आज के जमाने का इंसान गलती करने के बाद में अपनी गलती क्यों नहीं मानता है क्यों दूसरे के ऊपर छोड़ देता है अपनी गलती ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे नहीं लगता है कि यह सिर्फ आज के जमाने की बात है ऐसा हमेशा से होता रहा है और होता है या है कि जो भी इंसान गलती करता है वह उसे मानने से इनकार करता है बहुत कम लोग ऐसे होते हैं जो अपनी गलतियों को मान लेते हैं और स्वीकार कर लेते हैं कि हमसे गलती हुई हो गई है ऐसा बहुत कम लोग करते हैं ज्यादातर लोग अपनी गलतियों को किसी ना किसी के ऊपर डाल देते हैं और किसी और को उसका कारण बना देते हैं कि उसने ऐसा किया इसलिए ऐसा हुआ न्यू पर कभी भी उसकी जिम्मेदारी नहीं लेते हैं उनकी वजह से नुकसान होते हैं पावरफुल होते हैं वह लोग हमेशा अपनी गलतियों को नजरअंदाज कर देते हैं या उनकी गलतियों को किसी और के माथे मनाया जाता है वाकई में अच्छे होते हैं और जो समझते हैं और जो मानते हैं कि हां गलती करके उसका प्रायश्चित कर लेना चाहिए बस वही लोग अपनी गलतियों को मानते हैं उसका प्राइस भी करते हैं और सामने वाले के सामने अपनी गलती को मान कर अपने आपको बड़ा साबित करते हैं और बहुत कम लोग ऐसे होते हैं जो इस समय इस चीज को समझते हैं कि अगर मुझसे गलती हुई है तो हमें उसकी अपनी गलती को मान लेना चाहिए और माफी मांग लेनी चाहिए और सामने वाला भी बड़ा बंद कर माफ कर देता है अगले तो कम ही लोग ऐसे होते हैं जो अपनी गलतियों को मानते हैं
Romanized Version
मुझे नहीं लगता है कि यह सिर्फ आज के जमाने की बात है ऐसा हमेशा से होता रहा है और होता है या है कि जो भी इंसान गलती करता है वह उसे मानने से इनकार करता है बहुत कम लोग ऐसे होते हैं जो अपनी गलतियों को मान लेते हैं और स्वीकार कर लेते हैं कि हमसे गलती हुई हो गई है ऐसा बहुत कम लोग करते हैं ज्यादातर लोग अपनी गलतियों को किसी ना किसी के ऊपर डाल देते हैं और किसी और को उसका कारण बना देते हैं कि उसने ऐसा किया इसलिए ऐसा हुआ न्यू पर कभी भी उसकी जिम्मेदारी नहीं लेते हैं उनकी वजह से नुकसान होते हैं पावरफुल होते हैं वह लोग हमेशा अपनी गलतियों को नजरअंदाज कर देते हैं या उनकी गलतियों को किसी और के माथे मनाया जाता है वाकई में अच्छे होते हैं और जो समझते हैं और जो मानते हैं कि हां गलती करके उसका प्रायश्चित कर लेना चाहिए बस वही लोग अपनी गलतियों को मानते हैं उसका प्राइस भी करते हैं और सामने वाले के सामने अपनी गलती को मान कर अपने आपको बड़ा साबित करते हैं और बहुत कम लोग ऐसे होते हैं जो इस समय इस चीज को समझते हैं कि अगर मुझसे गलती हुई है तो हमें उसकी अपनी गलती को मान लेना चाहिए और माफी मांग लेनी चाहिए और सामने वाला भी बड़ा बंद कर माफ कर देता है अगले तो कम ही लोग ऐसे होते हैं जो अपनी गलतियों को मानते हैंMujhe Nahin Lagta Hai Qi Yeh Sirf Aj K Jamane Ki Baat Hai Aisa Hamesha Se Hota Raha Hai Aur Hota Hai Ya Hai Qi Joe Bhi Insaan Galti Karata Hai Wah Usse Manne Se Inkar Karata Hai Bahut Come Log Aise Hote Hain Joe Apni Galtiyon Co Maan Lete Hain Aur Sweekar Car Lete Hain Qi Humse Galti Hue Ho Gi Hai Aisa Bahut Come Log Karte Hain Jyadatar Log Apni Galtiyon Co Kisi Na Kisi K Upar Dahl Dete Hain Aur Kisi Aur Co Uska Karan Banna Dete Hain Qi Usne Aisa Kiya Eeslie Aisa Hua New Per Kabhi Bhi Uski Jimmedari Nahin Lete Hain Unki Vajaha Se Nuksaan Hote Hain Powerful Hote Hain Wah Log Hamesha Apni Galtiyon Co Najarandaj Car Dete Hain Ya Unki Galtiyon Co Kisi Aur K Mathe Manaaya Jaata Hai Vakai Mein Achchhe Hote Hain Aur Joe Samjhte Hain Aur Joe Maunte Hain Qi Han Galti Karake Uska Praayashchit Car Lena Chahie Bus Whey Log Apni Galtiyon Co Maunte Hain Uska Price Bhi Karte Hain Aur Samne Wale K Samne Apni Galti Co Maan Car Apne Aapko Bada Sabith Karte Hain Aur Bahut Come Log Aise Hote Hain Joe Is Samay Is Chij Co Samjhte Hain Qi Agar Mujhse Galti Hue Hai To Human Uski Apni Galti Co Maan Lena Chahie Aur Mafi Mang Leni Chahie Aur Samne Wala Bhi Bada Band Car Maf Car Deta Hai Agale To Come Hea Log Aise Hote Hain Joe Apni Galtiyon Co Maunte Hain
Likes  15  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

हम किसी को कैसे उसी की गलती बताए बिना उसको उसकी गलती का एहसास करा सकते हैं? ...

हिंदी किसी से कोई गलती हुई है और आप नहीं जानते हैं कि आप उस गलती को सीधे-सीधे बताया तो आप अलग-अलग भुजरियों से कोशिश कर सकते हैं या तो आप उस गलती से होने वाले दुष्परिणाम है वह दिन आ सकते हैं और इस तरीकजवाब पढ़िये
ques_icon

एक की गलती की सजा हम दूसरे को क्यों देते हैं जैसा कि दंगों में देखने को मिलता है ? ...

आप सही कह रहे हैं शाहनवाज जी अक्सर ऐसा दंगों में देखा जाता है गलती कोई और करता है और भोगते कोई और है दर्शन हमारे को जो पुलिस प्रशासन एक बहुत ही गलत है क्योंकि इन में मुल्ले नाम की नैतिकता नाम की कोई चजवाब पढ़िये
ques_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Aaj Ke Jamaane Ka Insaan Galti Karne Ke Baad Mein Apni Galti Kyon Nahi Manata Hai Kyon Dusre Ke Upar Chhod Deta Hai Apni Galti ?,Divya Insan,


vokalandroid