यूरोपीय चुनाव कैसे होता है? ...

यूरोपीय संघ के न्यायिक प्रक्रिया का दूसरा महत्वपूर्ण हिस्सा यूरोपीय संसद होती है। यूरोपीय संसद के सदस्य के 785 सदस्य हर पांच वर्ष में यूरोपीय संघ की जनता द्वारा सीधे चुने जाते हैं। हलांकि इन सदस्यों का चुनाव राष्ट्रीय स्तर पर होता है परंतु यूरोपीय संसद में वे अपनी राष्ट्रीयता के अनुसार न बैठकर दलानुसार बैठते हैं। हर सदस्य राष्ट्र के लिए सीटों की एक निश्चित संख्या आवंटित होती है। यूरोपीय संसद को संघ के विधायी शक्तियों के मामलों में यूरोपीय परिषद की तरह ही शक्तियां हासिल होती हैं और संसद वे संघ की खास विधायिकाओं को स्वीकृत या अस्वीकृत करने की शक्ति से लैस होते हैं। यूरोपीय संसद का अध्यक्ष न सिर्फ बाहरी मंचों पर संघ का प्रतिनिधित्व करता है बल्कि यूरोपीय संसद के स्पीकर का भी दायित्व निभाता है। अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष का चुनाव यूरोपीय संसद के सदस्य हर ढा़ई साल के अंतराल पर करते हैं। कुछेक मामलों को छोडकर ज्यादातर मामलों में न्यायिक प्रक्रिया की शुरुआत करने का अधिकार युरोपियन कमीशन को होता है, ऐसा ज्यादातर रेग्यूलेशन, एवं संसद के अधिनियमों द्वारा किया जाता है जिसे सदस्य राष्ट्रों को अपने अपने देशों में लागू करने की बाध्यता होती है!!
Romanized Version
यूरोपीय संघ के न्यायिक प्रक्रिया का दूसरा महत्वपूर्ण हिस्सा यूरोपीय संसद होती है। यूरोपीय संसद के सदस्य के 785 सदस्य हर पांच वर्ष में यूरोपीय संघ की जनता द्वारा सीधे चुने जाते हैं। हलांकि इन सदस्यों का चुनाव राष्ट्रीय स्तर पर होता है परंतु यूरोपीय संसद में वे अपनी राष्ट्रीयता के अनुसार न बैठकर दलानुसार बैठते हैं। हर सदस्य राष्ट्र के लिए सीटों की एक निश्चित संख्या आवंटित होती है। यूरोपीय संसद को संघ के विधायी शक्तियों के मामलों में यूरोपीय परिषद की तरह ही शक्तियां हासिल होती हैं और संसद वे संघ की खास विधायिकाओं को स्वीकृत या अस्वीकृत करने की शक्ति से लैस होते हैं। यूरोपीय संसद का अध्यक्ष न सिर्फ बाहरी मंचों पर संघ का प्रतिनिधित्व करता है बल्कि यूरोपीय संसद के स्पीकर का भी दायित्व निभाता है। अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष का चुनाव यूरोपीय संसद के सदस्य हर ढा़ई साल के अंतराल पर करते हैं। कुछेक मामलों को छोडकर ज्यादातर मामलों में न्यायिक प्रक्रिया की शुरुआत करने का अधिकार युरोपियन कमीशन को होता है, ऐसा ज्यादातर रेग्यूलेशन, एवं संसद के अधिनियमों द्वारा किया जाता है जिसे सदस्य राष्ट्रों को अपने अपने देशों में लागू करने की बाध्यता होती है!!Yuropiya Sangh K Nyaayik Prakriya Ka Doosra Mahatvapoorn Hissa Yuropiya Sansad Hoti Hai Yuropiya Sansad K Sadasya K 785 Sadasya Her Panch Varsh Mein Yuropiya Sangh Ki Janta Dwara Sidhe Chaune Jaate Hain Halanki In Sadasyon Ka Chunav Rashtriya Stra Per Hota Hai Parantu Yuropiya Sansad Mein Whey Apni Rashtriyata K Anusar Na Baithkar Dalanusar Baithte Hain Her Sadasya Rashtra K Lie Siton Ki Ek Nishcheet Sankhya Avantit Hoti Hai Yuropiya Sansad Co Sangh K Vidhayi Shaktiyon K Mamlo Mein Yuropiya Parishad Ki Turha Hea Shaktiyan Hashil Hoti Hain Aur Sansad Whey Sangh Ki Khas Vidhayikaon Co Swikrit Ya Aswikrit Karne Ki Shakti Se Laisa Hote Hain Yuropiya Sansad Ka Adhyaksh Na Sirf Baahri Mancho Per Sangh Ka Pratinidhitva Karata Hai Walkie Yuropiya Sansad K Speaker Ka Bhi Dayitva Nibhaata Hai Adhyaksh Even Upaadhyaksh Ka Chunav Yuropiya Sansad K Sadasya Her Dha़ai Saul K Antaral Per Karte Hain Kuchek Mamlo Co Chodakar Jyadatar Mamlo Mein Nyaayik Prakriya Ki Shuruaat Karne Ka Adhikar Yuropiyan Kamishan Co Hota Hai Aisa Jyadatar Regyuleshan Even Sansad K Adhiniyamo Dwara Kiya Jaata Hai Jise Sadasya Rashtron Co Apne Apne Deshon Mein Laghu Karne Ki Baadhyata Hoti Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

यूरोपीय चुनाव कितने साल मे होते हैं ?प्रत्येक देश से कितने एमईपी होते हैं? ...

हर पांच साल यूरोपीय संघ के नागरिक चुनते हैं कि यूरोपीय संसद में उन्हें कौन प्रतिनिधित्व करता है, सीधे निर्वाचित संस्थान जो ईयू निर्णय लेने की प्रक्रिया में अपनी रूचि का बचाव करता है। वोटिंग प्रथाएं यूजवाब पढ़िये
ques_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:European Chunav Kaise Hota Hai ,


vokalandroid