follow
Ashima Jain 

Ashima Jain

Architect in making.

Architecture = passion. Blogger. I write to express.

0

Followers

0

Followings

129

Upvotes

हम चाहे जितनी बार स्वयं को यह समझाए कि क्रोध करना अच्छा नहीं है फिर भी जब ये भावना उठती है हम इसे संभाल नहीं पाते हैं । हमें सिर्फ इतना बताया गया है कि क्रोध नहीं करना चाहिए पर यह नहीं कि यदि क्रोध आये तो क्या करें । आपने यह ध्यान दिया होगा कि हम चाहे जितना खुद को समझाए कि क्रोध करना ठीक नहीं है पर जब क्रोध आता है तो हम इसे नियंत्रित करने में खुद को असमर्थ पाते हैं। पूरे बचपन में हम यही सीखते रहे कि क्रोध नहीं करना चाहिए लेकिन यह प्रश्न कि ''क्रोध को नियंत्रित कैसे करे'' ज्यों का त्यों बना हुआ है । जब यह भावनाओं का गुबार फूटता है, तब हम क्या करें ? चलिए क्रोध के मूल कारणों को समझते हैं और कुछ सुझाव कि इसे कैसे संभालें
Romanized Version
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
15 अगस्त 1947 को भारतवर्ष हिन्दुस्तान तथा पाकिस्तान दो हिस्सों में बंटकर स्वतंत्र हो गया। लोग मानते हैं कि ब्रिटेन की छलपूर्ण नीति, मुस्लिम लीग की फूटनीति, भारतीय जनता में दृढ़ता और सामर्थ्य का अभाव, कांग्रेस की गै र- जिम्मेदारीपूर्ण भूमिका व अवसर के प्रति अचेत रहना और गांधीजी की अहिंसा के कारण देश का विभाजन सही नहीं हुआ।
Romanized Version
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
भारत और पाकिस्तान के बीच जम्मू और कश्मीर राज्य पर अधिकार के लिये बँटवारे के समय से ही विवाद चल रहा है। १९४७ में भारत-पाकिस्तान के बीच प्रथम युद्ध भी कश्मीर के लिये ही हुआ था। इस लड़ाई की शुरूआत पाकिस्तान ने अपने सैनिकों को घुसपैठियों के रूप में भेज कर इस उम्मीद में की थी कि कश्मीर की जनता भारत के खिलाफ विद्रोह कर देगा। इस अभियान का नाम पाकिस्तान ने युद्धभियान जिब्राल्टर रखा था। पांच महीने तक चलने वाले इस युद्ध में दोनों पक्षों के हजारों लोग मारे गये। इस युद्ध का अंत संयुक्त राष्ट्र के द्वारा युद्ध विराम की घोषणा के साथ हुआ और ताशकंद में दोनों पक्षों में समझौता हुआ।
Romanized Version
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
इंडिया गेट सन् १९३१ में बनाया गया था। मूल रूप से अखिल भारतीय युद्ध स्मारक के रूप में जाने वाले इस स्मारक का निर्माण अंग्रेज शासकों द्वारा उन ९०००० भारतीय सैनिकों की स्मृति में किया गया था जो ब्रिटिश सेना में भर्ती होकर प्रथम विश्वयुद्ध और अफ़ग़ान युद्धों में शहीद हुए थे। यूनाइटेड किंगडम के कुछ सैनिकों और अधिकारियों सहित 13,300 सैनिकों के नाम, गेट पर उत्कीर्ण हैं।
Romanized Version
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
भारत और पाकिस्तान के बीच चलने वाले यह युद्ध तभी खत्म होंगे जब कश्मीर का बटवारा हो जाएगा और जब दोनों मुल्क आपस में प्रेम बनाकर रहने का फैसला कर लेंगे ।भले ही है होना मुश्किल है पर अगर कोशिश की जाए तो ऐसा हो सकता है और दोनों मुल्कों में शांति बनी रह सकती है।
Romanized Version
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
महाद्वीप अक्सर एक बहुत ही सटीक परिभाषा के बजाय, सम्मेलन का विषय होता है। आमतौर पर उन्हें परिभाषित किया जाता है: 1.एक बड़ा भूमिगत 2.यह स्पष्ट रूप से एक या अधिक भौगोलिक घटनाओं द्वारा निर्धारित किया गया है; उदाहरण के लिए, उत्तरी अमेरिका प्रशांत और अटलांटिक से घिरा हुआ है, जबकि यूरोप के पूर्व में इसका पूर्व और काला सागर के पूर्व में पूर्वी सागर से इसे एशिया से अलग कर दिया गया है। भारतीय उपमहाद्वीप उन दोनों मानदंडों को पूरा करता हैं। चीन एक विशाल क्षेत्र होने की पहली आवश्यकताओं को पूरा करता है लेकिन चीन दूसरी आवश्यकता को पूरा नहीं करता है। क्योंकि चीन में भारत जैसी प्राकृतिक सीमाएं नहीं हैं। चीन आसानी से विशाल रूस के साथ मिश्रण करता है जो चीन से बहुत बड़ा है।
Romanized Version
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
जिन देशों का पूरा भूमिमार्ग भारतीय उपमहाद्वीप में आता है: बांग्लादेश भूटान नेपाल मालदीव श्री लंका उपमहाद्वीप के बाहर उनके दावा किए गए क्षेत्र के केवल अंश वाले देश हैं: R.o.India पाकिस्तान उपमहाद्वीप में केवल एक मामूली राशि वाले देश हैं: म्यांमार अफ़ग़ानिस्तान
Romanized Version
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
एक महाद्वीप को एक बड़े भूमिगत के रूप में परिभाषित किया जाता है। एक महाद्वीप महाद्वीप से छोटा एक और बड़ा भूमिमार्ग हो सकता है। महाद्वीप को परिभाषित करने के तरीके से एक उप महाद्वीप थोड़ा अलग होना चाहिए और इसीलिए इसे 'सब' महाद्वीप कहा जाता है। विशेष रूप से, एक उप महाद्वीप को महाद्वीप का हिस्सा माना जाता है लेकिन भौगोलिक रूप से एक अलग भूमि के रूप में दिखाई देता है और इसे अलग से शासित किया जाता है। इस संदर्भ में भारत एक सबसे बड़ा भूमिमार्ग है जो श्रीलंका, पाकिस्तान, नेपाल, भूटान और कई अन्य छोटे देशों और आसपास के द्वीपों जैसे अन्य देशों के साथ अलग-अलग मौजूद है। इसलिए इसे भारतीय उप महाद्वीप कहा जाता है।
Romanized Version
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon