अगर आपको कोई प्रताड़ित करे तो उसके साथ क्या करना चाहिए माफ करना चाहिए छोड़ देना चाहिए ? ...

Likes  0  Dislikes

4 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
देखिए अंग्रेजी में कहावत है आई 4 गेम बट नॉट फॉरगेट इसका मतलब होता है कि मैं माफ तो कर देता हूं लेकिन मैं बोलता नहीं हूं मुझे लगता है कोई आप को प्रताड़ित करता है परेशान करता है तो कानून के हिसाब से जरूर सजा मिलनी चाहिए क्योंकि कानून सबके लिए बराबर है कानून के साथ सजा मिलनी ही चाहिए उसके अलावा मुझे लगता नहीं कि ऑप्शन है लेकिन आप पर्सनली बात करना चाहते हैं तो आप मुझसे माफ कर ही देते हैं कोई दिक्कत नहीं है लेकिन उसी को भूल ही मत आप माफ कर दीजिए लेकिन भूलिए मत की चतुराई वाला काम है कि आपने माफ कर दिया लेकिन फिर से उसे विश्वास कर ले तो परेशानी है मत कीजिए और कोई भी नहीं करता इस समय जमाने में जो करता है वह परेशान रहता है आई 4जी बट नॉट फॉरगेट यह छोटी सी फ्रिज का मतलब यही है कि आप माफ कर दीजिए क्योंकि आपका दिल बड़ा है आप उसके स्तर पर नहीं कर सकते कि उसने आपके साथ जो किया वह आप करें कानून के सबसे जो भी हो रहा होने दीजिए और उन्हें माफ कर दीजिए कानून करवाई जो होगी वह होगी लेकिन उस पर उस व्यक्ति पर दोबारा विश्वास मत की उसके लिए कोई ऐसा काम मत कीजिए जो जो अच्छा हो आप भूल जाइए उसमें ठीक है एक जस्टिन स्कूल जाएगी वह कि आपकी लाइफ में कोई इंपॉर्टेंट रखता है या वह की हैवी 125 करो कि देश की जनता है आप एक व्यक्ति को भूल जाएंगे तो कुछ नहीं मतलब सागर में से एक बूंद कम होने के बराबर है मुझे लगता इंपॉर्टेंट देना खत्म कर दीजिए और इंदौर कीजिए बात खत्म धन्यवादDekhie Angrezi Mein Kahaavat Hai Eye 4 Game But Not Farget Iska Matlab Hota Hai Ki Main Maaf To Kar Deta Hoon Lekin Main Bolta Nahi Hoon Mujhe Lagta Hai Koi Aap Ko Pratadit Karta Hai Pareshan Karta Hai To Kanoon Ke Hisab Se Jarur Saja Milani Chahiye Kyonki Kanoon Sabke Liye Barabar Hai Kanoon Ke Saath Saja Milani Hi Chahiye Uske Alava Mujhe Lagta Nahi Ki Option Hai Lekin Aap Personally Baat Karna Chahte Hain To Aap Mujhse Maaf Kar Hi Dete Hain Koi Dikkat Nahi Hai Lekin Ussi Ko Bhul Hi Mat Aap Maaf Kar Dijiye Lekin Bhuliye Mat Ki Chaturaai Wala Kaam Hai Ki Aapne Maaf Kar Diya Lekin Phir Se Use Vishwas Kar Le To Pareshani Hai Mat Kijiye Aur Koi Bhi Nahi Karta Is Samay Jamaane Mein Jo Karta Hai Wah Pareshan Rehta Hai Eye Ji But Not Farget Yeh Choti Si Fridge Ka Matlab Yahi Hai Ki Aap Maaf Kar Dijiye Kyonki Aapka Dil Bada Hai Aap Uske Sthar Par Nahi Kar Sakte Ki Usne Aapke Saath Jo Kiya Wah Aap Karen Kanoon Ke Sabse Jo Bhi Ho Raha Hone Dijiye Aur Unhen Maaf Kar Dijiye Kanoon Karwai Jo Hogi Wah Hogi Lekin Us Par Us Vyakti Par Dobara Vishwas Mat Ki Uske Liye Koi Aisa Kaam Mat Kijiye Jo Jo Accha Ho Aap Bhul Jaiye Usamen Theek Hai Ek Justin School Jayegi Wah Ki Aapki Life Mein Koi Important Rakhta Hai Ya Wah Ki Heavy 125 Karo Ki Desh Ki Janta Hai Aap Ek Vyakti Ko Bhul Jaenge To Kuch Nahi Matlab Sagar Mein Se Ek Boond Kam Hone Ke Barabar Hai Mujhe Lagta Important Dena Khatam Kar Dijiye Aur Indore Kijiye Baat Khatam Dhanyavad
Likes  25  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
देखिए कुछ चीजों के लिए माफी मांग मानी जा सकती है और दीव जा सकती है पर कुछ चीजें ऐसी होती है चीन का खात्मा माफी पर नहीं होता अगर आपको कोई प्रताड़ित करें तो यह आपका हक है कि आप उस इंसान के खिलाफ कोई ना कोई ऑप्शन है अब जाएं आप पुलिस से मदद ले आप कोर्ट से मदद ले पर आप उसे माफ नहीं कर सकता अगर आपको कोई प्रताड़ित कर रहा है तो एक बार क्या वह सकता कि दोबारा के साथ करें और यह जानकर कि क्या आप माफ कर देने वाला प्रवृत्ति के हो सकता है कि आपके साथ को दोबारा ऐसा करें इसलिए अपने आप को सुरक्षित करने के लिए अपने हकों को सुरक्षित करें अपने सारे हक का पूर्ण रूप से इस्तेमाल करें और प्रताड़ना जैसी चीजें इन सब को भारत सरकार काफी उनकी कड़ी निंदा करती है और इसके लिए काफी सारे नियम बनाए हैं और अगर आप महिला हैं तो आपके पास तो और भी ज्यादा पावर है इन सब चीजों में आप तुरंत जाकर महिला हेल्पलाइन में शिकायत कर सकती हैं अगर आपको तू पुरुषों के लिए भी काफी सारी हेल्पलाइन है अब जाएं आप मदद ले पर इन सब चीजों के लिए माफी मांग मेरे हिसाब से अगर मैं आपके जगह होती तो मेरे साथ बिल्कुल माफ ना करतीDekhie Kuch Chijon Ke Liye Maafi Maang Maani Ja Sakti Hai Aur Diw Ja Sakti Hai Par Kuch Cheezen Aisi Hoti Hai Chin Ka Khatma Maafi Par Nahi Hota Agar Aapko Koi Pratadit Karen To Yeh Aapka Haq Hai Ki Aap Us Insaan Ke Khilaf Koi Na Koi Option Hai Ab Jayen Aap Police Se Madad Le Aap Court Se Madad Le Par Aap Use Maaf Nahi Kar Sakta Agar Aapko Koi Pratadit Kar Raha Hai To Ek Bar Kya Wah Sakta Ki Dobara Ke Saath Karen Aur Yeh Jaankar Ki Kya Aap Maaf Kar Dene Wala Pravritti Ke Ho Sakta Hai Ki Aapke Saath Ko Dobara Aisa Karen Isliye Apne Aap Ko Surakshit Karne Ke Liye Apne Hakon Ko Surakshit Karen Apne Sare Haq Ka Poorn Roop Se Istemal Karen Aur Prataadana Jaisi Cheezen In Sab Ko Bharat Sarkar Kafi Unki Kadi Ninda Karti Hai Aur Iske Liye Kafi Sare Niyam Banaye Hain Aur Agar Aap Mahila Hain To Aapke Paas To Aur Bhi Jyada Power Hai In Sab Chijon Mein Aap Turant Jaakar Mahila Helpline Mein Shikayat Kar Sakti Hain Agar Aapko Tu Purushon Ke Liye Bhi Kafi Saree Helpline Hai Ab Jayen Aap Madad Le Par In Sab Chijon Ke Liye Maafi Maang Mere Hisab Se Agar Main Aapke Jagah Hoti To Mere Saath Bilkul Maaf Na Karti
Likes  5  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
बोला जाता है कि जिन लोगों का दिल बड़ा होता है वह लोग आसानी से किसी को माफ कर देते हैं लेकिन मैं नहीं मानती कि बस कि यह बताने के लिए कि हमारा दिल बड़ा है हम किसी को इतना आसानी से माफ कर दे तुझे अगर हमें कोई इंसान ऐसे सताता है हमें इतना प्रॉब्लम्स देता है तो इसका मतलब यह नहीं कि वह जगह में आकर हम से माफी मांगे बाद में हम उसको इस आसानी से माफ कर दें ठीक है माफी कर देनी चाहिए लेकिन इतना आसानी से माफी नहीं करना चाहिए लेकिन मैं यह भी बोल क्योंकि अगर कोई इंसान ने इतना बड़ा कुछ हमारे साथ गलत नहीं किया है तो ठीक है लेकिन कोई ऑफिस से बड़ा कोई बड़ा ऐसा कुछ किया है जो हम बोल नहीं सकते और उसको माफी के लायक कोई नहीं है तो माफ़ नहीं करना चाहिए उसको सजा दिलवाना चाहिए तो वही कि वह आपका ऑफिस में कैसे आप को कितना सताया है कितना तक का उसका लिमिट है तो उसके हिसाब से आप अपने डिसाइड कर सकते हो कि आपको उसको माफ कर चाहिए या नहीं करना चाहिए लेकिन मैं इतना बोलती हूं कि अगर हम एक इंसान को माफ करेंगे तो वह इंसान ठीक है ऐसे ही सोचेगा बाद में अगर कोई दूसरा इंसान हमारे साथ गलती करने से पहले नहीं सोचा क्योंकि वह भी यही सोचेगा कि अचरोल अभी हमारा टाइम है अपना टाइम पर किसी को सता लेती है बाद में माफी मांगने के सब प्रॉब्लम सॉल्व हो जाएगी ऐसा नहीं होना चाहिए नहीं तो हमारी भी हम लोग जो भी है इंसान है कि हर इंसान का सिम चालू होना चाहिए हम सब मिल जुल के रहना चाहिए ना कि ऐसे ही कि कोई किसी को सताया झगड़ा करें और फिर बाद में आकर माफी मांगी और हम माफ करे ऐसा कुछ नहीं होना चाहिए मतलब की एक मिसाल अंडरस्टेंडिंग में अपना जिंदगी गुजारना चाहिए और हम सबको मिल जुलकर रहना चाहिएBola Jata Hai Ki Jin Logon Ka Dil Bada Hota Hai Wah Log Aasani Se Kisi Ko Maaf Kar Dete Hain Lekin Main Nahi Maanati Ki Bus Ki Yeh Batane Ke Liye Ki Hamara Dil Bada Hai Hum Kisi Ko Itna Aasani Se Maaf Kar De Tujhe Agar Hume Koi Insaan Aise Sataata Hai Hume Itna Problem Deta Hai To Iska Matlab Yeh Nahi Ki Wah Jagah Mein Aakar Hum Se Maafi Mange Baad Mein Hum Usko Is Aasani Se Maaf Kar Dein Theek Hai Maafi Kar Deni Chahiye Lekin Itna Aasani Se Maafi Nahi Karna Chahiye Lekin Main Yeh Bhi Bol Kyonki Agar Koi Insaan Ne Itna Bada Kuch Hamare Saath Galat Nahi Kiya Hai To Theek Hai Lekin Koi Office Se Bada Koi Bada Aisa Kuch Kiya Hai Jo Hum Bol Nahi Sakte Aur Usko Maafi Ke Layak Koi Nahi Hai To Maaf Nahi Karna Chahiye Usko Saja Dilwana Chahiye To Wahi Ki Wah Aapka Office Mein Kaise Aap Ko Kitna Sataaya Hai Kitna Tak Ka Uska Limit Hai To Uske Hisab Se Aap Apne Decide Kar Sakte Ho Ki Aapko Usko Maaf Kar Chahiye Ya Nahi Karna Chahiye Lekin Main Itna Bolti Hoon Ki Agar Hum Ek Insaan Ko Maaf Karenge To Wah Insaan Theek Hai Aise Hi Sochega Baad Mein Agar Koi Doosra Insaan Hamare Saath Galti Karne Se Pehle Nahi Socha Kyonki Wah Bhi Yahi Sochega Ki Achrol Abhi Hamara Time Hai Apna Time Par Kisi Ko Sataa Leti Hai Baad Mein Maafi Mangane Ke Sab Problem Solve Ho Jayegi Aisa Nahi Hona Chahiye Nahi To Hamari Bhi Hum Log Jo Bhi Hai Insaan Hai Ki Har Insaan Ka Sim Chalu Hona Chahiye Hum Sab Mil Jul Ke Rehna Chahiye Na Ki Aise Hi Ki Koi Kisi Ko Sataaya Jhagda Karen Aur Phir Baad Mein Aakar Maafi Maangi Aur Hum Maaf Kare Aisa Kuch Nahi Hona Chahiye Matlab Ki Ek Misal Andarastending Mein Apna Zindagi Gujarana Chahiye Aur Hum Sabko Mil Zulker Rehna Chahiye
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions


More Answers


वैसे अगर आप प्रताड़ित करने वाले को माफ भी कर देते हैं तो शायद वह अपनी गलतियों को और बढ़ावा दें तो एक बार आपको उसको सजा देनी जरूरी है क्योंकि अगर आप उसे सजा नहीं रहेंगे तो शायद उसको अपनी गलतियों का एहसास भी ना हो पछतावा ना हो तो सजा देना भी जरूरी है और माफी भी जरूरी है और छोड़ देना भी जरूरी सब अपनी अपनी जगह ठीक ही है तो यह आपके ऊपर डिपेंड करता है कि आप उसको माफ करना चाहते हैं सजा देना चाहते हैं या उसको छोड़ना चाहते हैं अगर आपकी निगाह में वह बहुत ज्यादा गलत नहीं है बहुत ज्यादा नहीं इतना नहीं हुआ अगर वह सुधर सकता है तो आपसे माफी कर माफी दे सकते हैं और अगर आपको ऐसा लगता है कि नहीं वह बहुत ही खराब इंसान है मुझे प्रताड़ित कर रहा है या फिर कुछ भी तो आप सजा भी दे सकते हैं

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

Romanized Version

वैसे अगर आप प्रताड़ित करने वाले को माफ भी कर देते हैं तो शायद वह अपनी गलतियों को और बढ़ावा दें तो एक बार आपको उसको सजा देनी जरूरी है क्योंकि अगर आप उसे सजा नहीं रहेंगे तो शायद उसको अपनी गलतियों का एहसास भी ना हो पछतावा ना हो तो सजा देना भी जरूरी है और माफी भी जरूरी है और छोड़ देना भी जरूरी सब अपनी अपनी जगह ठीक ही है तो यह आपके ऊपर डिपेंड करता है कि आप उसको माफ करना चाहते हैं सजा देना चाहते हैं या उसको छोड़ना चाहते हैं अगर आपकी निगाह में वह बहुत ज्यादा गलत नहीं है बहुत ज्यादा नहीं इतना नहीं हुआ अगर वह सुधर सकता है तो आपसे माफी कर माफी दे सकते हैं और अगर आपको ऐसा लगता है कि नहीं वह बहुत ही खराब इंसान है मुझे प्रताड़ित कर रहा है या फिर कुछ भी तो आप सजा भी दे सकते हैंWaise Agar Aap Pratadit Karne Wale Ko Maaf Bhi Kar Dete Hain To Shayad Wah Apni Galatiyon Ko Aur Badhawa Dein To Ek Bar Aapko Usko Saja Deni Zaroori Hai Kyonki Agar Aap Use Saja Nahi Rahenge To Shayad Usko Apni Galatiyon Ka Ehsaas Bhi Na Ho Pachtava Na Ho To Saja Dena Bhi Zaroori Hai Aur Maafi Bhi Zaroori Hai Aur Chod Dena Bhi Zaroori Sab Apni Apni Jagah Theek Hi Hai To Yeh Aapke Upar Depend Karta Hai Ki Aap Usko Maaf Karna Chahte Hain Saja Dena Chahte Hain Ya Usko Chodna Chahte Hain Agar Aapki Nigah Mein Wah Bahut Jyada Galat Nahi Hai Bahut Jyada Nahi Itna Nahi Hua Agar Wah Sudhar Sakta Hai To Aapse Maafi Kar Maafi De Sakte Hain Aur Agar Aapko Aisa Lagta Hai Ki Nahi Wah Bahut Hi Kharab Insaan Hai Mujhe Pratadit Kar Raha Hai Ya Phir Kuch Bhi To Aap Saja Bhi De Sakte Hain
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

हां जी नमस्कार आपने जैसा कि पूछा कि अगर आपको कोई प्रताड़ित कर रहे तो उसके साथ क्या करना चाहिए माफ करना चाहिए छोड़ देना चाहिए हां आपने इसमें एक शब्द क्या है प्रताड़ित करें प्रताड़ित करने का मतलब यह होता है वह जानबूझकर आपको प्रताड़ना दे रहा है जानबूझकर आपको तकलीफ दे रहा है आपको क्षति पहुंचाने की कोशिश की जा रही है और इस विषय में जैसा कि हम आज कल देख रहे हैं जगह जगह पर बहुत सारी आजकल नहीं हो रहे हैं बहुत सारे रेप हो रहे हैं और बहुत सारी हमारी पिया गतिविधियां बढ़ती जा रही हैं तो ऐसी स्थिति में जिसे आप पूछ रहे हैं अगर हम उस विषय गांधीवादी विचारधारा को अपनाने की माफ कर देना चाहिए तो मेरे ख्याल से पूरे समाज के लिए बहुत ही नुकसानदायक रहेगा है ना तो उन को माफ़ नहीं करना चाहिए क्योंकि माफी करते-करते ही तो हम यहां तक पहुंच गए हैं है ना अगर हम माफ कर दे चले जाएंगे तो वह जो सत्य है और ज्यादा प्रबल होती चली जाएगी क्योंकि उनके वह प्रताड़ित ही इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उनके अंदर इंसानियत है ही नहीं अगर हम उनको माफ करते चले गए करते चले गए तो और ज्यादा प्रबल हो जाएंगे और हमारे ऊपर इतनी हावी हो जाएंगे कि आने वाले समय में हम तो हमारे पास इतनी काबिल है तो भी नहीं होगी कि हम को दंड दे सके मतलब कि आने वाले समय अभी हमारे पास इतनी क्षमता है कि हम को दंड दे सकते हैं और हमारे छोड़ सकते हैं लेकिन आने वाले समय में उनको छोड़ देना हमारी मजबूरी हो जाएगी इसलिए उनको माफ करना इस दृष्टिकोण से सही नहीं है यह मेरा मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण कहता है उनको छोड़ना नहीं चाहिए उनके ऊपर कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए या कुछ शक्ति का प्रयोग करना चाहिए यह जो भी कुछ उसके लिए उपयुक्त हो जो भी बेहतर हो उनके ऊपर कार्रवाई करनी चाहिए नमस्कार

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

Romanized Version

हां जी नमस्कार आपने जैसा कि पूछा कि अगर आपको कोई प्रताड़ित कर रहे तो उसके साथ क्या करना चाहिए माफ करना चाहिए छोड़ देना चाहिए हां आपने इसमें एक शब्द क्या है प्रताड़ित करें प्रताड़ित करने का मतलब यह होता है वह जानबूझकर आपको प्रताड़ना दे रहा है जानबूझकर आपको तकलीफ दे रहा है आपको क्षति पहुंचाने की कोशिश की जा रही है और इस विषय में जैसा कि हम आज कल देख रहे हैं जगह जगह पर बहुत सारी आजकल नहीं हो रहे हैं बहुत सारे रेप हो रहे हैं और बहुत सारी हमारी पिया गतिविधियां बढ़ती जा रही हैं तो ऐसी स्थिति में जिसे आप पूछ रहे हैं अगर हम उस विषय गांधीवादी विचारधारा को अपनाने की माफ कर देना चाहिए तो मेरे ख्याल से पूरे समाज के लिए बहुत ही नुकसानदायक रहेगा है ना तो उन को माफ़ नहीं करना चाहिए क्योंकि माफी करते-करते ही तो हम यहां तक पहुंच गए हैं है ना अगर हम माफ कर दे चले जाएंगे तो वह जो सत्य है और ज्यादा प्रबल होती चली जाएगी क्योंकि उनके वह प्रताड़ित ही इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उनके अंदर इंसानियत है ही नहीं अगर हम उनको माफ करते चले गए करते चले गए तो और ज्यादा प्रबल हो जाएंगे और हमारे ऊपर इतनी हावी हो जाएंगे कि आने वाले समय में हम तो हमारे पास इतनी काबिल है तो भी नहीं होगी कि हम को दंड दे सके मतलब कि आने वाले समय अभी हमारे पास इतनी क्षमता है कि हम को दंड दे सकते हैं और हमारे छोड़ सकते हैं लेकिन आने वाले समय में उनको छोड़ देना हमारी मजबूरी हो जाएगी इसलिए उनको माफ करना इस दृष्टिकोण से सही नहीं है यह मेरा मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण कहता है उनको छोड़ना नहीं चाहिए उनके ऊपर कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए या कुछ शक्ति का प्रयोग करना चाहिए यह जो भी कुछ उसके लिए उपयुक्त हो जो भी बेहतर हो उनके ऊपर कार्रवाई करनी चाहिए नमस्कारHaan Ji Namaskar Aapne Jaisa Ki Poocha Ki Agar Aapko Koi Pratadit Kar Rahe To Uske Saath Kya Karna Chahiye Maaf Karna Chahiye Chod Dena Chahiye Haan Aapne Isme Ek Shabdh Kya Hai Pratadit Karen Pratadit Karne Ka Matlab Yeh Hota Hai Wah Janbujhkar Aapko Prataadana De Raha Hai Janbujhkar Aapko Takleef De Raha Hai Aapko Kshati Pahunchane Ki Koshish Ki Ja Rahi Hai Aur Is Vishay Mein Jaisa Ki Hum Aaj Kal Dekh Rahe Hain Jagah Jagah Par Bahut Saree Aajkal Nahi Ho Rahe Hain Bahut Sare Rape Ho Rahe Hain Aur Bahut Saree Hamari Piya Gatividhiyan Badhti Ja Rahi Hain To Aisi Sthiti Mein Jise Aap Pooch Rahe Hain Agar Hum Us Vishay Gandhiwaadi Vichardhara Ko Apnane Ki Maaf Kar Dena Chahiye To Mere Khayal Se Poore Samaaj Ke Liye Bahut Hi Nukasanadayak Rahega Hai Na To Un Ko Maaf Nahi Karna Chahiye Kyonki Maafi Karte Karte Hi To Hum Yahan Tak Pahunch Gaye Hain Hai Na Agar Hum Maaf Kar De Chale Jaenge To Wah Jo Satya Hai Aur Jyada Prabal Hoti Chali Jayegi Kyonki Unke Wah Pratadit Hi Isliye Kar Rahe Hain Kyonki Unke Andar Insaniyat Hai Hi Nahi Agar Hum Unko Maaf Karte Chale Gaye Karte Chale Gaye To Aur Jyada Prabal Ho Jaenge Aur Hamare Upar Itni Havi Ho Jaenge Ki Aane Wale Samay Mein Hum To Hamare Paas Itni Kaabil Hai To Bhi Nahi Hogi Ki Hum Ko Dand De Sake Matlab Ki Aane Wale Samay Abhi Hamare Paas Itni Kshamta Hai Ki Hum Ko Dand De Sakte Hain Aur Hamare Chod Sakte Hain Lekin Aane Wale Samay Mein Unko Chod Dena Hamari Majburi Ho Jayegi Isliye Unko Maaf Karna Is Drishtikon Se Sahi Nahi Hai Yeh Mera Manovaigyanik Drishtikon Kahata Hai Unko Chodna Nahi Chahiye Unke Upar Kanooni Karyawahi Karni Chahiye Ya Kuch Shakti Ka Prayog Karna Chahiye Yeh Jo Bhi Kuch Uske Liye Upayukt Ho Jo Bhi Behtar Ho Unke Upar Karyawahi Karni Chahiye Namaskar
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

क्या आपने जो एक सिचुएशन नहीं है यह अगर हमें कोई प्रताड़ित करें तो हमें क्या करना चाहिए माफिया छोड़ देना चाहिए सबसे पहले तो हमें अपने आपको इतना स्ट्रांग बनाना है कि हमें कोई प्यार नहीं कर सकते हमारा कोई फायदा ना उठा सके हमें कोई भी झंडा कर सके हमारे साथ जो चाहे वह मुताबिक नहीं कर सके इसलिए सबसे पहले हमें खुद में इतना स्ट्रांग होना चाहिए दूसरा हमेशा सामने वाले को मौका नहीं देना चाहिए क्या वह खड़े होकर प्रताड़ित कर के चला जाए अगर आप इस तरीके का मौका दे रहे हैं आप हमें सबसे पहले तो आपको अपने अंदर कमी करनी चाहिए क्योंकि सामने वाले इंसान को तो हर तरीके का इंसान से दुनिया भर में सामना होगा तो उसको तो कब तक करेक्ट करते रहेंगे तो ऐसी घटनाओं से बचने के लिए अपने आप को पहले इस मुकाम तक पहुंचाइए अपने आप को इस लेवल पर खड़ा कीजिए कि आपको कोई भी कुछ भी कह कर चला ना जाए और आप कोई चुपचाप सुन ना ले कई बार ऐसा मौका होता है लोग गुस्से में बहुत कुछ कह जाते हैं और बाद में होने वाला ही रोता है हमने गलती करी और माफी मांगते हैं तो ऐसे मौकों पर हमें समझना चाहिए कि वास्तविकता में क्या वह प्रशिक्षित करना चाह रहा है वास्तविकता में वह अपने लिए खेद प्रकट कर रहा है तो ऐसी मौके पर हमें उसको समझा कर कि भाई वह गलत काम किया तो तुमने इससे बुरा लगा ठेस पहुंची हमें माफ कर देना चाहिए लेकिन अगर आप यह समझ गए कि आप मतलब कि अभी भी गलत धारणा से कर रहा है यह प्रताड़ित करें तो बिल्कुल भी उचित नहीं होता है सबसे पहले से बात बढ़ती है कि आप कुछ कहेंगे बेशक आप सुना देंगे खुशी महसूस करेंगे लेकिन 10 दिन बाद वह कुछ और कहेगा बात बढ़ती जाती है खत्म नहीं होती है आज के टाइम में कोई भी गाना सुनना पसंद नहीं करता है कोई दूसरे को अपने ऊपर हावी होना पसंद नहीं करता तो इसलिए अगर आप किसी भी इंसान को सुनाएंगे बात बढ़ेगी तो माफ करने का ऑप्शन है या इग्नोर करना बेस्ट ऑप्शन होता है

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

Romanized Version

क्या आपने जो एक सिचुएशन नहीं है यह अगर हमें कोई प्रताड़ित करें तो हमें क्या करना चाहिए माफिया छोड़ देना चाहिए सबसे पहले तो हमें अपने आपको इतना स्ट्रांग बनाना है कि हमें कोई प्यार नहीं कर सकते हमारा कोई फायदा ना उठा सके हमें कोई भी झंडा कर सके हमारे साथ जो चाहे वह मुताबिक नहीं कर सके इसलिए सबसे पहले हमें खुद में इतना स्ट्रांग होना चाहिए दूसरा हमेशा सामने वाले को मौका नहीं देना चाहिए क्या वह खड़े होकर प्रताड़ित कर के चला जाए अगर आप इस तरीके का मौका दे रहे हैं आप हमें सबसे पहले तो आपको अपने अंदर कमी करनी चाहिए क्योंकि सामने वाले इंसान को तो हर तरीके का इंसान से दुनिया भर में सामना होगा तो उसको तो कब तक करेक्ट करते रहेंगे तो ऐसी घटनाओं से बचने के लिए अपने आप को पहले इस मुकाम तक पहुंचाइए अपने आप को इस लेवल पर खड़ा कीजिए कि आपको कोई भी कुछ भी कह कर चला ना जाए और आप कोई चुपचाप सुन ना ले कई बार ऐसा मौका होता है लोग गुस्से में बहुत कुछ कह जाते हैं और बाद में होने वाला ही रोता है हमने गलती करी और माफी मांगते हैं तो ऐसे मौकों पर हमें समझना चाहिए कि वास्तविकता में क्या वह प्रशिक्षित करना चाह रहा है वास्तविकता में वह अपने लिए खेद प्रकट कर रहा है तो ऐसी मौके पर हमें उसको समझा कर कि भाई वह गलत काम किया तो तुमने इससे बुरा लगा ठेस पहुंची हमें माफ कर देना चाहिए लेकिन अगर आप यह समझ गए कि आप मतलब कि अभी भी गलत धारणा से कर रहा है यह प्रताड़ित करें तो बिल्कुल भी उचित नहीं होता है सबसे पहले से बात बढ़ती है कि आप कुछ कहेंगे बेशक आप सुना देंगे खुशी महसूस करेंगे लेकिन 10 दिन बाद वह कुछ और कहेगा बात बढ़ती जाती है खत्म नहीं होती है आज के टाइम में कोई भी गाना सुनना पसंद नहीं करता है कोई दूसरे को अपने ऊपर हावी होना पसंद नहीं करता तो इसलिए अगर आप किसी भी इंसान को सुनाएंगे बात बढ़ेगी तो माफ करने का ऑप्शन है या इग्नोर करना बेस्ट ऑप्शन होता हैKya Aapne Jo Ek Situation Nahi Hai Yeh Agar Hume Koi Pratadit Karen To Hume Kya Karna Chahiye Mafia Chod Dena Chahiye Sabse Pehle To Hume Apne Aapko Itna Strong Banana Hai Ki Hume Koi Pyar Nahi Kar Sakte Hamara Koi Fayda Na Utha Sake Hume Koi Bhi Jhanda Kar Sake Hamare Saath Jo Chahe Wah Mutabik Nahi Kar Sake Isliye Sabse Pehle Hume Khud Mein Itna Strong Hona Chahiye Doosra Hamesha Samane Wale Ko Mauka Nahi Dena Chahiye Kya Wah Khade Hokar Pratadit Kar Ke Chala Jaye Agar Aap Is Tarike Ka Mauka De Rahe Hain Aap Hume Sabse Pehle To Aapko Apne Andar Kami Karni Chahiye Kyonki Samane Wale Insaan Ko To Har Tarike Ka Insaan Se Duniya Bhar Mein Samana Hoga To Usko To Kab Tak Correct Karte Rahenge To Aisi Ghatnaon Se Bachane Ke Liye Apne Aap Ko Pehle Is Mukam Tak Pahunchaiye Apne Aap Ko Is Level Par Khada Kijiye Ki Aapko Koi Bhi Kuch Bhi Keh Kar Chala Na Jaye Aur Aap Koi Chupchap Sun Na Le Kai Bar Aisa Mauka Hota Hai Log Gusse Mein Bahut Kuch Keh Jaate Hain Aur Baad Mein Hone Wala Hi Rota Hai Humne Galti Kari Aur Maafi Mangate Hain To Aise Maukon Par Hume Samajhna Chahiye Ki Vastavikta Mein Kya Wah Prashikshit Karna Chah Raha Hai Vastavikta Mein Wah Apne Liye Khed Prakat Kar Raha Hai To Aisi Mauke Par Hume Usko Samjha Kar Ki Bhai Wah Galat Kaam Kiya To Tumne Isse Bura Laga Thes Pahunchi Hume Maaf Kar Dena Chahiye Lekin Agar Aap Yeh Samajh Gaye Ki Aap Matlab Ki Abhi Bhi Galat Dharan Se Kar Raha Hai Yeh Pratadit Karen To Bilkul Bhi Uchit Nahi Hota Hai Sabse Pehle Se Baat Badhti Hai Ki Aap Kuch Kahenge Beshak Aap Suna Denge Khushi Mahsus Karenge Lekin 10 Din Baad Wah Kuch Aur Kahega Baat Badhti Jati Hai Khatam Nahi Hoti Hai Aaj Ke Time Mein Koi Bhi Gaana Sunana Pasand Nahi Karta Hai Koi Dusre Ko Apne Upar Havi Hona Pasand Nahi Karta To Isliye Agar Aap Kisi Bhi Insaan Ko Sunaenge Baat Badhegi To Maaf Karne Ka Option Hai Ya Ignore Karna Best Option Hota Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Agar Aapko Koi Pratadit Kare To Uske Saath Kya Karna Chahiye Maaf Karna Chahiye Chod Dena Chahiye ?, Pratadit Karna





मन में है सवाल?