भारत में बेरोजगारी क्यों है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में बेरोजगारी का सबसे प्रमुख कारण है बढ़ता हुआ शहरीकरण देखिए भारत एक कृषि प्रधान देश है तथा पिछले सैकड़ों वर्षो से भारत क्या जो आम नागरिक है वह कृषि पर निर्भर रहा है जिस प्रकार से आधुनिकरण हुआ है...
जवाब पढ़िये
भारत में बेरोजगारी का सबसे प्रमुख कारण है बढ़ता हुआ शहरीकरण देखिए भारत एक कृषि प्रधान देश है तथा पिछले सैकड़ों वर्षो से भारत क्या जो आम नागरिक है वह कृषि पर निर्भर रहा है जिस प्रकार से आधुनिकरण हुआ है तथा शहरीकरण बड़ा है बहुत से किसान जो है किसानी छोड़कर यानी कि अपने खेत तथा गांव छोड़कर शहरों की तरफ का मन कर गया शहर छोटे होते हैं तो सा शहर सभी को रोजगार नहीं दे सकते सकते जिसके कारण हुआ क्या कि ना तो वह शहर में रोजगार प्राप्त कर पहन है ना ही कृषि प्रधान जो अपनी अर्थव्यवस्था थी उसको किसी प्रकार से सहयोग कर पाए अब हुआ क्या कि बहुत से किसान अपनी किसानी छोड़ कर चले गए क्यों क्योंकि जो किसानी थी वह जाने की खेती व मुख्य रूप से वर्षा पर निर्भर है आधुनिक संसाधन सरकार ने उपलब्ध नहीं कराई तथा उनको किसी प्रकार की आर्थिक सहायता नहींBharat Mein Berojgari Ka Sabse Pramukh Kaaran Hai Badhta Hua Shaharikaran Dekhie Bharat Ek Krishi Pradhan Desh Hai Tatha Pichle Saikadon Varsho Se Bharat Kya Jo Aam Nagarik Hai Wah Krishi Par Nirbhar Raha Hai Jis Prakar Se Aadhunikaran Hua Hai Tatha Shaharikaran Bada Hai Bahut Se Kisan Jo Hai Kisaani Chodkar Yani Ki Apne Khet Tatha Gav Chodkar Shaharon Ki Taraf Ka Man Kar Gaya Sheher Chote Hote Hain To Sa Sheher Sabhi Ko Rojgar Nahi De Sakte Sakte Jiske Kaaran Hua Kya Ki Na To Wah Sheher Mein Rojgar Prapt Kar Pahan Hai Na Hi Krishi Pradhan Jo Apni Arthavyavastha Thi Usko Kisi Prakar Se Sahyog Kar Paye Ab Hua Kya Ki Bahut Se Kisan Apni Kisaani Chod Kar Chale Gaye Kyun Kyonki Jo Kisaani Thi Wah Jaane Ki Kheti V Mukhya Roop Se Varsha Par Nirbhar Hai Aadhunik Sansadhan Sarkar Ne Uplabdha Nahi Karai Tatha Unko Kisi Prakar Ki Aarthik Sahaayata Nahi
Likes  21  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में बेरोजगारी का सबसे बड़ा कारण जनसंख्या वृद्धि है...
जवाब पढ़िये
भारत में बेरोजगारी का सबसे बड़ा कारण जनसंख्या वृद्धि है
Likes  15  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में बेरोजगारी होने के कई कारण हैं पहला कारण तो यह है कि भारत की जो जनसंख्या है वह बहुत ज्यादा है और अत्यधिक तेजी से बढ़ती रही है और दूसरा कारण है भ्रष्टाचार और सरकार की उदासीनता क्योंकि सरकार नए ...
जवाब पढ़िये
भारत में बेरोजगारी होने के कई कारण हैं पहला कारण तो यह है कि भारत की जो जनसंख्या है वह बहुत ज्यादा है और अत्यधिक तेजी से बढ़ती रही है और दूसरा कारण है भ्रष्टाचार और सरकार की उदासीनता क्योंकि सरकार नए रोजगार के अवसर पैदा करने में असफल रही है जब से हमारा देश आजाद हुआ है उस वक्त से ही लोगों को रोजगार नहीं मिल पा रहा है और धीरे-धीरे करके यह समस्याएं आज बहुत बड़ा रुप ले चुकी है और आज हमारे देश में बहुत सारे युवा ऐसे हैं जो बेरोजगार बैठे हैं उन्हें कोई भी काम नहीं मिल पा रहा है और इस विषय में सरकार भी उदासीन है और कोई भी ऐसे प्रयास नहीं कर रही है जिससे लोगों को जल्द से जल्द रोजगार की प्राप्ति हो सके तो यह कुछ कारण है जो मुझे लगता है कि भारत में बेरोजगारी को बढ़ाने में अहम भूमिका अदा कर रही है इसके अलावा लोग शिक्षित कम हैं उन्हें पता नहीं है कि ज्यादा जनसंख्या अगर होगी हमारे देश की तो उन्हें ही परेशानी आने वाली है तू अगर धीरे-धीरे करके शिक्षा का प्रसार बढ़ेगा हमारे देश में तो मुझे लगता बेरोजगारी की समस्या भी कम होंगी तो सबसे पहले सरकार को जनसंख्या नियंत्रण करने की कोशिश करनी चाहिए और कुछ ऐसा रूल बनाना चाहिए कि लूट 1 या फिर 2 बच्चों से ज्यादा पैदा ना करें जैसा कि चीन में हुआ था तू इस तरह से जनसंख्या पर लगाम लगाई जा सकेगी और जो बेरोजगारी की समस्याएं हैं उसे कुछ हद तक जरूर कम किया जा सकता हैBharat Mein Berojgari Hone Ke Kai Kaaran Hain Pehla Kaaran To Yeh Hai Ki Bharat Ki Jo Jansankhya Hai Wah Bahut Jyada Hai Aur Atyadhik Teji Se Badhti Rahi Hai Aur Doosra Kaaran Hai Bhrashtachar Aur Sarkar Ki Udasinta Kyonki Sarkar Naye Rojgar Ke Avsar Paida Karne Mein Asafal Rahi Hai Jab Se Hamara Desh Azad Hua Hai Us Waqt Se Hi Logon Ko Rojgar Nahi Mil Pa Raha Hai Aur Dhire Dhire Karke Yeh Samasyaen Aaj Bahut Bada Roop Le Chuki Hai Aur Aaj Hamare Desh Mein Bahut Sare Yuva Aise Hain Jo Berojgar Baithey Hain Unhen Koi Bhi Kaam Nahi Mil Pa Raha Hai Aur Is Vishay Mein Sarkar Bhi Udasin Hai Aur Koi Bhi Aise Prayas Nahi Kar Rahi Hai Jisse Logon Ko Jald Se Jald Rojgar Ki Prapti Ho Sake To Yeh Kuch Kaaran Hai Jo Mujhe Lagta Hai Ki Bharat Mein Berojgari Ko Badhane Mein Aham Bhumika Ada Kar Rahi Hai Iske Alava Log Shikshit Kam Hain Unhen Pata Nahi Hai Ki Jyada Jansankhya Agar Hogi Hamare Desh Ki To Unhen Hi Pareshani Aane Wali Hai Tu Agar Dhire Dhire Karke Shiksha Ka Prasaar Badhega Hamare Desh Mein To Mujhe Lagta Berojgari Ki Samasya Bhi Kam Hongi To Sabse Pehle Sarkar Ko Jansankhya Niyantran Karne Ki Koshish Karni Chahiye Aur Kuch Aisa Rule Banana Chahiye Ki Loot 1 Ya Phir 2 Bacchon Se Jyada Paida Na Karen Jaisa Ki Chin Mein Hua Tha Tu Is Tarah Se Jansankhya Par Lagaam Lagai Ja Sakegi Aur Jo Berojgari Ki Samasyaen Hain Use Kuch Had Tak Jarur Kam Kiya Ja Sakta Hai
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में बेरोजगारी की बात की जाए तो बेरोजगारी होने का मेन रीजन है भारत में ऑपरेशन बहुत ज्यादा है पूरे वर्ल्ड की बात करें तो सेकंड लार्जेस्ट पॉपुलेशन आता है इंडिया का और साथ-साथ भारत की जोड़ी लिटरेसी र...
जवाब पढ़िये
भारत में बेरोजगारी की बात की जाए तो बेरोजगारी होने का मेन रीजन है भारत में ऑपरेशन बहुत ज्यादा है पूरे वर्ल्ड की बात करें तो सेकंड लार्जेस्ट पॉपुलेशन आता है इंडिया का और साथ-साथ भारत की जोड़ी लिटरेसी रेट है वह भी कम है तो यह दोनों कान है मेरे हिसाब से बेरोजगारी का जिस रेट से जो ग्रोथ रेट है इंडिया का संविधान से मृत्यु जो डेट है जो जन्म डेट है वह बहुत ही अंतर है दोनों में तो एक टीचर है और और लोगों की सोच भी है कि अगर हम ज्यादा टाइम नहीं होगा तो बुढ़ापे में हेल्प होगा कि सभी डीजल हैं तो जनसंख्या बढ़ रही है और कितनी + लिटरेसी रेट है वह भी कम है जिससे कहानी यह भी एक नजर मेंBharat Mein Berojgari Ki Baat Ki Jaye To Berojgari Hone Ka Main Reason Hai Bharat Mein Operation Bahut Jyada Hai Poore World Ki Baat Karen To Second Largest Population Aata Hai India Ka Aur Saath Saath Bharat Ki Jodi Literacy Rate Hai Wah Bhi Kum Hai To Yeh Dono Kaan Hai Mere Hisab Se Berojgari Ka Jis Rate Se Jo Growth Rate Hai India Ka Samvidhan Se Mrityu Jo Date Hai Jo Janm Date Hai Wah Bahut Hi Antar Hai Dono Mein To Ek Teacher Hai Aur Aur Logon Ki Soch Bhi Hai Ki Agar Hum Jyada Time Nahi Hoga To Budhape Mein Help Hoga Ki Sabhi Diesel Hain To Jansankhya Badh Rahi Hai Aur Kitni + Literacy Rate Hai Wah Bhi Kum Hai Jisse Kahani Yeh Bhi Ek Nazar Mein
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Bharat Mein Berojgari Kyon Hai, Why Is Unemployment In India?

vokalandroid