आरक्षण के बारे में आपकी क्या राय है? ये आरक्षण सही है क्या ? एक देश एक कानून एक समान अवसर क्यो नही मिल पा रहे है ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बीजेपी आरक्षण शब्द मेरे वतन में आता है मैं सोचता हूं लक्षण शब्द के बारे में तो एक ही ख्याल आता है बाबा की आरक्षण की जो पद्धति है भारत में ऐसा क्यों है जरूरी था एक टाइम पर जब आरक्षण लागू किया गया तो उस...जवाब पढ़िये
बीजेपी आरक्षण शब्द मेरे वतन में आता है मैं सोचता हूं लक्षण शब्द के बारे में तो एक ही ख्याल आता है बाबा की आरक्षण की जो पद्धति है भारत में ऐसा क्यों है जरूरी था एक टाइम पर जब आरक्षण लागू किया गया तो उसको बहुत जरूरत है क्योंकि उस पर छोटे वर्ग के लोगों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा था जिसके कारण जो एक बहुत बड़ा हिस्सा था पीछे छूट गया था तो भी जरूरी था कि अगर पूरा मोबाइल कंट्री कोड अनलॉक करना है तो वह जो कभी भी तो हिस्सा है वह भी आगे वाले जो समाज में अपना स्थान रखे उसके लिए आरक्षण दिया गया था लेकिन अभी आप देखेंगे तो आज चुके कास्ट मैसेज भेजो कास्ट भेजना समझ में नहीं आता है क्योंकि अगर आप देखें कि शामली में आपको दो व्यक्ति तीन व्यक्ति को आरक्षण से जो मिला है फायदा मिले तो कहीं न कहीं आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी हो जाती है ठीक है उसके बाद ही फिर भी आप आरक्षण ले गए हैं पीढ़ी दर पीढ़ी आरक्षण हेतु से कोई मतलब नहीं देने का चंद का यही मकसद है जो पीछे द वे लोग हैं उनको आगे बढ़ जाए तो वैसे लोग दिल को क्या वचन से जॉब मिल चुके हैं इसके पीछे नहीं रह जाते हैं वैसे लोग को आरक्षण का लाभ नहीं लेना चाहिए दूसरी चीज की ना देखे नेता नेता है आज उनसे नेता बन जाते हैं आप उसके बाद ऑफिस की एक एक पुस्तक तो आराम से अच्छे से चल सकते हैं फिर भी आरक्षण का लाभ ले पी ले पी ले कर देते और वैसे ही सबको मिलना चाहिए अभी तक नहीं मिल पाता यह बहुत जरूरी है कि लोग इसको समझे और बहुत हाईलाइट किया है सब लोग हैं मतलब कि खुश हैं कि समझ नहीं आ रहा छोड़ना नहीं चाह रहे लोगों को प्रेरित करना होगा इस चीज को छोड़ने के लिए ठीक है तो बहुत जरूरी है कि लोग समझे और सही व्यक्ति से पहुंच पाएBJP Aarkshan Shabd Mere Vatan Mein Aata Hai Main Sochta Hoon Lakshan Shabd K Baare Mein To Ek Hea Khyala Aata Hai Baba Ki Aarkshan Ki Joe Paddhati Hai Bharat Mein Aisa Kio Hai Zaroori Thaa Ek Time Per Jab Aarkshan Laghu Kiya Gaya To Usko Bahut Jarurat Hai Kyonki Oosh Per Chhote Varg K Logon Per Dhyan Nahin Diya Ja Raha Thaa Jiske Karan Joe Ek Bahut Bada Hissa Thaa Pichhe Chut Gaya Thaa To Bhi Zaroori Thaa Qi Agar Poora Mobile Country Code Analak Krna Hai To Wah Joe Kabhi Bhi To Hissa Hai Wah Bhi Aage Wale Joe Samaj Mein Apna Sthan Rakhe Uske Lie Aarkshan Diya Gaya Thaa Lekin Abhi Aap Dekhenge To Aj Chuke Caste Maisej Bhejo Caste BHAIJANA Samajh Mein Nahin Aata Hai Kyonki Agar Aap Dekhe Qi Shamli Mein Aapko Though Vyakti Tin Vyakti Co Aarkshan Se Joe Milaa Hai Fayda Mile To Kahin Na Kahin Aapki Arthik Sthiti Achchhee Ho Jaati Hai Thik Hai Uske Baad Hea Phir Bhi Aap Aarkshan Le Ge Hain Pidhi Dar Pidhi Aarkshan Hetu Se Koi Matlab Nahin Dane Ka Chand Ka Yahi Maksad Hai Joe Pichhe The Whey Log Hain Unko Aage Badh Jae To Vaise Log Dil Co Kya Waachnaa Se Job Mill Chuke Hain Iske Pichhe Nahin Rah Jaate Hain Vaise Log Co Aarkshan Ka Labh Nahin Lena Chahie Dusri Chij Ki Na Dekhe Neta Neta Hai Aj Unse Neta Bun Jaate Hain Aap Uske Baad Office Ki Ek Ek Pustak To Aroma Se Achchhe Se Chal Sakte Hain Phir Bhi Aarkshan Ka Labh Le P Le P Le Car Dete Aur Vaise Hea Sabako Melina Chahie Abhi Tak Nahin Mill Pauta Yeh Bahut Zaroori Hai Qi Log Isko Smjhe Aur Bahut Hailait Kiya Hai Sub Log Hain Matlab Qi Khush Hain Qi Samajh Nahin Aa Raha Chodna Nahin Chah Rahe Logon Co Prerit Krna Hoga Is Chij Co Chodne K Lie Thik Hai To Bahut Zaroori Hai Qi Log Smjhe Aur Sahi Vyakti Se Pahunch Pae
Likes  12  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या आरक्षण के बारे में अगर पूछा जाए मुझसे क्यों मैं तो आरक्षण के खिलाफ भाई आरक्षण बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए आज के समय में हमारा समाज के प्रत्येक लोग प्रत्येक जाति के प्रत्येक वर्ग के लोग एक सामान्य ...जवाब पढ़िये
क्या आरक्षण के बारे में अगर पूछा जाए मुझसे क्यों मैं तो आरक्षण के खिलाफ भाई आरक्षण बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए आज के समय में हमारा समाज के प्रत्येक लोग प्रत्येक जाति के प्रत्येक वर्ग के लोग एक सामान्य अवस्था में आ चुके हैं यह मेरा मानना है आप बात रहे कुछ ऐसे जनजाति की बीपी जंगली क्षेत्र के सभी पूर्ण रूप से विकसित नहीं हो चुके हैं सही बात है मैं यह भी मानता हूं कि कुछ ऐसे लोग बचे कुचे हैं जो कि अभी तक विकसित नहीं हो सकते हैं हम लोगों से कंधा से कंधा नहीं मिला सकते अब उनके लिए सिर्फ और सिर्फ आरक्षण होना चाहिए ना कि प्रत्येक नीचे पर की जाती के लिए आरक्षण को अब अर्जुन के नियम में कुछ चेंज करना चाहिए और यह संदेश बहुत ही जल्द करनी चाहिए ठीक है आरक्षण ही लोगों को देना चाहिए जो कि सच में आर्थिक रूप से गरीब हो आर्थिक रूप से उसी चीज की जरूरत हो ना की जाति के आधार पर क्योंकि नीची जाति के बहुत सारे ऐसे लोग हैं हमारे समाज में आपके समाज में आपको देखने के लिए मिल जाएंगे उसकी जाती तो नहीं की है लेकिन वह बहुत ही ऊंचे ऊंचे पद पर है तो क्या उसे आरक्षण की जरूरत है बिल्कुल नहीं है आरक्षण जाति के आधार पर नहीं बल्कि की आर्थिक स्थिति के आधार पर होनी चाहिए यह पूर्ण रूप से मेरी यही राय हैKya Aarkshan K Baare Mein Agar Pucha Jae Mujhse Kio Main To Aarkshan K Khilaf Bhai Aarkshan Bilkool Bhi Nahin Hona Chahie Aj K Samay Mein Hamara Samaj K Pratiek Log Pratiek Jati K Pratiek Varg K Log Ek Samanya Avastha Mein Aa Chuke Hain Yeh Mera Manna Hai Aap Baat Rahe Kuch Aise Janjaatee Ki Beypi Jangali Kshetra K Sabhi Purn Roop Se Viksit Nahin Ho Chuke Hain Sahi Baat Hai Main Yeh Bhi Manta Hoon Qi Kuch Aise Log Bache Kuche Hain Joe Qi Abhi Tak Viksit Nahin Ho Sakte Hain Hum Logon Se Kandha Se Kandha Nahin Milaa Sakte Aba Unke Lie Sirf Aur Sirf Aarkshan Hona Chahie Na Qi Pratiek Neeche Per Ki Jaati K Lie Aarkshan Co Aba Arjun K Niyam Mein Kuch Change Krna Chahie Aur Yeh Sandesh Bahut Hea Jald Karni Chahie Thik Hai Aarkshan Hea Logon Co Dena Chahie Joe Qi Such Mein Arthik Roop Se Garib Ho Arthik Roop Se Ussi Chij Ki Jarurat Ho Na Ki Jati K Aadhaar Per Kyonki Nechi Jati K Bahut Saare Aise Log Hain Hamare Samaj Mein Aapke Samaj Mein Aapko Dakhane K Lie Mill Jaenge Uski Jaati To Nahin Ki Hai Lekin Wah Bahut Hea Unche Unche Pad Per Hai To Kya Usse Aarkshan Ki Jarurat Hai Bilkool Nahin Hai Aarkshan Jati K Aadhaar Per Nahin Walkie Ki Arthik Sthiti K Aadhaar Per Honi Chahie Yeh Purn Roop Se Meri Yahi Ray Hai
Likes  29  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Aarakshan Ke Bare Mein Aapki Kya Rai Hai Ye Aarakshan Sahi Hai Kya ? Ek Desh Ek Kanoon Ek Saman Avsar Kyon Nahi Mil Pa Rahe Hai ?

vokalandroid