क्या बढ़ती हुई जनसंख्या बेरोजगारी के लिए जिम्मेदार नहीं है ? ...

Likes  0  Dislikes

3 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
बेरोजगारी बढ़ने के लिए बहुत सारी तत्व जिम्मेदार होता है उसमें से बढ़ती जनसंख्या सर्वाधिक जिम्मेदार है इसी वजह से हमारे यहां बेरोजगारी दर बढ़ती जा रही है क्योंकि जितने दर से हमारी जनसंख्या बढ़ रही है उसके अनुसार रोजगार पैदा करना किसी भी गवर्नमेंट के लिए बहुत ही मुश्किल है यदि वह जनसंख्या बढ़ोतरी में लगाओ लगता है तो हमारे यहां बेरोजगारी कम होगीBerojgari Badhne Ke Liye Bahut Saree Tatva Zimmedar Hota Hai Usamen Se Badhti Jansankhya Sarvadhik Zimmedar Hai Isi Wajah Se Hamare Yahan Berojgari Dar Badhti Ja Rahi Hai Kyonki Jitne Dar Se Hamari Jansankhya Badh Rahi Hai Uske Anusar Rojgar Paida Karna Kisi Bhi Government Ke Liye Bahut Hi Mushkil Hai Yadi Wah Jansankhya Badhotari Mein Lagao Lagta Hai To Hamare Yahan Berojgari Kum Hogi
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

Additional options appears here!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
हमारे देश में बेरोजगारी के लिए सबसे बड़ी चीज जिसे हम जिम्मेदार ठहरा सकते हैं वह बढ़ती हुई जनसंख्या ही है और जितना पॉपुलेशन वर्ल्ड इस देश की बढ़ रही है उस हिसाब से जो रोजगार है उसके पहुंचने की सोच के लोगों द्वारा करने की अपॉर्चुनिटी इस कम होती जा रही हैं और आजकल तो हम देख रहे हैं कि पढ़े लिखे लोगों के पास भी रोजगार नहीं है वह लोग भी खाली घूम रहे हैं उसके कारण यह है कि हमारे देश में कितनी कंपनी से इतनी जगह पर रोजगार की जगह नहीं है जितनी लोग हमारे देश में और जब उनको रोजगार के लिए कुछ नहीं मिलता तो उनकी जीवनशैली भी बहुत खराब हो जाती है लोग अच्छे से अपना जिंदगी नहीं जी पाते हैं और कहीं ना कहीं इस वजह से हमारे देश को और देश को गरीबी से नहीं पड़ रही है और जो लोग गरीब है वह और भी गरीब होते जा रहे हैं और इसी वजह से शायद हमारे देश में जो सबसे ज्यादा गरीब लोगों की जनसंख्या है वह हमारे देश की ही है और रोजगार ना होने का क्या कारण है जनसंख्या को कंट्रोल करने के लिए गवर्नमेंट को कुछ रोज बनाने चाहिए इसकी वजह से ज्यादा तो जनसंख्या में रूरल एरिया इसमें ज्यादा मिलती है क्योंकि आप पढ़े लिखे लोग इस बात को समझ चुके कि हमारे देश की जनसंख्या ज्यादा है तो वह इस वजह से जनसंख्या ज्यादा नहीं बनाते हैं परंतु रूरल एरियाज मैं आपको अभी भी एक परिवार में एक का दांपत्य जीवन में रहने वाले लोगों के बहुत सारे बच्चे देखने को मिलेंगे जो कि एक तरफ से जनसंख्या बढ़ाने का ही काम कर रहे हैं तो सरकार को कुछ रूल्स रेगुलेशन बनाने चाहिए जिससे जनसंख्या कम हो पाए तभी जाकर सारे लोग आराम से अपना रोजगार ढूंढ कर उसे कर पाएंगेHamare Desh Mein Berojgari Ke Liye Sabse Badi Cheez Jise Hum Zimmedar Thahara Sakte Hain Wah Badhti Hui Jansankhya Hi Hai Aur Jitna Population World Is Desh Ki Badh Rahi Hai Us Hisab Se Jo Rojgar Hai Uske Pahuchne Ki Soch Ke Logon Dwara Karne Ki Opportunity Is Kum Hoti Ja Rahi Hain Aur Aajkal To Hum Dekh Rahe Hain Ki Padhe Likhe Logon Ke Paas Bhi Rojgar Nahi Hai Wah Log Bhi Khaali Ghum Rahe Hain Uske Kaaran Yeh Hai Ki Hamare Desh Mein Kitni Company Se Itni Jagah Par Rojgar Ki Jagah Nahi Hai Jitni Log Hamare Desh Mein Aur Jab Unko Rojgar Ke Liye Kuch Nahi Milta To Unki Jiwanshailee Bhi Bahut Kharab Ho Jati Hai Log Acche Se Apna Zindagi Nahi Ji Paate Hain Aur Kahin Na Kahin Is Wajah Se Hamare Desh Ko Aur Desh Ko Garibi Se Nahi Padh Rahi Hai Aur Jo Log Garib Hai Wah Aur Bhi Garib Hote Ja Rahe Hain Aur Isi Wajah Se Shayad Hamare Desh Mein Jo Sabse Jyada Garib Logon Ki Jansankhya Hai Wah Hamare Desh Ki Hi Hai Aur Rojgar Na Hone Ka Kya Kaaran Hai Jansankhya Ko Control Karne Ke Liye Government Ko Kuch Roj Banane Chahiye Iski Wajah Se Jyada To Jansankhya Mein Rural Area Isme Jyada Milti Hai Kyonki Aap Padhe Likhe Log Is Baat Ko Samajh Chuke Ki Hamare Desh Ki Jansankhya Jyada Hai To Wah Is Wajah Se Jansankhya Jyada Nahi Banate Hain Parantu Rural Areas Main Aapko Abhi Bhi Ek Parivar Mein Ek Ka Danpatya Jeevan Mein Rehne Wale Logon Ke Bahut Sare Bacche Dekhne Ko Milenge Jo Ki Ek Taraf Se Jansankhya Badhane Ka Hi Kaam Kar Rahe Hain To Sarkar Ko Kuch Rules Regulation Banane Chahiye Jisse Jansankhya Kum Ho Paye Tabhi Jaakar Sare Log Aaram Se Apna Rojgar Dhundh Kar Use Kar Paenge
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
जी बिल्कुल बढ़ती हुई लोकसंख्या जो है वह बेरोजगारी के लिए जिम्मेदार है और बढ़ती लोकसंख्या की वजह से ही जो है दिन-ब-दिन बेरोजगारी भी बढ़ती जा रही है तो मुझे लगता है कि अगर हम जो बढ़ती लोकसंख्या उस पर कुछ प्रकार से अगर रोक लगाए तो हम तो हैं बेरोजगारी को भी कम कर सकते हैं और गरीबी को भी कम कर सकते हैंJi Bilkul Badhti Hui Loksankhya Jo Hai Wah Berojgari Ke Liye Zimmedar Hai Aur Badhti Loksankhya Ki Wajah Se Hi Jo Hai Din B Din Berojgari Bhi Badhti Ja Rahi Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Agar Hum Jo Badhti Loksankhya Us Par Kuch Prakar Se Agar Rok Lagaye To Hum To Hain Berojgari Ko Bhi Kum Kar Sakte Hain Aur Garibi Ko Bhi Kum Kar Sakte Hain
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya Badhti Hui Jansankhya Berojgari Ke Liye Zimmedar Nahi Hai ?, Badhti Hui Jansankhya





मन में है सवाल?