिक इंडिया तू जो कि एक बहुत बड़ा मैसेज है तो यह हमारा भविष्य भारत का बहुत अच्छा है इस मामले में इस में चाहे सबका जो भी सबका अलग-अलग धर्मों की जो अच्छी अच्छी बातें वह हमारी दुनिया में फैली है चाहे हिंदू का सनातन धर्म का चाय योग दिवस सुजुकी इंडिया इंटरनेशनल डे बना है अलग-अलग धर्मों की बातें हो क्या जैन की जैन बौद्ध की इस्लाम की सभी बातें पर लेबल पर पहुंची है और यह हमारी ड्यूटी है कंट्री की भौतिक दृष्टि गौर से क्या भौतिक संपदा पूछ रहे हैं तो जोक आफ गली लेवल पर पूछ रहे तो ऐसा कुछ मेजर चेंज नहीं होने वाला लोग इंडिया के साथ ही रहना चाहते हैं इंटीग्रेटर इंडिया चाहते हैं
बहुत पहले समय से इंडिया डायवर्स रहा है दिवस कंट्री रहा है इसमें इतनी डाइवर्सिटी रही है कि यहां पर सभी लोग अलग-अलग कल्चर के अलग अलग विचारधारा ऑडियो जिसके संस्कृति के अलग अलग थिंकिंग के अलग-अलग कपड़े पहनने वाले अलग-अलग लैंग्वेज इज बोलने वाले और हर तरह की का अलग तो यहां पर एक अलग टाइप कर रहा है लेकिन सभी की अलग अलग टाइप के कल्चर रिलीजन के लोग एक दूसरे को एक एक्सेप्टेंस की भावना रही है एक दूसरे को एक्सेप्ट करते रहे हैं उनकी हर एक आदमी दूसरे को स्वीकृति कि उसे देखते देखता रहा है यहां पर यहां पर आज तक लोग रहे हैं तो नास्तिक लोग भी रहे हैं यहां पर टावर का वर्क जो है 89 जी को भी एक्सेप्ट किया जाता है इसीलिए यहां पर चैन चैन सीख जाएं बौद्ध धर्म या इस्लाम धर्म कोई भी हो सभी धर्मों का यहां पर नर्चर हुआ है कैसा भी धर्म यहां पर पले बढ़े हैं प्रसार हुआ है उनका और दुनिया में इसलिए बहुत अच्छा मैसेज गया है कि हम हमारा लोकतांत्रिक भारत डेमोक्रेटिक इंडिया तू जो कि एक बहुत बड़ा मैसेज है तो यह हमारा भविष्य भारत का बहुत अच्छा है इस मामले में इस में चाहे सबका जो भी सबका अलग-अलग धर्मों की जो अच्छी अच्छी बातें वह हमारी दुनिया में फैली है चाहे हिंदू का सनातन धर्म का चाय योग दिवस सुजुकी इंडिया इंटरनेशनल डे बना है अलग-अलग धर्मों की बातें हो क्या जैन की जैन बौद्ध की इस्लाम की सभी बातें पर लेबल पर पहुंची है और यह हमारी ड्यूटी है कंट्री की भौतिक दृष्टि गौर से क्या भौतिक संपदा पूछ रहे हैं तो जोक आफ गली लेवल पर पूछ रहे तो ऐसा कुछ मेजर चेंज नहीं होने वाला लोग इंडिया के साथ ही रहना चाहते हैं इंटीग्रेटर इंडिया चाहते हैं
Likes  16  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Bharat Ka Bhavishya Kaisa Hoga Dharmik Aur Bhautik Drishtikon Se,


vokalandroid