आरक्षण पर अपनी राय दीजिए? ...

मेरे अनुसार आरक्षण कोई बुरी चीज नहीं है लेकिन आरक्षण का जो आधार बने वह सही होना चाहिए क्योंकि जब पहले आरक्षण दिया गया था तो वह जातिवाद पर इसलिए था क्योंकि इन लोगों को उत्पीड़न और शोषण से सहना पड़ा था प्रकाश के लोगों की वजह से नीची जाति वालों लोगों को जैसे SC ST दलित या फिर ओबीसी लोगों को इसी आरक्षण को दिया गया था लेकिन आज के समय में यह चीजें काफी कम देखने को मिलती है और जो दलित है या फिर sc st के लोग हैं उन लोगों ने भी अपने आप को एक अच्छी जगह पर लाकर खड़ा कर लिया है अपनी मेहनत से आरक्षण के प्रयोग से और सभी तरह से तो अब आरक्षण क्यों दिया जा रहा है वह उसका तोरे मायने बदलने चाहिए उसका आधार बदलना चाहिए और उन लोगों को आरक्षण दिया जाना चाहिए जो आज भी करीब हमारे देश में और उनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है क्योंकि आप हमारे देश में जो गरीबी है वही देश की डेवलपमेंट का एक बहुत बड़ा कारण बन रही है जिसकी वजह से डेवलपमेंट अच्छा नहीं हो पा रहा है और आज भी हमारे देश में सबसे ज्यादा गरीब लोग पाए जाते हैं तो मेरे हिसाब से अगर आप जाकर 21वीं सदी में आकर कर उन लोगों को आरक्षण दिया जाएगा जो आर्थिक रुप से स्ट्रांग नहीं तो ज्यादा अच्छा रहेगा और कहीं ना कहीं उन लोगों को बढ़ावा भी मिलेगा जिसकी वजह से वह अपनी आर्थिक स्थिति अच्छी कर पाएंगे और ऊपर उठकर आप आएंगे और फिर जाकर ही कहीं ना कहीं हमारे देश में एक डेवलपमेंट हो पाएगा अच्छी तरह से और पूरी तरह सेMere Anusar Aarakshan Koi Buri Cheez Nahi Hai Lekin Aarakshan Ka Jo Aadhar Bane Wah Sahi Hona Chahiye Kyonki Jab Pehle Aarakshan Diya Gaya Tha To Wah Jaatiwad Par Isliye Tha Kyonki In Logon Ko Utpidan Aur Shoshan Se Sahana Pada Tha Prakash Ke Logon Ki Wajah Se Nichi Jati Walon Logon Ko Jaise SC ST Dalit Ya Phir Obc Logon Ko Isi Aarakshan Ko Diya Gaya Tha Lekin Aaj Ke Samay Mein Yeh Cheezen Kafi Kum Dekhne Ko Milti Hai Aur Jo Dalit Hai Ya Phir Sc St Ke Log Hain Un Logon Ne Bhi Apne Aap Ko Ek Acchi Jagah Par Lakar Khada Kar Liya Hai Apni Mehnat Se Aarakshan Ke Prayog Se Aur Sabhi Tarah Se To Ab Aarakshan Kyun Diya Ja Raha Hai Wah Uska Tore Maayne Badalne Chahiye Uska Aadhar Badalna Chahiye Aur Un Logon Ko Aarakshan Diya Jana Chahiye Jo Aaj Bhi Karib Hamare Desh Mein Aur Unki Aarthik Sthiti Acchi Nahi Hai Kyonki Aap Hamare Desh Mein Jo Garibi Hai Wahi Desh Ki Development Ka Ek Bahut Bada Kaaran Ban Rahi Hai Jiski Wajah Se Development Accha Nahi Ho Pa Raha Hai Aur Aaj Bhi Hamare Desh Mein Sabse Jyada Garib Log Paye Jaate Hain To Mere Hisab Se Agar Aap Jaakar Vi Sadi Mein Aakar Kar Un Logon Ko Aarakshan Diya Jayega Jo Aarthik Roop Se Strong Nahi To Jyada Accha Rahega Aur Kahin Na Kahin Un Logon Ko Badhawa Bhi Milega Jiski Wajah Se Wah Apni Aarthik Sthiti Acchi Kar Paenge Aur Upar Uthakar Aap Aayenge Aur Phir Jaakar Hi Kahin Na Kahin Hamare Desh Mein Ek Development Ho Payega Acchi Tarah Se Aur Puri Tarah Se
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

क्या जनरल को आरक्षण मिलना अत्यंत जरूरी है? हां तो क्यों ना तो क्यों नहीं ...

मैं सोने की सभी जनरल केटेगरी को आरक्षण मिलना चाहिए आर्थिक व्यवस्था उनके लिए जरूरी है पंजाब में सरकार है उनकी तो अर्थव्यवस्था है अपना ध्यान दें और आरक्षण जातिगत के बजाय आप आर्थिक व्यवस्था के हिसाब से आजवाब पढ़िये
ques_icon

जनरल के लिए 10% आरक्षण लगाया गया है, उसके बारे मेंं जानना चाहते हैं, क्या यह सही है, क्योंकि अभी तक मांग हो रही थी कि जनरल आरक्षण को समाप्त करना चाहिए? ...

यह 10 परसेंट आरक्षण दिया गया स्वर्ण को दिया गया है और काफी अच्छा डिसीजन है मैं जब से क्योंकि लेकर आए थे तभी फायदेमंद होगा जब तक सही लोगों तक कैसे पहुंचा जाए तो कैसे पहुंचेगी जो लोग सही में पिछड़े हुए जवाब पढ़िये
ques_icon

भारतीय संविधान में किसी भी जाती का आरक्षण सिर्फ 10 साल के लिए था तो ऊसे खत्म करने के बजाए ऊसे क्यो बढाया?? ...

जी बिल्कुल सही कहा कि जब बी आर अंबेडकर ने की आरक्षण की बात रखी थी कॉन्स्टिट्यूशन के अंदर 210 साल के लिए रखी थी कि इतने सालों से जो न्यूनतम जाति के लोग हैं वह बहुत दबे कुचले आ रहे थे कि Facebook पर बैठजवाब पढ़िये
ques_icon

गुर्जर और 5 अन्य समुदायों को राजस्थान में 1% आरक्षण दिया गया है, इसके बारे में आपका क्या राय है? ...

देखो दोस्तों आज हमारे देश में सबसे बड़ा मुद्दा है वह रिजर्वेशन का ही है आरक्षण सबसे बड़ा शुरुआत किस देश के अंदर क्योंकि जो सरकार का पैरामीटर रिजर्वेशन देने का वह बहुत ही गलत है और दो जब रिजर्वेशन देश जवाब पढ़िये
ques_icon

क्यों ना हम सब मिलकर इसका विरोध करें और स्टूडेंट लाइफ से आरक्षण को खत्म करें बिल्कुल विद्यार्थी जीवन में आरक्षण एक बड़ा मुद्दा है आपकी इसमें क्या राय है? ...

बिल्कुल स्टूडेंट लाइफ से आरक्षण को खत्म करना चाहिए इस बात से मैं सहमत हूं क्योंकि मैं भी एक स्टूडेंट हूं मैं भी कंपटीशन की तैयारी करती हूं और इस बात को भलीभांति समझते क्योंकि जहां पर स्टूडेंट कोई भी कजवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आरक्षण जब हमारा देश आजाद हुआ था उस टाइम जो कि लोग हैं उनकी हालत काफी ज्यादा खराब थी तो यह डिसाइड हुआ था कुछ सालों बाद के आरक्षण दिया जा कर के लोगों को कुछ सालों तक लेकिन अब इस पर पॉलिटिक्स खेली जा रही है और ना ही आरक्षण के नियमों का अच्छे से फॉलो किया जा रहा है मेरे साथ से जहां तक मुझे लगता है आरक्षण अगर जीना ही है हमारी गवर्नमेंट को तो वह अर्थव्यवस्था के आधार पर आरक्षण देना कि जाति और कांच के आधार पर आरक्षण नहीं दे आपको तो पता ही है आरक्षण क्यों पर दंगे होने लगे हैं अब नहीं नहीं कम्युनिटी जॉब अच्छी है बैंक में और जो अच्छे खासे हैं वह भी अब डिमांड करती है पिछली बार जाट आंदोलन में कहीं काफी सारे हमले करें ताकि उनको आरक्षण मिले ऐसे ही महाराष्ट्र में हुआ तो अब यह दिन पर दिन बढ़ रहा है अगर कोई आरक्षण की आड़ में आना चाहता है यह बिल्कुल सही नहीं है धीरे-धीरे अगर सब्र वैसे करने लगेंगे तो बहुत ज्यादा दिक्कत हो जाएगी अब मेरा यह मानना है कि अब जो आरक्षण देना चाहिए वह अर्थव्यवस्था के आधार पर देना चाहिए खेसारी जातियों में क्लास में जो गरीब लोग हैं बोलो नहीं अच्छे से पढ़ पाते हैं और ना ही उनको कोई फैसिलिटी प्रोवाइड हो पाती है तो मेरे साथ से कि अब सिर्फ उन्हीं लोगों को आरक्षण मिलना चाहिए और एजुकेशन में मतलब जोश में आरक्षण नहीं देना चाहिए अगर आपको आरक्षण देना है तो आप जो गरीब लोग हैं उनकी पढ़ाई करवाने में हेल्प करें आप उनको उनकी जो फाइनेंसियल इंस्टिट्यूशन अच्छी नहीं है तो आप उनको पैसे की हेल्प करें ताकि वह अपनी पढ़ाई अच्छे से कर सके फिर उसके बाद 2 मिनट में काम खत्म होता है उसके बाद बच्चा अगर अपनी मेहनत करता है तो वह जॉब पा सकता है कि हमारे गवर्नमेंट जॉब में भी आरक्षण लगा रखा है तो क्या यह पार्सल रेडी हो गई आप बस एक गरीब बच्चे को इतनी स्टैंड कर कर के रख दीजिए ताकि वह अच्छे से अपने आप जॉब की तैयारी कर सके और पेपर क्वालीफाई कर सके थैंक यू
Romanized Version
आरक्षण जब हमारा देश आजाद हुआ था उस टाइम जो कि लोग हैं उनकी हालत काफी ज्यादा खराब थी तो यह डिसाइड हुआ था कुछ सालों बाद के आरक्षण दिया जा कर के लोगों को कुछ सालों तक लेकिन अब इस पर पॉलिटिक्स खेली जा रही है और ना ही आरक्षण के नियमों का अच्छे से फॉलो किया जा रहा है मेरे साथ से जहां तक मुझे लगता है आरक्षण अगर जीना ही है हमारी गवर्नमेंट को तो वह अर्थव्यवस्था के आधार पर आरक्षण देना कि जाति और कांच के आधार पर आरक्षण नहीं दे आपको तो पता ही है आरक्षण क्यों पर दंगे होने लगे हैं अब नहीं नहीं कम्युनिटी जॉब अच्छी है बैंक में और जो अच्छे खासे हैं वह भी अब डिमांड करती है पिछली बार जाट आंदोलन में कहीं काफी सारे हमले करें ताकि उनको आरक्षण मिले ऐसे ही महाराष्ट्र में हुआ तो अब यह दिन पर दिन बढ़ रहा है अगर कोई आरक्षण की आड़ में आना चाहता है यह बिल्कुल सही नहीं है धीरे-धीरे अगर सब्र वैसे करने लगेंगे तो बहुत ज्यादा दिक्कत हो जाएगी अब मेरा यह मानना है कि अब जो आरक्षण देना चाहिए वह अर्थव्यवस्था के आधार पर देना चाहिए खेसारी जातियों में क्लास में जो गरीब लोग हैं बोलो नहीं अच्छे से पढ़ पाते हैं और ना ही उनको कोई फैसिलिटी प्रोवाइड हो पाती है तो मेरे साथ से कि अब सिर्फ उन्हीं लोगों को आरक्षण मिलना चाहिए और एजुकेशन में मतलब जोश में आरक्षण नहीं देना चाहिए अगर आपको आरक्षण देना है तो आप जो गरीब लोग हैं उनकी पढ़ाई करवाने में हेल्प करें आप उनको उनकी जो फाइनेंसियल इंस्टिट्यूशन अच्छी नहीं है तो आप उनको पैसे की हेल्प करें ताकि वह अपनी पढ़ाई अच्छे से कर सके फिर उसके बाद 2 मिनट में काम खत्म होता है उसके बाद बच्चा अगर अपनी मेहनत करता है तो वह जॉब पा सकता है कि हमारे गवर्नमेंट जॉब में भी आरक्षण लगा रखा है तो क्या यह पार्सल रेडी हो गई आप बस एक गरीब बच्चे को इतनी स्टैंड कर कर के रख दीजिए ताकि वह अच्छे से अपने आप जॉब की तैयारी कर सके और पेपर क्वालीफाई कर सके थैंक यूAarakshan Jab Hamara Desh Azad Hua Tha Us Time Jo Ki Log Hain Unki Halat Kafi Jyada Kharab Thi To Yeh Decide Hua Tha Kuch Salon Baad Ke Aarakshan Diya Ja Kar Ke Logon Ko Kuch Salon Tak Lekin Ab Is Par Politics Kheli Ja Rahi Hai Aur Na Hi Aarakshan Ke Niyamon Ka Acche Se Follow Kiya Ja Raha Hai Mere Saath Se Jahan Tak Mujhe Lagta Hai Aarakshan Agar Jeena Hi Hai Hamari Government Ko To Wah Arthavyavastha Ke Aadhar Par Aarakshan Dena Ki Jati Aur Kanch Ke Aadhar Par Aarakshan Nahi De Aapko To Pata Hi Hai Aarakshan Kyun Par Denge Hone Lage Hain Ab Nahi Nahi Community Job Acchi Hai Bank Mein Aur Jo Acche Khase Hain Wah Bhi Ab Demand Karti Hai Pichali Baar Jaat Aandolan Mein Kahin Kafi Sare Hamle Karen Taki Unko Aarakshan Mile Aise Hi Maharashtra Mein Hua To Ab Yeh Din Par Din Badh Raha Hai Agar Koi Aarakshan Ki Ad Mein Aana Chahta Hai Yeh Bilkul Sahi Nahi Hai Dhire Dhire Agar Subra Waise Karne Lagenge To Bahut Jyada Dikkat Ho Jayegi Ab Mera Yeh Manana Hai Ki Ab Jo Aarakshan Dena Chahiye Wah Arthavyavastha Ke Aadhar Par Dena Chahiye Khesari Jaatiyo Mein Class Mein Jo Garib Log Hain Bolo Nahi Acche Se Padh Paate Hain Aur Na Hi Unko Koi Facility Provide Ho Pati Hai To Mere Saath Se Ki Ab Sirf Unhin Logon Ko Aarakshan Milna Chahiye Aur Education Mein Matlab Josh Mein Aarakshan Nahi Dena Chahiye Agar Aapko Aarakshan Dena Hai To Aap Jo Garib Log Hain Unki Padhai Karwane Mein Help Karen Aap Unko Unki Jo Financial Instityushan Acchi Nahi Hai To Aap Unko Paise Ki Help Karen Taki Wah Apni Padhai Acche Se Kar Sake Phir Uske Baad 2 Minute Mein Kaam Khatam Hota Hai Uske Baad Baccha Agar Apni Mehnat Karta Hai To Wah Job Pa Sakta Hai Ki Hamare Government Job Mein Bhi Aarakshan Laga Rakha Hai To Kya Yeh Parcel Ready Ho Gayi Aap Bus Ek Garib Bacche Ko Itni Stand Kar Kar Ke Rakh Dijiye Taki Wah Acche Se Apne Aap Job Ki Taiyari Kar Sake Aur Paper Qualify Kar Sake Thank You
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Aarakshan Par Apni Rai Dijiye,Give Your Opinion On Reservation?,


vokalandroid