प्रविश नगर कीजै सब काजा हृदय राखी कौशलपुर राजा का अर्थ बताएं ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मतलब है कि अयोध्या पूरा के राजा श्री रघुनाथ जी को हिंदी में रखे हुए नगर में प्रवेश करके सब काम कीजिए उसके लिए विष अमृत हो जाता है शत्रु मित्र करने लगते हैं समुंदर गाय के खुर के बराबर हो जाता है अग्नि में शीतलता आ जाती है
Romanized Version
मतलब है कि अयोध्या पूरा के राजा श्री रघुनाथ जी को हिंदी में रखे हुए नगर में प्रवेश करके सब काम कीजिए उसके लिए विष अमृत हो जाता है शत्रु मित्र करने लगते हैं समुंदर गाय के खुर के बराबर हो जाता है अग्नि में शीतलता आ जाती हैMatlab Hai Ki Ayodhya Pura Ke Raja Shri Raghunath Ji Ko Hindi Mein Rakhe Hue Nagar Mein Pravesh Karke Sab Kaam Kijiye Uske Liye Vish Amrit Ho Jata Hai Shatru Mitra Karne Lagte Hain Samundar Gaay Ke Khur Ke Barabar Ho Jata Hai Agni Mein Shitalata Aa Jati Hai
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Pravish Nagar Kijiye Sab Kaazaa Hriday Rakhi Kaushalpur Raja Ka Arth Bataye ?,Tell The Meaning Of The Famous King Kejai Sab Kaza Heart Rakhi Kaushalpur Raja?,क़ज़ा का अर्थ, Prabisi Nagar Kije Sab Kaja,


vokalandroid