200 रेलवे स्टेशनों पर नैपकिन डिस्पेंसर्स लगाए जाने हैं ईस महिला दिवस पर । क्या यह जागरूकता पैदा करने के लिए काफ़ी है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय रेलवे के द्वारा लिया गया यह डिसीजन बहुत ही अच्छा है और इसकी बिल्कुल सराहना की जानी चाहिए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया है कि 200 रेलवे स्टेशनों पर नैपकिन डिफेंस लगाए जाने हैं और महिला दिवस 8 म...जवाब पढ़िये
भारतीय रेलवे के द्वारा लिया गया यह डिसीजन बहुत ही अच्छा है और इसकी बिल्कुल सराहना की जानी चाहिए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया है कि 200 रेलवे स्टेशनों पर नैपकिन डिफेंस लगाए जाने हैं और महिला दिवस 8 मार्च को मनाया जाता है तो 8 मार्च तक यह सारा काम पूरा कर लिया जाएगा पहले से ही नई दिल्ली रेलवे स्टेशन और भोपाल रेलवे स्टेशन पर इस तरह की नैपकिन डिस्पेंसर लगे हुए हैं लेकिन अब भारत के 200 बड़े रेलवे स्टेशनों पर इस तरह की व्यवस्था की जा रही है तो इससे महिलाओं को काफी सहूलियत होगी और यह जो नैपकिंस डिस्पेंसर हैं वहां से काफी कम पैसे में ही नैपकिंस प्रोवाइड की जाएगी और यह पूरी तरीके से बायोडिग्रेडेबल होगी यानी कि इंवॉल्वमेंट फ्रेंडली तो इस वजह से मुझे लगता है कि यह रेलवे के द्वारा लिया गया एक बहुत ही अच्छा कदम है और इसी तरह से अन्य जो रेलवे स्टेशन है जो कि छोटी जगहों पर हैं वहां पर भी इस तरह की चीजें लगाई जानी चाहिए ताकि महिलाओं की कि जोBhartiya Railway Ke Dwara Liya Gaya Yeh Decision Bahut Hi Accha Hai Aur Iski Bilkul Sarahana Ki Jani Chahiye Rail Mantri Piyush Goyal Ne Bataya Hai Ki 200 Railway Stationo Par Napkin Defence Lagaye Jaane Hain Aur Mahila Divas 8 March Ko Manaya Jata Hai To 8 March Tak Yeh Saara Kaam Pura Kar Liya Jayega Pehle Se Hi Nayi Delhi Railway Station Aur Bhopal Railway Station Par Is Tarah Ki Napkin Dispenser Lage Hue Hain Lekin Ab Bharat Ke 200 Bade Railway Stationo Par Is Tarah Ki Vyavastha Ki Ja Rahi Hai To Isse Mahilaon Ko Kafi Sahuliyat Hogi Aur Yeh Jo Naipakins Dispenser Hain Wahan Se Kafi Kum Paise Mein Hi Naipakins Provide Ki Jayegi Aur Yeh Puri Tarike Se Biodegradable Hogi Yani Ki Invalwament Frendali To Is Wajah Se Mujhe Lagta Hai Ki Yeh Railway Ke Dwara Liya Gaya Ek Bahut Hi Accha Kadam Hai Aur Isi Tarah Se Anya Jo Railway Station Hai Jo Ki Choti Jagho Par Hain Wahan Par Bhi Is Tarah Ki Cheezen Lagai Jani Chahiye Taki Mahilaon Ki Ki Jo
Likes  11  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इस महिला दिवस पर जो 200 रेलवे स्टेशन नैपकिन डिस्पेंसरी मशीन लगाई जाएंगी मुझे लगता है कि बहुत अच्छा कदम है सरकार की ओर से और जब से यह पैडमैन रिलीज हुई तब से सरकार ने भी मुझे लगता है कि इस चीज के ...जवाब पढ़िये
देखिए इस महिला दिवस पर जो 200 रेलवे स्टेशन नैपकिन डिस्पेंसरी मशीन लगाई जाएंगी मुझे लगता है कि बहुत अच्छा कदम है सरकार की ओर से और जब से यह पैडमैन रिलीज हुई तब से सरकार ने भी मुझे लगता है कि इस चीज के बारे में सोचा था हालांकि अगर आप पहले देखेंगे तो इस प्रॉब्लम के बारे में समस्या के बारे में किसी ने नहीं किसी भी सरकार रही हो किसी सरकार ने इस पर ध्यान नहीं दिया कोई भी रेलवे मिनिस्टर रहा हूं ठीक है लेकिन इस बार ऐसा किया गया तो मुझे लगता है बिल्कुल ठीक किया गया लेकिन हां मैं यह नहीं कह सकता कि यह केवल यही काफी है अभी बहुत सारा कार्य करना पड़ेगा सरकार कोDekhie Is Mahila Divas Par Jo 200 Railway Station Napkin Dispensary Machine Lagai Jaengi Mujhe Lagta Hai Ki Bahut Accha Kadam Hai Sarkar Ki Oar Se Aur Jab Se Yeh Padman Release Hui Tab Se Sarkar Ne Bhi Mujhe Lagta Hai Ki Is Cheez Ke Baare Mein Socha Tha Halanki Agar Aap Pehle Dekhenge To Is Problem Ke Baare Mein Samasya Ke Baare Mein Kisi Ne Nahi Kisi Bhi Sarkar Rahi Ho Kisi Sarkar Ne Is Par Dhyan Nahi Diya Koi Bhi Railway Minister Raha Hoon Theek Hai Lekin Is Baar Aisa Kiya Gaya To Mujhe Lagta Hai Bilkul Theek Kiya Gaya Lekin Haan Main Yeh Nahi Keh Sakta Ki Yeh Kewal Yahi Kafi Hai Abhi Bahut Saara Karya Karna Padega Sarkar Ko
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक हद तक जागरूकता पैदा करने के लिए अच्छा कदम है लेकिन यह काफी नहीं है पूरी तरीके से और भी कई सारे मुद्दे हैं जिसमें सबसे इंपोर्टेंट और सबसे पहला मुद्दा तो यही आता है कि थाने की आज की रेट जो है वह बहुत...जवाब पढ़िये
एक हद तक जागरूकता पैदा करने के लिए अच्छा कदम है लेकिन यह काफी नहीं है पूरी तरीके से और भी कई सारे मुद्दे हैं जिसमें सबसे इंपोर्टेंट और सबसे पहला मुद्दा तो यही आता है कि थाने की आज की रेट जो है वह बहुत ज्यादा है अगर एक मिडिल क्लास घर के बजट का कि हम बात करें तो उनके हिसाब से भी यह ज्यादा होता है तो अगर हम दोनों मिल क्लास और उससे भी नीचे तक देखी चलो ज्ञान की बात करें तो उनके लिए तो यह पॉसिबल हो जाता है तो जागरूकता तो अच्छी तरीके से या यूं कहें कि पूरी तरीके से तब फैलेगी जब इसकी रेट कम कर दी जाएंगी रेट कम होगी तो यह हर किसी के लिए अपने बल होता चला जाएगा गांव गांव शहर शहर गली गली औरतें का इस्तेमाल कर पाएंगी कपड़े का इस्तेमाल बंद करके और हाइजीन तब जाकर पूरी तरीके से हर एक घर में औरतों के लिए फैलेगा और बढ़ेगा तो रेट मुझे लगता है कि सबसे बड़ा इंपॉर्टेंट पॉइंट है जिसे की जागरूकता फैल सकती हैEk Had Tak Jagrukta Paida Karne Ke Liye Accha Kadam Hai Lekin Yeh Kafi Nahi Hai Puri Tarike Se Aur Bhi Kai Sare Mudde Hain Jisme Sabse Important Aur Sabse Pehla Mudda To Yahi Aata Hai Ki Thane Ki Aaj Ki Rate Jo Hai Wah Bahut Jyada Hai Agar Ek Middle Class Ghar Ke Budget Ka Ki Hum Baat Karen To Unke Hisab Se Bhi Yeh Jyada Hota Hai To Agar Hum Dono Mil Class Aur Usse Bhi Neeche Tak Dekhi Chalo Gyaan Ki Baat Karen To Unke Liye To Yeh Possible Ho Jata Hai To Jagrukta To Acchi Tarike Se Ya Yun Kahen Ki Puri Tarike Se Tab Failegi Jab Iski Rate Kum Kar Di Jaengi Rate Kum Hogi To Yeh Har Kisi Ke Liye Apne Bal Hota Chala Jayega Gav Gav Sheher Sheher Gali Gali Auraten Ka Istemal Kar Paengi Kapde Ka Istemal Band Karke Aur Hygiene Tab Jaakar Puri Tarike Se Har Ek Ghar Mein Auraton Ke Liye Failega Aur Badhega To Rate Mujhe Lagta Hai Ki Sabse Bada Important Point Hai Jise Ki Jagrukta Fail Sakti Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हालांकि यह कदम बहुत ही सराहनीय है मुझे नहीं लगता कि यह काफी रहेगा क्योंकि इंडियन पॉपुलेशन एक तो बहुत ज्यादा है तो इन डिस्टेंस उसका बहुत जल्दी खत्म होना बहुत ही ईजी है मेंटेनेंस मेंटेनेंस इशू हो सकता ह...जवाब पढ़िये
हालांकि यह कदम बहुत ही सराहनीय है मुझे नहीं लगता कि यह काफी रहेगा क्योंकि इंडियन पॉपुलेशन एक तो बहुत ज्यादा है तो इन डिस्टेंस उसका बहुत जल्दी खत्म होना बहुत ही ईजी है मेंटेनेंस मेंटेनेंस इशू हो सकता है दूसरी बात लोगों को अभी तक मेंटलिटी उनके सही नहीं हुई है लोगों को अभी तक अच्छे से समझाया नहीं गया है क्या होता है किस तरह इस्तेमाल करना चाहिए ढंग से रखना चाहिए नहीं रखना चाहिए तो मुझे लगता है कि बहुत लोग ऐसे डिस्पेंसरी को देखकर भी मंडली जन्म या फिर जो मशीन जैसे हमारी ट्रेन भी हम देखते हैं कैसे खराब हो जाती हैं या लोग कर देते हैं वैसे जनरल पब्लिक इनके साथ भी ऐसा ही करेंगी तो यह काफी नहीं है इससे पहले हमें अच्छे से लोगों को एडिटHalanki Yeh Kadam Bahut Hi Sarahniya Hai Mujhe Nahi Lagta Ki Yeh Kafi Rahega Kyonki Indian Population Ek To Bahut Jyada Hai To In Distance Uska Bahut Jaldi Khatam Hona Bahut Hi Easy Hai Mentenens Mentenens Issue Ho Sakta Hai Dusri Baat Logon Ko Abhi Tak Mentaliti Unke Sahi Nahi Hui Hai Logon Ko Abhi Tak Acche Se Samjhaya Nahi Gaya Hai Kya Hota Hai Kis Tarah Istemal Karna Chahiye Dhang Se Rakhna Chahiye Nahi Rakhna Chahiye To Mujhe Lagta Hai Ki Bahut Log Aise Dispensary Ko Dekhkar Bhi Mandali Janm Ya Phir Jo Machine Jaise Hamari Train Bhi Hum Dekhte Hain Kaise Kharab Ho Jati Hain Ya Log Kar Dete Hain Waise General Public Inke Saath Bhi Aisa Hi Karengi To Yeh Kafi Nahi Hai Isse Pehle Hume Acche Se Logon Ko Edit
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी दूसरों रेलवे स्टेशन पर नैपकिन डिस्पेंसर लगाए गए सारे चुनाव केंद्र से पेंसिल आज के समय में यह जानकर मुझे बहुत अजीब लगा कि और बहुत सारी महिलाएं बहुत सारी का मूर्ति प्रदूषण और फीमेल उनको मालूम ही नह...जवाब पढ़िये
विकी दूसरों रेलवे स्टेशन पर नैपकिन डिस्पेंसर लगाए गए सारे चुनाव केंद्र से पेंसिल आज के समय में यह जानकर मुझे बहुत अजीब लगा कि और बहुत सारी महिलाएं बहुत सारी का मूर्ति प्रदूषण और फीमेल उनको मालूम ही नहीं है आज सैलरी के बारे में या फिर आप किनके यूसेज के बारे में या कुछ भी पीरियड एग्जाम एजुकेशन से रिलेटेड तू ही तू तू सो और रेलवे स्टेशन फर्नांडिस मनचला गायक दें ये 1 शुरू आज तो है प्लीज कुछ तो सेट किया जा रहा है यह कोई बहुत बड़ा सेट नहीं है लेकिन तुम केसे तिनके तिनके जोड़कर एक हौसला बनता है बूंद बूंद से सागर बनता है तो इसे धीरे-धीरे छोटे सेट किए जाएंगे तो बड़ी सेक्स पर फाइनली लिए जाएंगे और चीजें जरूर आएंगेVikee Dusron Railway Station Par Napkin Dispenser Lagaye Gaye Sare Chunav Kendra Se Pencil Aaj Ke Samay Mein Yeh Jaankar Mujhe Bahut Ajib Laga Ki Aur Bahut Saree Mahilaye Bahut Saree Ka Murti Pradushan Aur Female Unko Maloom Hi Nahi Hai Aaj Salary Ke Baare Mein Ya Phir Aap Kinke Usage Ke Baare Mein Ya Kuch Bhi Period Exam Education Se Related Tu Hi Tu Tu So Aur Railway Station Fernandis Manchala Gayak Dein Ye 1 Shuru Aaj To Hai Please Kuch To Set Kiya Ja Raha Hai Yeh Koi Bahut Bada Set Nahi Hai Lekin Tum Kaise Tinake Tinake Jodkar Ek Haushala Banta Hai Boond Boond Se Sagar Banta Hai To Ise Dhire Dhire Chote Set Kiye Jaenge To Badi Sex Par Finally Liye Jaenge Aur Cheezen Jarur Aayenge
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिस्पेंसरी का निर्णय बहुत ही अच्छा है और बहुत ही अच्छे विचार हैं यह शुरू में स्टेशन भोपाल पर लगाया गया था और उसे सभी ने बहुत सराहा क्योंकि उससे कई महिलाओं को सुविधा होगी जो वहां काम करती है निम्न स्तर...जवाब पढ़िये
डिस्पेंसरी का निर्णय बहुत ही अच्छा है और बहुत ही अच्छे विचार हैं यह शुरू में स्टेशन भोपाल पर लगाया गया था और उसे सभी ने बहुत सराहा क्योंकि उससे कई महिलाओं को सुविधा होगी जो वहां काम करती है निम्न स्तर की नंद क्लास की महिलाएं और ट्रेन में सफर करती है महिलाए उन्हें अचानक आवश्यकता पड़ जाती है तब भी यह एक बहुत ही अच्छा कदम है रेलवे के द्वारा उठाया गया और यह शुरुआत है पहले एक स्टेशन पर हुआ था और उसको देखकर बाकी और 200 स्टेशन पर नारी दिवस की धनि में लगाने की सोचा है तो यह वाकई में प्रशंसनीय कदम है मैं दिलबर को उसके बारे में बहुत ही अच्छे से शुभकामनाएं देना चाहूंगी कि उन्होंने महिलाओं के बारे में इतना सोचा अगर हमारा समाज महिलाओं की सुविधाएं और महिलाओं की तकलीफ़ों को समझDispensary Ka Nirnay Bahut Hi Accha Hai Aur Bahut Hi Acche Vichar Hain Yeh Shuru Mein Station Bhopal Par Lagaya Gaya Tha Aur Use Sabhi Ne Bahut Saraaha Kyonki Usse Kai Mahilaon Ko Suvidha Hogi Jo Wahan Kaam Karti Hai Nimn Sthar Ki Nand Class Ki Mahilaye Aur Train Mein Safar Karti Hai Mahilaye Unhen Achanak Avashyakta Padh Jati Hai Tab Bhi Yeh Ek Bahut Hi Accha Kadam Hai Railway Ke Dwara Uthaya Gaya Aur Yeh Shuruvat Hai Pehle Ek Station Par Hua Tha Aur Usko Dekhkar Baki Aur 200 Station Par Nari Divas Ki Dhani Mein Lagane Ki Socha Hai To Yeh Vaakai Mein Prashansaniya Kadam Hai Main Dilbar Ko Uske Baare Mein Bahut Hi Acche Se Subhkamnaayain Dena Chahungi Ki Unhone Mahilaon Ke Baare Mein Itna Socha Agar Hamara Samaaj Mahilaon Ki Suvidhayen Aur Mahilaon Ki Takalifon Ko Samajh
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज के अच्छा-अच्छा फिल्म रिलीज हुई है और अक्षय कुमार ने जो है वह पेड़ के बारे में जागरूकता फैलाने की कोशिश की है और जिसको माना जाता था हमारे कंट्री में अगर कोई लड़की पहनती थी या उसको प्रियंका जब टाइम ह...जवाब पढ़िये
आज के अच्छा-अच्छा फिल्म रिलीज हुई है और अक्षय कुमार ने जो है वह पेड़ के बारे में जागरूकता फैलाने की कोशिश की है और जिसको माना जाता था हमारे कंट्री में अगर कोई लड़की पहनती थी या उसको प्रियंका जब टाइम हो तब से क्या समझते थे और से बातचीत कर दो अभी लोग जो है थोड़े ओपन माइंडेड है जो वह है मूवी देखने के बाद और थोड़े स्पैरो हैं और अभी जो इंडियन रेलवेज है वह अभी दो स्टेशनों पर जो है वह ऑनलाइन टेस्ट मैसेज सभी लगाने वाला है इस महिला दिवस पर तो यह बहुत ही अच्छी बात हैAaj Ke Accha Accha Film Release Hui Hai Aur Akshay Kumar Ne Jo Hai Wah Ped Ke Baare Mein Jagrukta Phailane Ki Koshish Ki Hai Aur Jisko Mana Jata Tha Hamare Country Mein Agar Koi Ladki Pahanti Thi Ya Usko Priyanka Jab Time Ho Tab Se Kya Samajhte The Aur Se Batchit Kar Do Abhi Log Jo Hai Thode Open Minded Hai Jo Wah Hai Movie Dekhne Ke Baad Aur Thode Spairo Hain Aur Abhi Jo Indian Railways Hai Wah Abhi Do Stationo Par Jo Hai Wah Online Test Massage Sabhi Lagane Wala Hai Is Mahila Divas Par To Yeh Bahut Hi Acchi Baat Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: 200 Railway Stationo Par Napkin Dispensers Lagaye Jaane Hain Ees Mahila Divas Par Kya Yeh Jagrukta Paida Karne Ke Liye Kafi Hai, Napkin Dispensers Are To Be Installed At 200 Railway Stations On The Women's Day. Is It Enough To Create Awareness?

vokalandroid