मैं अनपढ़ होने के बाबजूद क्या कर सकता हूँ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब से पहले एक डॉट निकाली अपना दिमाग से क्या पढ़े-लिखे नहीं है यह जरूरी नहीं है कि जो व्यक्ति अक्षर को पहचान सकता वही सिर्फ पढ़ा लिखा है जो अनुभवों से अपने आपको तैयार किया है आपने आपको बदलाव वह भी लिखक...
जवाब पढ़िये
अब से पहले एक डॉट निकाली अपना दिमाग से क्या पढ़े-लिखे नहीं है यह जरूरी नहीं है कि जो व्यक्ति अक्षर को पहचान सकता वही सिर्फ पढ़ा लिखा है जो अनुभवों से अपने आपको तैयार किया है आपने आपको बदलाव वह भी लिखकर भी पढ़ा लिखा है जिसके पास कील है कौशल है जो देखकर सीख गया जो मौखिक ज्ञान है जिसके पास वह व्यक्ति भी पढ़ा लिखा होता है आज पढ़ा लिखा होने का जो परिभाषा ही बदल गया विकास का जो परिभाषा है ना वही बदल गया है बाजारवाद को जो बढ़ावा दे रहा है बाजारवाद की मांग को पूरा कर रहा है वही लोग पढ़े लिखे हैं वही लोग साक्षर हैं ऐसा लोग मानते हैं लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है पहले का जो कुमार होता था ना जो जो चक चक्की से घड़ा बनाता था वह व्यक्ति भी पहले अपने चक्की और अब के आधार पर मौसम को पहचान लेता था वह व्यक्ति भी तो पढ़ा लिखा होता था ऐसा कुछ भी नहीं है कि जो अक्षर पहचान सकता है वहीं पड़ा लिखा है आज तुझे साक्षर व्यक्ति वह भी तो गलत गलत कार्य में संलग्न है ज्यादातर क्राइम में देखेगा उसका मास्टरमाइंड पढ़े लिखे लोग ही होते हैं यह क्या है इसको पढ़े-लिखे नहीं कह सकते हैं अर्थात अब जनता के कल्याण लोगों के कल्याण के लिए आप सोचते हैं अपने अनुभव के आधार पर अपने मानसिक ज्ञान के आधार पर अपने आध्यात्मिक ज्ञान के आधार पर तो आप भी पढ़े लिखे हो आज हर तरफ शोषण हो रहा है देखिए किशोरों को पोर्न वीडियो दिखा कर युवाओं को देख लीजिए बेरोजगारी का दंश झेलना पड़ता है लड़कियों को विज्ञापन के रूप में वस्तु बनाकर पेश किया जा रहा है जिधर देखो उधर ही शोषण कोचिंग की संख्या लगातार बढ़ रहा है जहां बच्चे को पढ़ना चाहिए वहां तो उसको पढ़ने का मौका नहीं मिल रहा है और प्राइवेट और निजी व्यक्तियों का दंश बढ़ रहा है इस पर क्या हो रहा है हर तरफ से उत्साह अर्थ भारत को बनाने में लगी आप कहते हैं कि क्या कर सकते हैं भारत को बनाने में लगी हस्बैंड को देश को जागरूक संगठन की स्थापना कीजिए देश के विकास में लगे देखिए स्वयं का विकास होगा ही भारत का विकास होगा आपको भी अच्छा लगेगा कार्य करने में धन्यवाद
Likes  19  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

जीवन के इस दौर मे जब मै 21 साल का हो गया हूँ मुझे उर्जा से भरा होना चाहिए था लेकिन बीते एक साल से मै बिलकुल निसक्रिय हो गया हूँ, सामाजिक जीवन से और पड़ाई मे भी मन नही लगता है, मैं क्यों करूँ? ...

agr aap study krna chahte hai or aapka mann nhi lag pa rha hai . to aap ik kaam kriye aap ik saant jagah pr jakr baith jaiye or aapne aap se question kriye ki is duniya mai aaye kis liye ho . jbab milega kuch achha krne ke liye bda krne ke liye . or fir jo aap krna chahte ho kr skte ho . or aap aapnजवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अनपढ़ हो यही आपकी सबसे बड़ी कमजोरी है मैं अनपढ़ हूं यह बात आपको कभी नहीं करनी चाहिए अपनी पढ़ाई पर ध्यान से लगन से पढ़ाई करनी चाहिए आप जीवन में हमेशा एसएससी हो पाओगे...
जवाब पढ़िये
आप अनपढ़ हो यही आपकी सबसे बड़ी कमजोरी है मैं अनपढ़ हूं यह बात आपको कभी नहीं करनी चाहिए अपनी पढ़ाई पर ध्यान से लगन से पढ़ाई करनी चाहिए आप जीवन में हमेशा एसएससी हो पाओगे
Likes  18  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे आप अनपढ़ हैं तो आपको किसी तरह अपनी पढ़ाई पूरी करनी चाहिए और फिर उसके हिसाब से आपको किसी को स्कोर करके कोई नौकरी देखनी चाहिए या के पार करना चाहिए...
जवाब पढ़िये
मुझे आप अनपढ़ हैं तो आपको किसी तरह अपनी पढ़ाई पूरी करनी चाहिए और फिर उसके हिसाब से आपको किसी को स्कोर करके कोई नौकरी देखनी चाहिए या के पार करना चाहिए
Likes  20  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Main Anpadh Hone Ke Babajood Kya Kar Sakta Hoon, What Can I Do Without Being Illiterate?

vokalandroid