उम्मीद निराशा की ओर ले जाती है, क्या आप इस बात से सहमत हैं ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भी उम्मीद निराशा की ओर ले जाती है पहले तो आप देखिए कि उम्मीद किस प्रकार की होती में दो प्रकार के होते हैं एक अपने आप पर एक दूसरों पर यदि आप दूसरों पर जो उम्मीद करते दूसरों कि वह मकाम कर देंगे कभी मत क...जवाब पढ़िये
भी उम्मीद निराशा की ओर ले जाती है पहले तो आप देखिए कि उम्मीद किस प्रकार की होती में दो प्रकार के होते हैं एक अपने आप पर एक दूसरों पर यदि आप दूसरों पर जो उम्मीद करते दूसरों कि वह मकाम कर देंगे कभी मत को हमेशा निराशा की ओर ले जाती है दूसरों से उम्मीद करते हैं कि आप हमें ऐसा क्यों ले जाते हैं यानी कि उम्मीद की दोनों ही प्रकार दूसरों पर कविता तो अपने आप से उम्मीद करोगे तो आशा हमेशा यही बात याद रखनाBhi Ummid Nirasha Ki Oar Le Jati Hai Pehle To Aap Dekhie Ki Ummid Kis Prakar Ki Hoti Mein Do Prakar Ke Hote Hain Ek Apne Aap Par Ek Dusron Par Yadi Aap Dusron Par Jo Ummid Karte Dusron Ki Wah Kar Denge Kabhi Mat Ko Hamesha Nirasha Ki Oar Le Jati Hai Dusron Se Ummid Karte Hain Ki Aap Hume Aisa Kyon Le Jaate Hain Yani Ki Ummid Ki Dono Hi Prakar Dusron Par Kavita To Apne Aap Se Ummid Karoge To Asha Hamesha Yahi Baat Yaad Rakhna
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उम्मीद स्वयं से तू हमेशा निराशजनक नहीं होती है क्योंकि उम्मीद पर ही दुनिया चलती है तुम कि सभी लोग कुछ ना कुछ मिल लेकर ही काम करते हैं जो भी करते हैं पर अत्यधिक उम्मीद किसी भी चीज से लगाना यह जरूर निरा...जवाब पढ़िये
उम्मीद स्वयं से तू हमेशा निराशजनक नहीं होती है क्योंकि उम्मीद पर ही दुनिया चलती है तुम कि सभी लोग कुछ ना कुछ मिल लेकर ही काम करते हैं जो भी करते हैं पर अत्यधिक उम्मीद किसी भी चीज से लगाना यह जरूर निराशा के कारण हो सकता है बाद में क्योंकि आपके अनुसार कोई काम नहीं होगा तो फिर आप परेशान होंगे इसका एक उपाय हो सकता है कि जो गीता सार है वैसे काम कीजिए जिंदगी में कर्म कीजिए फल की इच्छा मत कीजिए अलग से कर्म ऐसे किया जाना चाहिए जैसे वह उस समय आपकी ड्यूटी आपको करना ही है और मन लगाकर कीजिए पर फल की इच्छा मत कीजिए करमाकर अच्छा तो फल स्वयं आता ही हैUmmid Swayam Se Tu Hamesha Nahi Hoti Hai Kyonki Ummid Par Hi Duniya Chalti Hai Tum Ki Sabhi Log Kuch Na Kuch Mil Lekar Hi Kaam Karte Hain Jo Bhi Karte Hain Par Atyadhik Ummid Kisi Bhi Cheez Se Lagana Yeh Jarur Nirasha Ke Kaaran Ho Sakta Hai Baad Mein Kyonki Aapke Anusar Koi Kaam Nahi Hoga To Phir Aap Pareshan Honge Iska Ek Upay Ho Sakta Hai Ki Jo Geeta Saar Hai Waise Kaam Kijiye Zindagi Mein Karm Kijiye Fal Ki Icha Mat Kijiye Alag Se Karm Aise Kiya Jana Chahiye Jaise Wah Us Samay Aapki Duty Aapko Karna Hi Hai Aur Man Lagakar Kijiye Par Fal Ki Icha Mat Kijiye Karmakar Accha To Fal Swayam Aata Hi Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उम्मीद नहीं राशि की ओर ले जाता है यह चीजें कई बार होती हैं और कई बार नहीं तो उम्मीद निराशा की तरफ उसी वक्त हमें ले जाता है जब हमारे द्वारा किया गया काम गलत है या फिर हमने किसी काम को करने में कुछ कमी ...जवाब पढ़िये
उम्मीद नहीं राशि की ओर ले जाता है यह चीजें कई बार होती हैं और कई बार नहीं तो उम्मीद निराशा की तरफ उसी वक्त हमें ले जाता है जब हमारे द्वारा किया गया काम गलत है या फिर हमने किसी काम को करने में कुछ कमी छोड़ दी है यानी कि हमने इतनी मेहनत नहीं की जितनी हमें करनी चाहिए थी मान लीजिए कि एक स्टूडेंट एग्जाम में इतनी मेहनत नहीं करता है और जब एग्जाम देकर आता है उसके बाद वह अच्छे रिजल्ट की उम्मीद लगा कर बैठा रहता है लेकिन जब उसने अच्छे से पढ़ाई नहीं करी है तो उसका रिजल्ट भी अच्छा नहीं आएगा तो वह चीजें निराशा की ओर ले जाएंगे तू यह किसी भी व्यक्ति की बेवकूफी ही कही जाएगी कि अगर उसने मेहनत नहीं की और फिर भी वह उम्मीद लगा कर बैठा है कि उसका रिजल्ट या फिर जो भी चीजें हैं वह अच्छी होंगी तो यह कभी भी पॉसिबल नहीं है तो हमें हमेशा अपनी पूरी ताकत लगानी चाहिए जिस भी चीज में हम सफलता पाना चाहते हैं क्योंकि बिना मेहनत के सफलता पाना काफी मुश्किलUmmid Nahi Rashi Ki Oar Le Jata Hai Yeh Cheezen Kai Bar Hoti Hain Aur Kai Bar Nahi To Ummid Nirasha Ki Taraf Ussi Waqt Hume Le Jata Hai Jab Hamare Dwara Kiya Gaya Kaam Galat Hai Ya Phir Humne Kisi Kaam Ko Karne Mein Kuch Kami Chod Di Hai Yani Ki Humne Itni Mehnat Nahi Ki Jitni Hume Karni Chahiye Thi Maan Lijiye Ki Ek Student Exam Mein Itni Mehnat Nahi Karta Hai Aur Jab Exam Dekar Aata Hai Uske Baad Wah Acche Result Ki Ummid Laga Kar Baitha Rehta Hai Lekin Jab Usne Acche Se Padhai Nahi Kari Hai To Uska Result Bhi Accha Nahi Aaega To Wah Cheezen Nirasha Ki Oar Le Jaenge Tu Yeh Kisi Bhi Vyakti Ki Bewakoofi Hi Kahi Jayegi Ki Agar Usne Mehnat Nahi Ki Aur Phir Bhi Wah Ummid Laga Kar Baitha Hai Ki Uska Result Ya Phir Jo Bhi Cheezen Hain Wah Acchi Hongi To Yeh Kabhi Bhi Possible Nahi Hai To Hume Hamesha Apni Puri Takat Lagaani Chahiye Jis Bhi Cheez Mein Hum Safalta Pana Chahte Hain Kyonki Bina Mehnat Ke Safalta Pana Kafi Mushkil
Likes  13  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है कि आप किस चीज़ की उम्मीद कर रहे हैं अगर मैं चांद को पाने की उम्मीद लगा बैठा हूं तो मुझे निराशा ही निराशा हासिल होगी लेकिन मैं कुछ बनने की जीवन में आगे बढ़ने क...जवाब पढ़िये
देखिए यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है कि आप किस चीज़ की उम्मीद कर रहे हैं अगर मैं चांद को पाने की उम्मीद लगा बैठा हूं तो मुझे निराशा ही निराशा हासिल होगी लेकिन मैं कुछ बनने की जीवन में आगे बढ़ने की या पढ़ने की या किसी चीज़ की उम्मीद लगा जो कि मिलना पॉसिबल है जो मैं पढ़ सकती हूं अगर मेहनत करूं तो तुम मुझे निराशा कभी हासिल नहीं होगी अगर मैं उस चीज को ना भी पा सकी तो मुझे इतनी तसल्ली जरूर होगी कि मैंने उसके लिए जी तोड़ मेहनत की लेकिन फिर भी वह मुझे नहीं मिला कोई बात नहीं पर मुझे इस बीच में सीखने को बहुत कुछ मिलेगा अगर आप निराशावादी है तो पॉजिटिव चीजों में भी आप निराश हो सकते हैं लेकिन अगर आप आशावादी हैं तो अगर आपके साथ सब कुछ गलत भी हो रहा है तो भी आप पॉजिटिव रख सकते हैं खुद को इसीलिए मैं बोलना चाहूंगी कि कभी भीDekhie Yeh Puri Tarah Se Aap Par Nirbhar Karta Hai Ki Aap Kis Cheese Ki Ummid Kar Rahe Hain Agar Main Chand Ko Pane Ki Ummid Laga Baitha Hoon To Mujhe Nirasha Hi Nirasha Hasil Hogi Lekin Main Kuch Banane Ki Jeevan Mein Aage Badhne Ki Ya Padhne Ki Ya Kisi Cheese Ki Ummid Laga Jo Ki Milna Possible Hai Jo Main Padh Sakti Hoon Agar Mehnat Karun To Tum Mujhe Nirasha Kabhi Hasil Nahi Hogi Agar Main Us Cheez Ko Na Bhi Pa Saki To Mujhe Itni Jarur Hogi Ki Maine Uske Liye Ji Tod Mehnat Ki Lekin Phir Bhi Wah Mujhe Nahi Mila Koi Baat Nahi Par Mujhe Is Bich Mein Seekhne Ko Bahut Kuch Milega Agar Aap Nirashavaadi Hai To Positive Chijon Mein Bhi Aap Nirash Ho Sakte Hain Lekin Agar Aap Aashavadi Hain To Agar Aapke Saath Sab Kuch Galat Bhi Ho Raha Hai To Bhi Aap Positive Rakh Sakte Hain Khud Ko Isliye Main Bolna Ki Kabhi Bhi
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं बात से बिल्कुल सहमत हूं अगर कुछ काम में उम्मीद करते हैं और वह किसी कारण से पूरा नहीं हुआ तो हमें बहुत बुरा लगेगा उम्मीद रखना बहुत जरूरी है लेकिन सिर्फ काम करते वक्त हम जो भी काम कर रहे हैं उसमें ह...जवाब पढ़िये
मैं बात से बिल्कुल सहमत हूं अगर कुछ काम में उम्मीद करते हैं और वह किसी कारण से पूरा नहीं हुआ तो हमें बहुत बुरा लगेगा उम्मीद रखना बहुत जरूरी है लेकिन सिर्फ काम करते वक्त हम जो भी काम कर रहे हैं उसमें हंड्रेड परसेंट उम्मीद रखते करना चाहिए हमारी तरफ से काम हो जाने के बाद परिणाम का उम्मीद कभी नहीं रखना चाहिएMain Baat Se Bilkul Sahmat Hoon Agar Kuch Kaam Mein Ummid Karte Hain Aur Wah Kisi Kaaran Se Pura Nahi Hua To Hume Bahut Bura Lagega Ummid Rakhna Bahut Zaroori Hai Lekin Sirf Kaam Karte Waqt Hum Jo Bhi Kaam Kar Rahe Hain Usamen Hundred Percent Ummid Rakhate Karna Chahiye Hamari Taraf Se Kaam Ho Jaane Ke Baad Parinam Ka Ummid Kabhi Nahi Rakhna Chahiye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपने कहावत तो सुनी होगी उम्मीद पर दुनिया कायम है अगर हम आशा करना ही बंद कर देंगे वह करना ही बंद कर देंगे तो सरवाइव कैसे करेंगे वह पॉजिटिविटी कहां से आएगी और जो है और एक खुशी कहां से आएगी अगर बिन...जवाब पढ़िये
देखिए आपने कहावत तो सुनी होगी उम्मीद पर दुनिया कायम है अगर हम आशा करना ही बंद कर देंगे वह करना ही बंद कर देंगे तो सरवाइव कैसे करेंगे वह पॉजिटिविटी कहां से आएगी और जो है और एक खुशी कहां से आएगी अगर बिना होके मेरे साथ में कोई भी इंटरेस्ट आता ही नहीं कुछ इसको करने के लिए यह गलत है क्या उसको पर बहुत ज्यादा डिपेंडेंट हो जाए या फिर आप इतना ज्यादा हो जाए कि नहीं यह होगा तभी मैं करूंगा नहीं तो नहीं करूंगा ऐसा नहीं होता तो बैक अप प्लान हमेशा बहुत ज्यादा जरूरी होता है और कहा कि अगर नहीं हुआ तो मैं दूसरा क्या कर सकता हूं उसे ठीक करने के लिए तो आप की ट्रेन कितनी होनी चाहिए अगर कि आप बहुत ही रखें और अगर वह चीज नहीं होती पॉइंट ना हो शायद कुछ और अच्छा होने वाला हो तो रखें उससे बहुत ज्यादा डिपेंड ना होDekhie Aapne Kahaavat To Suni Hogi Ummid Par Duniya Kayam Hai Agar Hum Asha Karna Hi Band Kar Denge Wah Karna Hi Band Kar Denge To Survive Kaise Karenge Wah Kahan Se Aaegi Aur Jo Hai Aur Ek Khushi Kahan Se Aaegi Agar Bina Hoke Mere Saath Mein Koi Bhi Interest Aata Hi Nahi Kuch Isko Karne Ke Liye Yeh Galat Hai Kya Usko Par Bahut Jyada Dependent Ho Jaye Ya Phir Aap Itna Jyada Ho Jaye Ki Nahi Yeh Hoga Tabhi Main Karunga Nahi To Nahi Karunga Aisa Nahi Hota To Back Up Plan Hamesha Bahut Jyada Zaroori Hota Hai Aur Kaha Ki Agar Nahi Hua To Main Doosra Kya Kar Sakta Hoon Use Theek Karne Ke Liye To Aap Ki Train Kitni Honi Chahiye Agar Ki Aap Bahut Hi Rakhen Aur Agar Wah Cheez Nahi Hoti Point Na Ho Shayad Kuch Aur Accha Hone Wala Ho To Rakhen Usse Bahut Jyada Depend Na Ho
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीमेल बात तो बिल्कुल सहमत नहीं हूं उम्मीद हो ना हो हो ना कभी भी निराशा की तरह कभी-कभी ऐसा होता है जब आप गलत लोगों से डील करो या आप गलत सिचुएशन में हो तब उम्मीद चले निराशा की तरफ ले जाए लेकिन अगर आप अच...जवाब पढ़िये
जीमेल बात तो बिल्कुल सहमत नहीं हूं उम्मीद हो ना हो हो ना कभी भी निराशा की तरह कभी-कभी ऐसा होता है जब आप गलत लोगों से डील करो या आप गलत सिचुएशन में हो तब उम्मीद चले निराशा की तरफ ले जाए लेकिन अगर आप अच्छा काम कर रहे हो आपने उस काम के लिए मेहनत की है और अगर आप उम्मीद रखे हुए हो कि आपको अच्छा रिजल्ट मिलेगा तो मेरे साथ कहीं ना कहीं वह चीज आपके लिए होती है रिजल्ट से जरूर मिलता है कई बार ऐसा जरूर होता है कि हम कोई गलत काम कर रहे होते हैं तरीका कल तुमने अपनाया होता और हम उम्मीद रखते हैं कि जो काम है वह सही होगा तो वह राशि की तरफ ले कर जाएगी गलत काम का नतीजा गलत ही मिलता है हर काम में उस काम को सफल बनाने के लिए कामयाब बनाने के लिए उम्मीद है उसका दामन कभी नहीं छोड़ना चाहिए और निराशा यह सब चलते रहते हैं लेकिन उम्मीद और पॉजिटिव वह कौनGmail Baat To Bilkul Sahmat Nahi Hoon Ummid Ho Na Ho Ho Na Kabhi Bhi Nirasha Ki Tarah Kabhi Kabhi Aisa Hota Hai Jab Aap Galat Logon Se Deal Karo Ya Aap Galat Situation Mein Ho Tab Ummid Chale Nirasha Ki Taraf Le Jaye Lekin Agar Aap Accha Kaam Kar Rahe Ho Aapne Us Kaam Ke Liye Mehnat Ki Hai Aur Agar Aap Ummid Rakhe Huye Ho Ki Aapko Accha Result Milega To Mere Saath Kahin Na Kahin Wah Cheez Aapke Liye Hoti Hai Result Se Jarur Milta Hai Kai Bar Aisa Jarur Hota Hai Ki Hum Koi Galat Kaam Kar Rahe Hote Hain Tarika Kal Tumne Apnaya Hota Aur Hum Ummid Rakhate Hain Ki Jo Kaam Hai Wah Sahi Hoga To Wah Rashi Ki Taraf Le Kar Jayegi Galat Kaam Ka Natija Galat Hi Milta Hai Har Kaam Mein Us Kaam Ko Safal Banane Ke Liye Kamyab Banane Ke Liye Ummid Hai Uska Daman Kabhi Nahi Chodna Chahiye Aur Nirasha Yeh Sab Chalte Rehte Hain Lekin Ummid Aur Positive Wah Kaun
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने बोला की उम्मीद निराशा की ओर ले जाती है यह कहीं ना कहीं से सही बात है देखिए जब हम किसी से उम्मीद करते हैं और वह उम्मीद पर खरा नहीं उतरता है तो उम्मीद निराशा की तरफ हमें ले जाता है लेकिन हम अगर किस...जवाब पढ़िये
आपने बोला की उम्मीद निराशा की ओर ले जाती है यह कहीं ना कहीं से सही बात है देखिए जब हम किसी से उम्मीद करते हैं और वह उम्मीद पर खरा नहीं उतरता है तो उम्मीद निराशा की तरफ हमें ले जाता है लेकिन हम अगर किसी से उम्मीद करते हैं अगर वह उम्मीद पे सही उतरता है तो हमारा कॉन्फिडेंस बढ़ जाता है और हम बहुत खुश होते हमारे देश के सवा सौ करोड़ देशवासियों ने प्रधानमंत्री मोदी जी के ऊपर भरोसा किया और 2014 में उन्होंने कमल का बटन दबाया आज देखिए पूरी जनता पूरा देश हमारे पूरे भारतवासी आज बहुत खुश हैं देखे पुलवामा में हमला हुआ प्रधानमंत्री मोदी जी ने तुरंत बदला लिया 13 दिन बदला लिया और हमारे 40 जवानों को पुलवामा हमले में मारा गया था शहीद हुए थे हमारे जवान और हम लोगों ने 400 आतंकवादियों को एक बार में मार दिया जिससे हमारे देश की जनता बहुत खुश है और मोदी जी के कार्य से बहुत खुश हैं जब मोदी जी जैसे लोगों से उम्मीद की जाती है जब मोदी जी जैसे लोग उम्मीद को पूरा करते हैं तो फिर उम्मीद करने वाले को खुशी मिलती है जब उम्मीद पूरा नहीं होता है तब निराशा की ओर हमारी उम्र बीत जाती है इसलिए आने वाले टाइम में हम सभी लोगों को मिलजुल कर अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को देना होगा ताकि हमारी उम्मीद पूरा हो सके हमारी उम्मीद पर मोदी जी खरा उतर सके और हमारा देश शक्तिशाली बन सके धन्यवाद
Likes  20  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Ummid Nirasha Ki Aur Le Jati Hai Kya Aap Is Baat Se Sahmat Hain ?, Hope Leads To Disappointment, Do You Agree With This? , इस बात से सहमत

vokalandroid