Ragi रागी को हिंदी मे क्या कहते है? ...

रागी एक वार्षिक पेड़ है जो अनाज के रुप में अफरिका और एशिया के जगहों पर भरपुर मात्रा में उगाया जाता है। भारत में, रागी मुख्य रुप से कर्नाटका, आंध्र प्रदेश, तमिल नाडू, महाराष्ट्र और गोवा में उगाया और प्रयोग किया जाता है। अनज के रुप में और छटाई के बाद भी रागी अच्छी तरह से रखा जा सकता है और इसमें जल्दी से कीड़े नहीं लगते। इससे इसे संग्रह करने के लिए रसायनिक कीटनाषक प्रयोग करने की आवश्यक्ता नहीं होती। यह प्रोटीन, लौह, कॅलशियम और रेशांक का एक किफायती स्रोत है, जो बहुत से जगहों में चुना जाता है। खसतौर पर यह अमिनोएसिड मिथीयोनाईन का बेहतरीन स्रोत है। रागी के पुरे दाने को अअटे में पीसा जा सकता है या पीसने से पहले छाँटकर बारीक पदार्थ या आटे में बनाया जा सकता है, जिसका विभिन्न पारंपरिक खाने में प्रयोग किया जा सकता है। आटा बारीक या दरदरा पीसा जा सकता है, जो अलग-अलग ज़रुरत और व्यंजन की ज़रुरत पर निर्भर करता है!!!
Romanized Version
रागी एक वार्षिक पेड़ है जो अनाज के रुप में अफरिका और एशिया के जगहों पर भरपुर मात्रा में उगाया जाता है। भारत में, रागी मुख्य रुप से कर्नाटका, आंध्र प्रदेश, तमिल नाडू, महाराष्ट्र और गोवा में उगाया और प्रयोग किया जाता है। अनज के रुप में और छटाई के बाद भी रागी अच्छी तरह से रखा जा सकता है और इसमें जल्दी से कीड़े नहीं लगते। इससे इसे संग्रह करने के लिए रसायनिक कीटनाषक प्रयोग करने की आवश्यक्ता नहीं होती। यह प्रोटीन, लौह, कॅलशियम और रेशांक का एक किफायती स्रोत है, जो बहुत से जगहों में चुना जाता है। खसतौर पर यह अमिनोएसिड मिथीयोनाईन का बेहतरीन स्रोत है। रागी के पुरे दाने को अअटे में पीसा जा सकता है या पीसने से पहले छाँटकर बारीक पदार्थ या आटे में बनाया जा सकता है, जिसका विभिन्न पारंपरिक खाने में प्रयोग किया जा सकता है। आटा बारीक या दरदरा पीसा जा सकता है, जो अलग-अलग ज़रुरत और व्यंजन की ज़रुरत पर निर्भर करता है!!!Ragi Ek Varshika Ped Hai Joe Anaj K Rup Mein Afarika Aur Eshiya K Jagaho Per Bharapur Maatra Mein Ugaayaa Jaata Hai Bharat Mein Ragi Mukhya Rup Se Karnatka Andhra Pradesh Tamil Nadu Maharashtra Aur Goa Mein Ugaayaa Aur Prayog Kiya Jaata Hai Anaz K Rup Mein Aur Chatai K Baad Bhi Ragi Achchhee Turha Se Rakhaa Ja Sakta Hai Aur Ismein Jaldi Se Kide Nahin Lagate Issase Isse Sangraha Karne K Lie Rashayanik Kitnashak Prayog Karne Ki Avashyakta Nahin Hoti Yeh Protein Lauh Kalshiyam Aur Reshank Ka Ek Kifayati Srot Hai Joe Bahut Se Jagaho Mein Chuna Jaata Hai Khastaur Per Yeh Aminoesid Mithiyonain Ka Behtareen Srot Hai Ragi K Poore Danye Co Aate Mein Pisa Ja Sakta Hai Ya Pisne Se Pehle Chhaantakar Barik Padarth Ya Ate Mein Banaya Ja Sakta Hai Jiska Vibhinn Paranparik Khaane Mein Prayog Kiya Ja Sakta Hai Atta Barik Ya Dardaraa Pisa Ja Sakta Hai Joe Eluga Eluga Zarurat Aur Vyanjan Ki Zarurat Per Nirbhar Karata Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Ragi Ragi Ko Hindi Mein Kya Kehte Hai ,Ragi In Marathi,


vokalandroid