छत्तीसगढ़ में 40 ट्रांसजेंडर कॉन्स्टेबल पद के लिए आवेदन करते हैं। क्या सभी राज्यों को भी ये लागू करना चाहिए? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं समझता हूं कि जो ट्रांसजेंडर से उनको भी जीने का हक है वह भी इंसान हैं और अगर वह बाकी सारे क्राइटेरिया को फुल फील करते हैं जो कि एक रिक्रूटमेंट के लिए जरूरी है कॉस्टेबल पद के लिए तो मैं समझता हूं कि...जवाब पढ़िये
मैं समझता हूं कि जो ट्रांसजेंडर से उनको भी जीने का हक है वह भी इंसान हैं और अगर वह बाकी सारे क्राइटेरिया को फुल फील करते हैं जो कि एक रिक्रूटमेंट के लिए जरूरी है कॉस्टेबल पद के लिए तो मैं समझता हूं कि इसमें किसी को कोई ऑब्जेक्शन नहीं होना चाहिए और उनकी पर्फॉर्मेंस जो है वह बॉलीवुड की जानी चाहिए और अगर उनके प्रभाव में सभी लोगों के बराबर है तो उनको बराबर का सम्मान मिलना चाहिए और अगर बाकी राज्यों में भी यह चीजें लागू हो तो मैं समझता हूं कि यह जनरल क्वालिटी के लिए और बहुत अच्छा रहेगाMain Samajhata Hoon Ki Jo Transgender Se Unko Bhi Jeene Ka Haq Hai Wah Bhi Insaan Hain Aur Agar Wah Baki Sare Criteria Ko Full Feel Karte Hain Jo Ki Ek Recruitment Ke Liye Zaroori Hai Costebal Pad Ke Liye To Main Samajhata Hoon Ki Isme Kisi Ko Koi Objection Nahi Hona Chahiye Aur Unki Parfarmens Jo Hai Wah Bollywood Ki Jani Chahiye Aur Agar Unke Prabhav Mein Sabhi Logon Ke Barabar Hai To Unko Barabar Ka Samman Milna Chahiye Aur Agar Baki Rajyo Mein Bhi Yeh Cheezen Laagu Ho To Main Samajhata Hoon Ki Yeh General Quality Ke Liye Aur Bahut Accha Rahega
Likes  19  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे लगता है ट्रांसजेंडर को भी समान अधिकार दिए जाने चाहिए चाहे वह पोलिटिकल राइट्स चादर प्रकार के राइट होता एजुकेशन राइट हूं और जॉब के लिए भी मुझे लगता है समान अपॉर्चुनिटी जून को मिलनी चाहिए अगर ...जवाब पढ़िये
लेकिन मुझे लगता है ट्रांसजेंडर को भी समान अधिकार दिए जाने चाहिए चाहे वह पोलिटिकल राइट्स चादर प्रकार के राइट होता एजुकेशन राइट हूं और जॉब के लिए भी मुझे लगता है समान अपॉर्चुनिटी जून को मिलनी चाहिए अगर उत्तर प्रदेश की बात कहूं तो उत्तर प्रदेश में हाल ही में पंचायत के इलेक्शन हुए और नगर पालिका के इलेक्शन हो जिसमें शब्दो ट्रांसजेंडर ने जीते में इलेक्शन तो यह दिखाता है कि कहीं न कि सरकार भी जाती है कि इन लोगों को भी अधिकार दिए जाएं हां अगस्त छत्तीसगढ़ में 40 टन जमीन कॉन्स्टेबल की आवेदन किया है तो मुझे लगता है कि अदर स्टेट की सरकार को मिस को देखना चाहिए और ट्रांसजेंडर के लिए भी कुछ सीटों को रिसीव रखना चाहिएLekin Mujhe Lagta Hai Transgender Ko Bhi Saman Adhikaar Diye Jaane Chahiye Chahe Wah Political Rights Chadar Prakar Ke Right Hota Education Right Hoon Aur Job Ke Liye Bhi Mujhe Lagta Hai Saman Opportunity June Ko Milani Chahiye Agar Uttar Pradesh Ki Baat Kahun To Uttar Pradesh Mein Haal Hi Mein Panchayat Ke Election Hue Aur Nagar Palika Ke Election Ho Jisme Shabdo Transgender Ne Jeete Mein Election To Yeh Dikhaata Hai Ki Kahin N Ki Sarkar Bhi Jati Hai Ki In Logon Ko Bhi Adhikaar Diye Jayen Haan August Chattisgarh Mein 40 Ton Jameen Constable Ki Awedan Kiya Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Other State Ki Sarkar Ko Miss Ko Dekhna Chahiye Aur Transgender Ke Liye Bhi Kuch Seaton Ko Receive Rakhna Chahiye
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ट्रांसजेंडर लोग जो है हमसे अलग थोड़ी ना है बस उनकी प्रशंसा लागे उनकी चॉइस अलार्म के जीवन जीने की शैली अलग है बाकी है तो वह यू मनी इंसान ही तो है आप कितनी उम्र में क्षमता कितनी हमें भी जानता है तो फिर ...जवाब पढ़िये
ट्रांसजेंडर लोग जो है हमसे अलग थोड़ी ना है बस उनकी प्रशंसा लागे उनकी चॉइस अलार्म के जीवन जीने की शैली अलग है बाकी है तो वह यू मनी इंसान ही तो है आप कितनी उम्र में क्षमता कितनी हमें भी जानता है तो फिर वह उन्हें आखिर किसी भी चीज से वंचित क्यों हो रहा है बहुत अच्छा है कि छत्तीसगढ़ में कौन से कुल पद के लिए 40 शांत सेंटर के लिए आवेदन किया गया है मुझे लगता है कि बिल्कुल पूरे राज्य में पूरे कंट्री में से फॉलो करना चाहिए इससे दिखे तो ट्रांसजेंडर लोगों के भले वह दिखाती क्यों बोल रहे हैं बट अंदर ही अंदर वह भी घंटे होते हैं उन्हें भी समाज से बहुत करना पड़ता है अगर हम इस तरह की छोटी-छोटी चीजों सोने से बहुत प्रोवाइड करेंगे तो उन्हें भी लगेगा कि हां वह भी इसी सोसाइटी का हिस्सा है जब उन्हें लगा कि वह सोसाइटी का हिस्सा है तो वह भी और अच्छे से और बेहतर तरीके से काम कर पाएंगे और अपना भी कॉन्ट्रिब्यूशन देंगे वह सोसाइटी को आगे बढ़ाने में और हमें भी उनके साथ कोई दोगला व्यवहार नहीं करना चाहिएTransgender Log Jo Hai Humse Alag Thodi Na Hai Bus Unki Prashansa Lage Unki Choice Alarm Ke Jeevan Jeene Ki Shaili Alag Hai Baki Hai To Wah You Money Insaan Hi To Hai Aap Kitni Umar Mein Kshamta Kitni Hume Bhi Jaanta Hai To Phir Wah Unhen Aakhir Kisi Bhi Cheez Se Vanchit Kyun Ho Raha Hai Bahut Accha Hai Ki Chattisgarh Mein Kaun Se Kul Pad Ke Liye 40 Shaant Center Ke Liye Awedan Kiya Gaya Hai Mujhe Lagta Hai Ki Bilkul Poore Rajya Mein Poore Country Mein Se Follow Karna Chahiye Isse Dikhe To Transgender Logon Ke Bhale Wah Dikhaati Kyun Bol Rahe Hain But Andar Hi Andar Wah Bhi Ghante Hote Hain Unhen Bhi Samaaj Se Bahut Karna Padata Hai Agar Hum Is Tarah Ki Choti Choti Chijon Sone Se Bahut Provide Karenge To Unhen Bhi Lagega Ki Haan Wah Bhi Isi Society Ka Hissa Hai Jab Unhen Laga Ki Wah Society Ka Hissa Hai To Wah Bhi Aur Acche Se Aur Behtar Tarike Se Kaam Kar Paenge Aur Apna Bhi Contribution Denge Wah Society Ko Aage Badhane Mein Aur Hume Bhi Unke Saath Koi Dogla Vyavhar Nahi Karna Chahiye
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Chattisgarh Mein 40 Transgender Constable Pad Ke Liye Avedan Karte Hain Kya Sabhi Rajyon Ko Bhi Ye Laagu Karna Chahiye, In Chhattisgarh, 40 Transgenders Apply For The Constable Post. Should All States Also Implement This?

vokalandroid