आप विषाक्त (toxic) लोगों से कैसे दूर रहेंगे? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बहुत जरूरी चीजें अपने चारों और दीवारें खड़ी करना अब यकीन माने ना माने अगर अपने चारों और दीवारें खड़ी कर देते हैं ना बहुत कम लोगों से वार को भेजकर क्या आपके पास तक आ सकते हैं और जब बहुत कम लोग आपके ...जवाब पढ़िये
एक बहुत जरूरी चीजें अपने चारों और दीवारें खड़ी करना अब यकीन माने ना माने अगर अपने चारों और दीवारें खड़ी कर देते हैं ना बहुत कम लोगों से वार को भेजकर क्या आपके पास तक आ सकते हैं और जब बहुत कम लोग आपके सिवा को भेजोEk Bahut Zaroori Cheezen Apne Charo Aur Deewarein Khadi Karna Ab Yakin Mane Na Mane Agar Apne Charo Aur Deewarein Khadi Kar Dete Hain Na Bahut Kum Logon Se Var Ko Bhejkar Kya Aapke Paas Tak Aa Sakte Hain Aur Jab Bahut Kum Log Aapke Siva Ko Bhejo
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे मरने की दुर्घटना से दूर भले दो जो यह लोग होते हैं जो टॉक्सिक होते हैं बस आप सोते हैं आपकी जिंदगी में वह एक तरीके से अगर आपकी जिंदगी में लंबे समय के लिए रहते हैं तो कुछ ना कुछ दुर्घटना घटती जाती ह...जवाब पढ़िये
मेरे मरने की दुर्घटना से दूर भले दो जो यह लोग होते हैं जो टॉक्सिक होते हैं बस आप सोते हैं आपकी जिंदगी में वह एक तरीके से अगर आपकी जिंदगी में लंबे समय के लिए रहते हैं तो कुछ ना कुछ दुर्घटना घटती जाती है तो बेहतर है कि आप शुरू से ही ऐसे लोगों से दूर रहें मेरा तो यह तरीका होता है उन से दूर रहने का कि जब भी कभी ऐसे किसी इंसान से मिलती है और यह जांच पड़ताल हो जाती है कि हां भाई यह इंसान आपके दिमाग की सेहत के लिए अच्छा नहीं है तो मैं इस तरीके से याद करने लग जाती हो जैसे कि मैं बहुत ज्यादा बिजी हूं बहुत काम है मुझे और अगर काम के दौरान ऐसा कोई इंसान मर जाता है तो फिर मैं और ज्यादा बिजी होने की एक्टिंग करती हूं जो काम होता है उसे डबल काम दिखाने की कोशिश करते हैं और यह बताने की कोशिश करती हूं कि आपके कॉमेंट अभी फिलहाल मेरी जिंदगी में नहीं क्योंकि मेरे साथ मेरे लिए मेरा काम ज्यादा इंपोर्टेंट है और अगर कभी ऐसा होता है कि उसे भी इंसान जो है वह नहीं जान पा रहा है और नहीं मान पा रहा है कि भाई तुम्हें या नहीं होना चाहिए मैं कोशिश करती हूं कि मैं रोड हो जाऊं इंसान से और साफ-साफ बोल दूं कि बहुतMere Marne Ki Durghatna Se Dur Bhale Do Jo Yeh Log Hote Hain Jo Toxic Hote Hain Bus Aap Sote Hain Aapki Zindagi Mein Wah Ek Tarike Se Agar Aapki Zindagi Mein Lambe Samay Ke Liye Rehte Hain To Kuch Na Kuch Durghatna Ghatati Jati Hai To Behtar Hai Ki Aap Shuru Se Hi Aise Logon Se Dur Rahen Mera To Yeh Tarika Hota Hai Un Se Dur Rehne Ka Ki Jab Bhi Kabhi Aise Kisi Insaan Se Milti Hai Aur Yeh Janch Padatal Ho Jati Hai Ki Haan Bhai Yeh Insaan Aapke Dimag Ki Sehat Ke Liye Accha Nahi Hai To Main Is Tarike Se Yaad Karne Lag Jati Ho Jaise Ki Main Bahut Jyada Busy Hoon Bahut Kaam Hai Mujhe Aur Agar Kaam Ke Dauran Aisa Koi Insaan Mar Jata Hai To Phir Main Aur Jyada Busy Hone Ki Acting Karti Hoon Jo Kaam Hota Hai Use Double Kaam Dikhane Ki Koshish Karte Hain Aur Yeh Batane Ki Koshish Karti Hoon Ki Aapke Cament Abhi Filhal Meri Zindagi Mein Nahi Kyonki Mere Saath Mere Liye Mera Kaam Jyada Important Hai Aur Agar Kabhi Aisa Hota Hai Ki Use Bhi Insaan Jo Hai Wah Nahi Jaan Pa Raha Hai Aur Nahi Maan Pa Raha Hai Ki Bhai Tumhein Ya Nahi Hona Chahiye Main Koshish Karti Hoon Ki Main Road Ho Jaun Insaan Se Aur Saaf Saaf Bol Doon Ki Bahut
Likes  4  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर मुझे पता चलता है कि कोई विशेष है तो मैं उससे ज्यादा बात नहीं करूंगी और मैं ज्यादातर उसके बुरी बातों को ध्यान नहीं दूंगी और उसके काम और बाद में मुझे प्रभावित करने के लिए नहीं एक मौका ही नहीं दूंगी...जवाब पढ़िये
अगर मुझे पता चलता है कि कोई विशेष है तो मैं उससे ज्यादा बात नहीं करूंगी और मैं ज्यादातर उसके बुरी बातों को ध्यान नहीं दूंगी और उसके काम और बाद में मुझे प्रभावित करने के लिए नहीं एक मौका ही नहीं दूंगीAgar Mujhe Pata Chalta Hai Ki Koi Vishesh Hai To Main Usse Jyada Baat Nahi Karungi Aur Main Jyadatar Uske Buri Baaton Ko Dhyan Nahi Dungi Aur Uske Kaam Aur Baad Mein Mujhe Prabhavit Karne Ke Liye Nahi Ek Mauka Hi Nahi Dungi
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Aap Vishakt (toxic) Logon Se Kaise Dur Rahenge, How Do You Stay Away From Toxic People?

vokalandroid