जब विपक्ष sc/st एक्ट के साथ भाजपा के साथ हो सकता है तो राममंदिर के लिए क्यों नहीं ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज की जब विपक्षी सी एस टी एक्ट के साथ भाजपा के साथ हो सकता है तो राम मंदिर राम मंदिर का मुद्दा नहीं बहुत पहले से चल रहा है और बीजेपी का मेनिफेस्टो में चीज था उसको पूरा करना चाहिए था अभी बीजेपी का कार्...जवाब पढ़िये
आज की जब विपक्षी सी एस टी एक्ट के साथ भाजपा के साथ हो सकता है तो राम मंदिर राम मंदिर का मुद्दा नहीं बहुत पहले से चल रहा है और बीजेपी का मेनिफेस्टो में चीज था उसको पूरा करना चाहिए था अभी बीजेपी का कार्यकाल खत्म हो रहा है 5 साल होने जा लेकिन फिर भी अभी तक यह बात पूरी तरह से अमल नहीं हो पाया जरूरी है कि जो राम मंदिर की बात हुई थी बहुत पहले क्रिकेट स्कोर्स काम को सुनना शुरू किया जाए बनाया जाए फिर बहुत लोग जो हिंदू हिंदू जो आस्था है से जुड़ी हुई है और अभी तक कुछ काम से शुरू नहीं हुआ तो बहुत जरूरी है कि बीजेपी इस पर ध्यान दे मंदिर बनाने काम शुरू करेंAj Ki Jab Vipakshi C S T Act K Sathe Bhajpa K Sathe Ho Sakta Hai To Ram Mandir Ram Mandir Ka Mudda Nahin Bahut Pehle Se Chal Raha Hai Aur BJP Ka Menifesto Mein Chij Thaa Usko Poora Krna Chahie Thaa Abhi BJP Ka Karaikal Khatma Ho Raha Hai 5 Saul Hone Ja Lekin Phir Bhi Abhi Tak Yeh Baat Poori Turha Se Amal Nahin Ho PAYA Zaroori Hai Qi Joe Ram Mandir Ki Baat Hue Thi Bahut Pehle Cricket Scores Kama Co Sunana Shuru Kiya Jae Banaya Jae Phir Bahut Log Joe Hindu Hindu Joe Aastha Hai Se Judi Hue Hai Aur Abhi Tak Kuch Kama Se Shuru Nahin Hua To Bahut Zaroori Hai Qi BJP Is Per Dhyan They Mandir Banaane Kama Shuru Karein
Likes  13  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

26 जनवरी सन 1950 को जब भारत आजाद हुआ था जब हमारा संविधान लिखा जा रहा था उस टाइम एक पार्टी थी वह थी कांग्रेस कांग्रेस ने यह बोला कि डॉक्टर एसिस्ट वोट बैंक के लिए कि हमारे देश का संविधान डॉ भीमराव अंबेड...जवाब पढ़िये
26 जनवरी सन 1950 को जब भारत आजाद हुआ था जब हमारा संविधान लिखा जा रहा था उस टाइम एक पार्टी थी वह थी कांग्रेस कांग्रेस ने यह बोला कि डॉक्टर एसिस्ट वोट बैंक के लिए कि हमारे देश का संविधान डॉ भीमराव अंबेडकर साहब ने लिखा है मैं यह पूछना चाहता हूं कांग्रेस से और कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष और सभी लोगों से कि क्या डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने अकेले संविधान लिखा था 770 लोग की कमेटी बनाई गई थी जिसमें जिसके अध्यक्ष डॉ राजेंद्र प्रसाद थे उन्होंने तो शुरू से ही राजनीति की स्थिति वोट बैंक के लिए अगर sc-st वोट बैंक के लिए राजनीति नहीं किए होते तो आज हमारे देश में जो सांप्रदायिकता का जहर कांग्रेश के द्वारा फैलाया गया है आज यह नहीं होता26 January Sun 1950 Co Jab Bharat Ajad Hua Thaa Jab Hamara Samvidhan Likha Ja Raha Thaa Oosh Time Ek Party Thi Wah Thi Kangres Kangres Ne Yeh Bolla Qi Doctor Esist Voot Bank K Lie Qi Hamare Desh Ka Samvidhan Dr Bhimrao Ambedkar Saheb Ne Likha Hai Main Yeh Puchhnaa Chahta Hoon Kangres Se Aur Kangres Party K Adhyaksh Aur Sabhi Logon Se Qi Kya Doctor Bhimrao Ambedkar Ne Akele Samvidhan Likha Thaa 770 Log Ki Kameti Banai Gi Thi Jisamein Jiske Adhyaksh Dr Rajendra Prasad The Unhonne To Shuru Se Hea Rajniti Ki Sthiti Voot Bank K Lie Agar Sc-st Voot Bank K Lie Rajniti Nahin Kiye Hote To Aj Hamare Desh Mein Joe Saampradayikta Ka Jahra Kangresh K Dwara Failaayaa Gaya Hai Aj Yeh Nahin Hota
Likes  8  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Jab Vipaksh Sc/st Act Ke Saath Bhajpa Ke Saath Ho Sakta Hai Toh Ramamandir Ke Liye Kyon Nahi ?

vokalandroid