mAadhaar क्या है?

Share this question
WhatsApp_icon

1 Answers


यदि आप अपने मोबाइल फोन में अपना ई-आधार कार्ड लेना चाहते हैं, तो आपको अपने फोन में mAadhaar App  download करना होगा। मोबाइल आधार को एरपोर्ट के साथ-साथ भारतीय रेलवे द्वारा वैध आईडी प्रूफ़ के रूप में स्वीकार किया जाता है। कोई यूज़र ऐप इंस्टॉल करके और अपने स्मार्टफ़ोन में ऐप दिखाने के लिए अपना पासवर्ड डालकर इसको पेश कर सकता है। यह तभी किया जा सकता है जब आपका मोबाइल नंबर आधार कार्ड के साथ रेजिस्टर किया हुआ हो।

mAadhaar का उपयोग कैसे करें?

जब उपयोगकर्ता इंस्टॉलेशन के बाद अपने फोन पर पहली बार mAadhaar खोलता है, तो ऐप आपको एक यूनीक पासवर्ड बनाने के लिए कहता है। यह पासवर्ड आपके आधार कार्ड की सुरक्षा सुनिश्चित करता है। उपयोगकर्ता को ८–१२ अक्षरों का पासवर्ड डालना होगा जिसमें कम से कम 1 डिजिट, 1 वर्णमाला, 1 विशेष वर्ण जैसे @ या _, और कैपिटल लेटर में 1 वर्णमाला होना चाहिए, उदाहरण के लिए - Alok_12345।

mAadhaar पर आधार प्रोफाइल केवल तभी download किया जा सकता है जब आपके पास अपने आधार कार्ड से मोबाइल नंबर लिंक किया गया है। mAadhaar ऐप अपने आप से ओटीपी पढ़ता है और आपको OTP अलग से डालने की ज़रूरत नहीं होती है। इंटरनेट कनेक्टिविटी के बिना, आप यूआईडीएआई द्वारा इशू किया गया किसी भी डेटा को डाउनलोड करने में सक्षम नहीं होंगे।

एक आधार प्रोफाइल एक समय में केवल एक मोबाइल डिवाइस पर सक्रिय हो सकता है। यदि आप सिम डालने के द्वारा किसी अन्य डिवाइस पर एक और प्रोफ़ाइल बनाते हैं, तो पिछली प्रोफ़ाइल निष्क्रिय हो जाएगी और जब भी उस डिवाइस से किसी भी ऑपरेशन का प्रयास किया जाता है तो पुराने डिवाइस से हटा दिया जाएगा।

यदि आपके परिवार के किसी अन्य सदस्य के पास उनके आधार के साथ रेजिस्टर्ड एक ही मोबाइल नंबर है, तो यूआईडीएआई के अनुसार, उसकी प्रोफ़ाइल उसी डिवाइस पर भी लोड की जा सकती है।

उपयोगकर्ता डिवाइस पर अधिकतम तीन प्रोफाइल तभी जोड़ सकता है जब सभी अपने आधार में एक ही मोबाइल नंबर को लिंक किया हो।

बॉयोमीट्रिक लॉकिंग / अनलॉकिंग: यह सुविधा उपयोगकर्ता को बायोमेट्रिक्स डेटा लॉक करके अपने बॉयोमीट्रिक प्रमाण को सुरक्षित करने में सहायता करता है।

971 listens . 21 upvotesShare this answer
WhatsApp_icon