पुलिस बल में भारत में केवल 7.28% महिलाएं हैं? इतनी कम संख्या का कारण? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

DJ पुलिस का काम जो है बहुत ही जोखिम भरा काम है और जो भी पुलिस ऑफिसर सोते हैं उनको दिन में जितना काम करना होता है उसे ज्यादा उनको रात में काम करना होता है और इस वजह से पुलिस सर के बल है उसमें पुरुषों क...जवाब पढ़िये
DJ पुलिस का काम जो है बहुत ही जोखिम भरा काम है और जो भी पुलिस ऑफिसर सोते हैं उनको दिन में जितना काम करना होता है उसे ज्यादा उनको रात में काम करना होता है और इस वजह से पुलिस सर के बल है उसमें पुरुषों की संख्या बहुत ज्यादा है देखिए महिलाओं को जो है वह डिफिकल्टी होती है अगर वह क्रिमिनल्स को पकड़ती है क्योंकि ज्यादातर जो क्रिमिनल सोते हैं वह स्वयं पुलिस होते हैं महिलाओं की परसेंटेज मैं समझता हूं कि जो और जहां तक क्राइम की सवाल है बहुत कम है और खास तौर से जो सेट करें ऐसा है जैसे मर्डर हो गया रे हो गए हैं सब में महिलाओं की संख्या 1 है तो इसलिए जो है वह जो करनाल से हार्ड कोर के अनुसार की मेल है उनको काउंटर करने के लिए भी मेल ऑफिसर ज्यादा उपयोगी रहते हैं और महिलाओं को जो है उतनी ज्यादा सफलता शायद ना मिले अगर वह पुलिस अफसरों ने कराया पुलिस करना उसके खिलाफ में एक्शन लेंगे और इस में पुरुष की संख्या ज्यादा है लेकिन हम महिलाओं की संख्याDJ Police Ka Kaam Jo Hai Bahut Hi Jokhim Bhara Kaam Hai Aur Jo Bhi Police Officer Sote Hain Unko Din Mein Jitna Kaam Karna Hota Hai Use Jyada Unko Raat Mein Kaam Karna Hota Hai Aur Is Wajah Se Police Sar Ke Bal Hai Usamen Purushon Ki Sankhya Bahut Jyada Hai Dekhie Mahilaon Ko Jo Hai Wah Difficulty Hoti Hai Agar Wah Criminals Ko Pakadti Hai Kyonki Jyadatar Jo Criminal Sote Hain Wah Swayam Police Hote Hain Mahilaon Ki Percentage Main Samajhata Hoon Ki Jo Aur Jahan Tak Crime Ki Sawal Hai Bahut Kum Hai Aur Khas Taur Se Jo Set Karen Aisa Hai Jaise Murder Ho Gaya Ray Ho Gaye Hain Sab Mein Mahilaon Ki Sankhya 1 Hai To Isliye Jo Hai Wah Jo Karnal Se Hard Core Ke Anusar Ki Mail Hai Unko Counter Karne Ke Liye Bhi Mail Officer Jyada Upyogi Rehte Hain Aur Mahilaon Ko Jo Hai Utani Jyada Safalta Shayad Na Mile Agar Wah Police Afsaron Ne Karaya Police Karna Uske Khilaf Mein Action Lenge Aur Is Mein Purush Ki Sankhya Jyada Hai Lekin Hum Mahilaon Ki Sankhya
Likes  24  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन निश्चित तौर पर सच्चाई हमारे देश की जो पुलिस वाले हैं उसमें हालांकि मेरे को नहीं पता जो आपने लिखा है सही होगा कितने प्रतिशत महिलाएं अपने बताया तो बिल्कुल कम आए तो है बहुत कम आए हैं और यह जो महिला...जवाब पढ़िये
लेकिन निश्चित तौर पर सच्चाई हमारे देश की जो पुलिस वाले हैं उसमें हालांकि मेरे को नहीं पता जो आपने लिखा है सही होगा कितने प्रतिशत महिलाएं अपने बताया तो बिल्कुल कम आए तो है बहुत कम आए हैं और यह जो महिलाएं कम हैं यह बहुत बड़ा कारण हमारे देश में सबसे बड़ा कारण महिला सशक्तिकरण की बात करते हैं कि महिलाएं कैसी होती है क्या पता लगा सकते हैं और ट्रेनिंग की है प्रॉपर तरीके से किया बलात्कार कैसे बयां करें कैसे रिएक्शन होगा कुल मिलाकर कैसे उस माहौल में आकर अपनी कंप्लेंट दर्ज कराएंगे पहली दूसरी तीसरी शुरू होता है जो पहली महिला का दर्द समझ सकती है और उसका उचित कार्रवाई करेगी इसका तो कुछ कह नहीं सकते हालांकि कोई छोटा नहीं है कितनी महिलाएं केवल हो सकती है और को बराबर मात्रा में होनी चाहिए बिल्कुल भी कम नहीं आती है और बल्कि ज्यादा हीLekin Nishchit Taur Par Sacchai Hamare Desh Ki Jo Police Wale Hain Usamen Halanki Mere Ko Nahi Pata Jo Aapne Likha Hai Sahi Hoga Kitne Pratishat Mahilaye Apne Bataya To Bilkul Kum Aaye To Hai Bahut Kum Aaye Hain Aur Yeh Jo Mahilaye Kum Hain Yeh Bahut Bada Kaaran Hamare Desh Mein Sabse Bada Kaaran Mahila Sashaktikaran Ki Baat Karte Hain Ki Mahilaye Kaisi Hoti Hai Kya Pata Laga Sakte Hain Aur Training Ki Hai Proper Tarike Se Kiya Balatkar Kaise Bayan Karen Kaise Reaction Hoga Kul Milakar Kaise Us Maahaul Mein Aakar Apni Complaint Darj Karaenge Pehli Dusri Teesri Shuru Hota Hai Jo Pehli Mahila Ka Dard Samajh Sakti Hai Aur Uska Uchit Karyawahi Karegi Iska To Kuch Keh Nahi Sakte Halanki Koi Chota Nahi Hai Kitni Mahilaye Kewal Ho Sakti Hai Aur Ko Barabar Matra Mein Honi Chahiye Bilkul Bhi Kum Nahi Aati Hai Aur Balki Jyada Hi
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

BP पुलिस बल में अगर 7.8% अगर महिलाएं तो इसकी मुझे लगता है सबसे बड़ी वजह हो सकती है कि शायद महिलाओं का इंटरेस्ट पुलिस जॉब में थोड़ा कम होता है लेकिन अगर आप उत्तर प्रदेश बिहार पंजाब हरियाणा की बात करेंग...जवाब पढ़िये
BP पुलिस बल में अगर 7.8% अगर महिलाएं तो इसकी मुझे लगता है सबसे बड़ी वजह हो सकती है कि शायद महिलाओं का इंटरेस्ट पुलिस जॉब में थोड़ा कम होता है लेकिन अगर आप उत्तर प्रदेश बिहार पंजाब हरियाणा की बात करेंगे तो वहां जितनी भी लेडीस हैं वहां जितनी भी मैंने उनका इंटरेस्ट पुलिस जॉब में बहुत रोता है स्पेशली कॉन्स्टेबल ASI की जो हमें इसके अलावा अदर स्टेट होगी वह बात करो जैसे आप साउथ के स्टेट की बात करती हैं वह किस चीज की बात करती तो मुझे लगता है कि वहां की जो महिलाएं उनका इंटरेस्ट पुलिस जॉब की तरफ है थोड़ा कम होगा इसी वजह से इतना डाटा जो है वह 7.8% चाहिएBP Police Bal Mein Agar 7.8% Agar Mahilaye To Iski Mujhe Lagta Hai Sabse Badi Wajah Ho Sakti Hai Ki Shayad Mahilaon Ka Interest Police Job Mein Thoda Kum Hota Hai Lekin Agar Aap Uttar Pradesh Bihar Punjab Haryana Ki Baat Karenge To Wahan Jitni Bhi Ladies Hain Wahan Jitni Bhi Maine Unka Interest Police Job Mein Bahut Rota Hai Speshli Constable ASI Ki Jo Hume Iske Alava Other State Hogi Wah Baat Karo Jaise Aap South Ke State Ki Baat Karti Hain Wah Kis Cheez Ki Baat Karti To Mujhe Lagta Hai Ki Wahan Ki Jo Mahilaye Unka Interest Police Job Ki Taraf Hai Thoda Kum Hoga Isi Wajah Se Itna Data Jo Hai Wah 7.8% Chahiye
Likes  5  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए महिलाओं को लोग पढ़ने नहीं भेजते हैं अकेले उन्हें सड़क पर जाने की अनुमति नहीं होती है बिना किसी परिवार वाले के साथ तो पुलिस की जॉब तो काफी ज्यादा खतरों से भरी होती है आप खुद ही सोचिए कि जब मां बा...जवाब पढ़िये
देखिए महिलाओं को लोग पढ़ने नहीं भेजते हैं अकेले उन्हें सड़क पर जाने की अनुमति नहीं होती है बिना किसी परिवार वाले के साथ तो पुलिस की जॉब तो काफी ज्यादा खतरों से भरी होती है आप खुद ही सोचिए कि जब मां बाप अपने बच्चों को अस्पष्ट की लड़कियों को कहीं अकेले आने जाने नहीं देते तब तक उनके पास एक प्रॉपर ग्रुप ना हो अपने घर चला गया दूर नहीं रखते कॉलेज भी भेजते तो अपने शहर के आस-पास ही भेज दें और उन्हें हमेशा से वह कोशिश करते हैं कि वह सिर्फ रखें अपने को देखा कि पुलिस में है कितना खतरा है तो कुछ नहीं होता कि जो महिलाएं होती हैं उन्हें घर से पुलिस और आर्मी जैसी चीजों के लिए सपोर्ट नहीं मिलता यह काफी खतरों से भरा जाओ को तरस में आपके साथ ही नहीं होती है इसमें कुछ और नहीं होता और साथ ही महिलाओं के साथ घरेलू कारण भी हो जाते हैं क्यों नहीं लगता कि अगर महिलाएं इस तरह के काम में रहेंगे तो घर की शांति बिगड़ेगी घर का माहौल बिगड़ेगा शुरू नहीं लगता है क्या करेंDekhie Mahilaon Ko Log Padhne Nahi Bhejate Hain Akele Unhen Sadak Par Jaane Ki Anumati Nahi Hoti Hai Bina Kisi Parivar Wale Ke Saath To Police Ki Job To Kafi Jyada Khataron Se Bhari Hoti Hai Aap Khud Hi Sochie Ki Jab Maa Baap Apne Bacchon Ko Aspast Ki Ladkiyon Ko Kahin Akele Aane Jaane Nahi Dete Tab Tak Unke Paas Ek Proper Group Na Ho Apne Ghar Chala Gaya Dur Nahi Rakhate College Bhi Bhejate To Apne Sheher Ke Aas Paas Hi Bhej Dein Aur Unhen Hamesha Se Wah Koshish Karte Hain Ki Wah Sirf Rakhen Apne Ko Dekha Ki Police Mein Hai Kitna Khatra Hai To Kuch Nahi Hota Ki Jo Mahilaye Hoti Hain Unhen Ghar Se Police Aur Army Jaisi Chijon Ke Liye Support Nahi Milta Yeh Kafi Khataron Se Bhara Jao Ko Taras Mein Aapke Saath Hi Nahi Hoti Hai Isme Kuch Aur Nahi Hota Aur Saath Hi Mahilaon Ke Saath Gharelu Kaaran Bhi Ho Jaate Hain Kyun Nahi Lagta Ki Agar Mahilaye Is Tarah Ke Kaam Mein Rahenge To Ghar Ki Shanti Bigdegi Ghar Ka Maahaul Bigadega Shuru Nahi Lagta Hai Kya Karen
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखें मुझे लगती कम संख्या का कारण यह है क्योंकि इतनी सदस्य फ्लाइंग नहीं मानी जाती है इसके अंदर काफी ज्यादा को काम करना पड़ता है और मेरे को ऐसा तो मेरे को पोस्ट नहीं लगता है और मैं यह मानती हूं कि पुलि...जवाब पढ़िये
देखें मुझे लगती कम संख्या का कारण यह है क्योंकि इतनी सदस्य फ्लाइंग नहीं मानी जाती है इसके अंदर काफी ज्यादा को काम करना पड़ता है और मेरे को ऐसा तो मेरे को पोस्ट नहीं लगता है और मैं यह मानती हूं कि पुलिस वालों की 10 साल की होती है बहुत कम होती है जितना मैं काम करते हैं उसे सावन की साड़ी जो है वह वाला बढ़ा देनी चाहिए क्योंकि हर कोई कहीं ना कहीं कमाना चाहता है तो आप अगर इतनी कम सैलरी देगा मेरे भाई जैसे साफ-साफ बढ़ा रहे हैं तो ऐसे तो पुलिस में जाना नहीं पसंद करेंगे इतना तो इसलिए मुझे लगता है कि पहले हम लोगों को सैलरी थोड़ी बढ़ा देनी चाहिए और होता क्योंकि शादी के बाद जब एक लड़की शादी कर लेती है तो उसके घर से उसको बहुत बड़ा काम होता है और जो पुलिस की नौकरी होती है उसमें आपको काफी डिवोटेड है ना होता आपको अपना सब पूरा सब कुछ देना होता जिसमें आपको इतनी ज्यादा आप को सैलरी नहीं मिलती है इसलिए पुलिस की नौकरी जो होती है उसमें कम लड़कियां हैं इस समय पर तो मुझे लगता है कि इसके अंदर भारत के जो गवर्मेंट है उनको कुछ बदलाव करने चाहिए और कहीं ना कहीं हमें मोटिवेट करनाDekhen Mujhe Lagti Kum Sankhya Ka Kaaran Yeh Hai Kyonki Itni Sadasya Flying Nahi Maani Jati Hai Iske Andar Kafi Jyada Ko Kaam Karna Padata Hai Aur Mere Ko Aisa To Mere Ko Post Nahi Lagta Hai Aur Main Yeh Maanati Hoon Ki Police Walon Ki 10 Saal Ki Hoti Hai Bahut Kum Hoti Hai Jitna Main Kaam Karte Hain Use Sawan Ki Sadi Jo Hai Wah Wala Badha Deni Chahiye Kyonki Har Koi Kahin Na Kahin Kamana Chahta Hai To Aap Agar Itni Kum Salary Dega Mere Bhai Jaise Saaf Saaf Badha Rahe Hain To Aise To Police Mein Jana Nahi Pasand Karenge Itna To Isliye Mujhe Lagta Hai Ki Pehle Hum Logon Ko Salary Thodi Badha Deni Chahiye Aur Hota Kyonki Shadi Ke Baad Jab Ek Ladki Shadi Kar Leti Hai To Uske Ghar Se Usko Bahut Bada Kaam Hota Hai Aur Jo Police Ki Naukri Hoti Hai Usamen Aapko Kafi Devoted Hai Na Hota Aapko Apna Sab Pura Sab Kuch Dena Hota Jisme Aapko Itni Jyada Aap Ko Salary Nahi Milti Hai Isliye Police Ki Naukri Jo Hoti Hai Usamen Kum Ladkiyan Hain Is Samay Par To Mujhe Lagta Hai Ki Iske Andar Bharat Ke Jo Goverment Hai Unko Kuch Badlav Karne Chahiye Aur Kahin Na Kahin Hume Motivate Karna
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Police Bal Mein Bharat Mein Keval 7.28% Mahilaen Hain Itni Kam Sankhya Ka Kaaran, There Are Only 7.28% Women In Police Force In India? The Reason For Such A Small Number?

vokalandroid